ताज़ा ख़बर

मोदी का विकास दिल्ली और बिहार के बाद यूपी में भी होगा फेल!

* दो वर्ष की उपलब्धियां गिनाने के लिए ‘परिवर्तन यात्रा’ के नाम से सौ दिन की रथयात्रा निकालेगी बीजेपी  
 ---------
* यूपी की आम जनता को प्रभावित करने के लिए भाजपा के पास कोई भी अहम मुद्दा नहीः रोहित शुक्ला 

नई दिल्ली। भाजपा यूपी को जीतने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी तथा उनके विकास कार्यों पर ही ध्यािन दे रही है। पार्टी 100 दिन की रथ यात्रा परिवर्तन यात्रा के नाम से शुरु करने जा रही है। उत्तर प्रदेश में होने वाले आगामी विधानसभा चुनाव के लिए यह रथ यात्रा पूरे प्रदेश में निकाली जाएगी। इस यात्रा का मुख्य उद्देश्य मोदी सरकार की पिछले दो साल की उपलब्धियों को लोगों तक पहुंचाना है। भाजपा के सूत्रों ने कहा कि हालांकि अभी इसकी अवधि तय नहीं की गई है। झांसी में इसके कार्यक्रम की घोषणा की जा सकती है। संभव है कि यह अगस्त से सितंबर के बीच निकाली जाए। यात्रा के जरिए प्रदेश के सभी 403 विधानसभा सीटों तक पहुंचने का प्रयास किया जाएगा। भाजपा यूपी में परिवर्तन यात्रा के जरिए बदलाव लाना चाहती है। भाजपा ने इसके लिए 15 पार्टी कार्यकर्ताओं को नियुक्त किया है जो इस यात्रा का नेतृत्व करेंगे। उधर, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रोहित शुक्ला ने बताया कि केन्द्र सरकार चाहे कुछ भी कर ले दो वर्ष में उसकी कोई भी उल्लेखनीय उपलब्धि नहीं है, जिससे यूपी की जनता प्रभावित हो सके। भाजपा दिल्लील और बिहार के चुनाव पीएम मोदी के विकास कार्यों के बल पर जीतना चाही। लेकिन कामयाब नहीं हो सकी। यूपी में भी वह खुलकर आने की बजाए मोदी के चेहरे का ही सहारा ले रही है। विपक्षी दलों का मानना है कि मुख्यममंत्री का चेहरा पेश करते हुए स्थाानीय विकास पर जोर देने के साथ ही यूपी की जंग जीती जा सकेगी। भाजपा अपनी पुरानी रणनीति में कही दोबारा गच्चाा न खा जाए। भाजपा सूत्रों के अनुसार यह यात्रा प्रदेश के चार कोनों से शुरु होगी और यह वहीं खत्म होगी जहां से यह शुरु हुई है। यात्रा में मोदी के विकास को जोरदार ढंग से प्रदर्शित किया जाएगा। इस यात्रा का रूट एक दूसरे के रास्ते में नहीं पड़ेगा और पूरे राज्य को कवर करेगा। यात्रा के जरिए सपा की असफलताओं को गिनाया जाएगा। लोगों को दोनों पार्टियों के बीच का अंतर समझाया जाएगा। यात्रा में हर संसदीय क्षेत्र में एक दिन गुजारा जाएगा और लोगों को संबोधित किया जाएगा। इस यात्रा में बड़ी संख्या में वाहन हिस्सा लेंगे, लेकिन जो वाहन इस यात्रा की अगुवाई करेगा, उसका आकार रथ की तरह होगा। जिस पर परिवर्तन यात्रा लिखा होगा। इसके अलावा भाजपा वैन में लोगों को पीएम मोदी के भाषण को भी सुनायेगी। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व राजनीतिक रणनीतिकार रोहित शुक्ला कहते हैं कि दो वर्षों में केन्द्र की मोदी सरकार ने जो कुछ भी किया है, वह सबको पता है। उन्होंने कहा कि अपने विदेश भ्रमण और महंगाई बढ़ाने के अलावा प्रधानमंत्री यूपी को लोगों को और क्या बताएंगे। यूपी की जनता के रग-रग में कांग्रेस दौड़ रही है। बहुत जल्द सभी गैर कांग्रेसी दलों को पता चल जाएगा कि ’27 साल यूपी बदहाल’ क्या गुल खिलाने वाला है।  
यूपी भाजपा अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ के प्रमुख का इस्तीफा 
भाजपा को यूपी में एक और झटका लगा है। पार्टी के अनुसूचित जाति मोर्चा के राज्यच प्रभारी, दीप चंद राम ने पार्टी के सभी पदों से इस्ती फा दे दिया है। उन्हों ने दावा किया कि उन्हें गुजरात में ‘अत्याचार की घटनाओं’ तथा दयाशंकर सिंह द्वारा मायावती की वेश्या से तुलना किए जाने के बाद पार्टी में ‘घुटन’ महसूस हो रही थी। एक दलित नेता के तौर पर राम भाजपा की राज्य कार्यकारिणी के सदस्य‍ थे। उन्हों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी इस संबंध में पत्र लिखा था। राम ने यह कदम ऐसे समय उठाया है जब भाजपा दयाशंकर और गुजरात में दलितों पर अत्यादचार को लेकर संसद से लेकर सड़क तक घिरी हुई है। भाजपा के एससी मोर्चा के उपाध्याक्ष, गौतम चौधरी ने दावा किया कि राम ने निजी मकसद से भाजपा ज्वाइन की थी। दीप चंद राम ने कहा कि मैंने भाजपा के सभी पदों से इस्तीेफा दिया। मैंने एक मेमारेंडम के जरिए सीधे प्रधानमंत्री को संदेश भेजा है, जिसमें मैंने दलितों द्वारा झेले जा रहे मुद्दों पर उनका ध्या्न खींचने की कोशिश की थी। उन्होंने धमकी दी कि अगर दयाशंकर गिरफ्तार नहीं होते तो वह अपने समर्थकों के साथ प्रदर्शन करेंगे। राम ने कहा कि उन्हों ने 2013 में भाजपा इसलिए ज्वाइन की थी क्योंककि उन्हें उम्मीद थी कि अगर मोदी सत्ता‍ में आएंगे तो देश में समभाव का माहौल बनेगा और उनकी सरकार दलितों के लिए काम करेगी। उन्हों ने पूछा कि मायावती एक दलित के तौर पर सम्मासन की प्रतीक हैं। अगर कोई भाजपा नेता उनके खिलाफ आपत्तिजनक बयान देता है, तो मेरे जैसे दलित नेता का पार्टी में क्या सम्मान होगा?
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: मोदी का विकास दिल्ली और बिहार के बाद यूपी में भी होगा फेल! Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल