ताज़ा ख़बर

तहसीन पूनावाला का स्मृति ईरानी से सवाल, ‘प्रॉस्टिट्यूशन एजेंसी क्यों रिट्वीट कर रही पीएम मोदी का ट्वीट?’

राहुल गांधी की 'लोकप्रियता' पर स्मृति के ‘फालतू’ सवाल से बवाल
नई दिल्ली। इन दिनों ट्विटर वर्ल्ड में पॉलिटिकल वॉर चल रहा है। ट्विटर पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की बढ़ती लोकप्रियता पर जहां केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने तंज कसा है और लिखा है कि राहुल रूस, इंडोनेशिया और कजाकिस्तान में चुनाव जीतने की तैयारी कर रहे हैं। वहीं स्मृति पर कांग्रेस समर्थक और देश के चर्चित राजनीतिक विश्लेषक तहसीन पूनावाला ने सवालिया लहजे में करारा हमला बोला है। पूनावाला ने स्मृति ईरानी को टैग करते हुए पूछा है कि पीएम नरेंद्र मोदी के ट्वीट को ‘प्रॉस्टिट्यूशन एजेंसी’ क्यों रिट्वीट कर रही है। दरअसल, हाल ही में खबर आई थी कि पिछले कुछ सप्ताह में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ट्विटर पर बेहद लोकप्रिय हो गये हैं। राहुल के कुछ ट्वीट्स को सबसे ज्यादा लोगों ने रिट्वीट किया है। राहुल ने इस मामले में पीएम नरेंद्र मोदी और अरविंद केजरीवाल को भी पीछे छोड़ दिया है। हालांकि समाचार एजेंसी एएनआई ने एक रिपोर्ट जारी कर आशंका जताई है कि राहुल के ट्वीट्स के इतने ज्यादा रिट्वीट्स होने के पीछे ‘बॉट्स’ हो सकते हैं। बॉट्स, ऐसे कम्प्यूटर अप्लीकेशन या सॉफ्टवेयर हैं जो ऑटोमैटिक ढंग से बताये गये टास्क को पूरा करते हैं। राहुल के ट्वीट्स को रिट्वीट करने में बॉट्स की भूमिका की आशंका इसलिए भी जताई जा रही है क्योंकि उनके कई ट्वीट्स कजाकिस्तान, रूस और इंडोनेशिया के लोकेशन से रिट्वीट हुए हैं। इस बात को लेकर केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी पर निशाना साधा है। इन्हीं खबरों के आधार पर स्मृति ने कहा है कि लगता है राहुल गांधी अब कजाकिस्तान, रूस, इंडोनेशिया में चुनाव जीतने की तैयारी कर रहे हैं। स्मृति ने लिखा, ‘शायद ऑफिस ऑफ आरजी रूस, इंडोनेशिया और कजाकिस्तान में चुनाव जीतने की तैयारी कर रहे है।’ एनएनआई के मुताबिक राहुल गांधी के ट्वीट को रिट्वीट करने वाले कई ट्विटर हैंडर विदेशी हैं। राहुल गांधी के ट्वीट को कजाकिस्तान, रूस और इंडोनेशिया में रिट्वीट किया जा रहा है। पूनावाला के समर्थन में और स्मृति ईरानी के ट्वीट के खिलाफ कई कांग्रेस समर्थकों ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। कांग्रेस की सोशल मीडिया का प्रभार देख रही कन्नड़ अभिनेत्री और नेता दिव्या स्पंदन उर्फ राम्या ने स्मृति ईरानी को लिखा है कि हमें उनकी जरूरत क्यों पड़ेगी, जब आप हों? दूसरे ट्वीट में राम्या ने लिखा है, “स्टोरी तथ्यात्मक रूप से गलत है। मैं आपकी उत्सुकता और बोट्स जनता पार्टी की मजबूरी समझती हूं।” कई अन्य यूजर्स ने भी स्मृति पर तंज कसा है। साभार जनसत्ता  
राहुल गांधी की 'लोकप्रियता' पर स्मृति के ‘बेकार’ सवाल से बवाल
कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी के ट्विटर अकाउंट पर एएनआई की एक रिपोर्ट के हवाले से सवाल उठाया जा रहा है. एएनआई की इस रिपोर्ट को लेकर कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी के बीच बहस छिड़ गई है. उधर, कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि राहुल गांधी को निशाना बनाकर 'कहानी गढ़ी' जा रही है. एएनआई ने राहुल के एक ट्वीट को मिसाल के तौर पर पेश किया है. इसमें कहा गया है, ''15 अक्टूबर को 'OfficeofRG' ट्विटर हैंडल से अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप का एक ट्वीट रीट्वीट किया गया. ट्रंप ने अमरीका और पाकिस्तान के संबंधों की तारीफ़ की थी. 'OfficeofRG' ने ट्रंप के इस ट्वीट को रीट्वीट करते हुए लिखा था कि मोदी जी ट्रंप से एक और आलिंगन की ज़रूरत है. यह ट्वीट तत्काल ही 20 हज़ार बार रीट्वीट हो गया.'' केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने एएनआई की रिपोर्ट का हवाला देते हुए ट्वीट किया, ''शायद राहुल गांधी रूस, इंडोनेशिया और कज़ाखस्तान में चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं? भारतीय जनता पार्टी के आईटी सेल के प्रभारी अमित मालवीय ने भी के इस रिपोर्ट के आधार पर राहुल को निशाने पर लिया है. अमित मालवीय ने एक साथ कई ट्वीट किए हैं. अमित मालवीय ने एक और ट्वीट किया, ''बोट्स का इस्तेमाल खेल में डोपिंग की तरह है. यह मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर के लिए झटका है. राहुल गांधी का ट्विटर अकाउंट मज़ाक बन गया है.'' बीजेपी के इस हमले का कांग्रेस नेता शहज़ाद पूनावाला ने जवाब दिया है. एएनआई ने राहुल के ट्वीट में जैसा उदाहरण दिया है वैसा ही पूनावाला ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ट्वीट को रीट्वीट करने वालों को पेश किया है. पूनावाला ने भी मोदी के ट्वीट को रीट्वीट करने वाले कुछ ऐसे लोगों को सामने रखा है जिनके अकाउंट संदिग्ध मालूम पड़ते हैं. रेल मंत्री पीयूष गोयल ने भी इस मामले में राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए उन्हें फ़र्ज़ी युवराज कहा है. गोयल की इस टिप्पणी पर कांग्रेस प्रवक्ता संजय झा ने कहा कि रेल मंत्री ट्विटर गेम खेल रहे हैं और आम आदमी एक टिकट के लिए मोहताज है. संजय झा ने दूसरे ट्वीट में कहा है, ''एक ऊटपटांग और प्रायोजित रिपोर्ट का सहारा लेकर पूरी मोदी सरकार राहुल गांधी पर हमले में लगी है. बीजेपी, मुझे ऐसा क्यों लग रहा है कि आपके अंत की शुरुआत हो गई है?'' वहीं एक और कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने ट्वीट कर कहा, ''क्यों नहीं मोदी सरकार राहुल गांधी पर हमला करने के लिए एक पूर्णकालिक मंत्री बना देती है, ऐसे में दूसरे मंत्री अपना काम कर पाएंगे. साभार बीबीसी 
राजीव रंजन तिवारी (संपर्कः 8922002003)
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: तहसीन पूनावाला का स्मृति ईरानी से सवाल, ‘प्रॉस्टिट्यूशन एजेंसी क्यों रिट्वीट कर रही पीएम मोदी का ट्वीट?’ Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल