ताज़ा ख़बर

राम रहीम प्रकरण में 38 मौत से सरकार सतर्क, उपद्रवियों से निपटने के लिए प्लान तैयार

ये भी पढ़ेः बलात्कारी बाबा अपनी ही बेटी से बनाता था शारीरिक संबंध, बाबा के साथ दिखी लड़की का 'पूरा सच' 
नई दिल्ली। डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को कल यानी 28 अगस्त, 2017 को रोहतक जेल में ही वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए सजा सुनाई जाएगी. ऐसे में डेरा समर्थक फिर से हिंसा पर उतारू हो सकते हैं, किसी भी तरह के हालात से निपटने के लिए हरियाणा और पंजाब सरकार सतर्क है. सूत्रों के मुताबिक किसी भी अप्रिय घटना घटित होने से रोकने के लिए हरियाणा और पंजाब में सेना की 28 टुकड़ियां तैनात की गई हैं. सेना के इन टुकड़ियों को पंजाब के मुक्तसर, मन्सा जिलों और हरियाणा के सिरसा और पंचकूला में तैनात किया गया है. आर्मी के एक टुकड़ी में करीब 100 से 120 जवान होते हैं. इसके साथ-साथ किसी भी हालात से निपटने के लिए अर्धसैनिक बलों की 23 कंपनियां तैनात की गई हैं. वहीं पंचकूला, रोहतक, कैथल, अंबाला में सभी स्कूल और कॉलेज कल बंद रहेंगे. हरियाणा में कल सभी सरकारी दफ्तर भी बंद रहेंगे. रविवार को हरियाणा सरकार ने कहा कि बलात्कार के मामले में डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को दोषी ठहराए जाने के बाद भड़की हिंसा में मारे गए 38 लोगों में से 24 की पहचान कर ली गई है. एक आधिकारिक विज्ञाप्ति के मुताबिक जिन लोगों की पहचान की गई है, उनमें से 11-11 लोग पंजाब और हरियाणा और एक-एक मृतक राजस्थान और उत्तराखंड के हैं. इससे पहले हरियाणा के डीजीपी बीएस संधू ने बताया था कि हिंसा में 38 लोगों की मौत हो चुकी है, जिसमें 32 शव पंचकूला और 6 सिरसा के हैं. सिरसा में सभी शवों की पहचान कर अंतिम संस्कार किया जा चुका है. इस मामले में 52 केस दर्ज किए गए हैं और 926 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. सुरक्षा व्यवस्था को लेकर एनएसए अजित डोभाल ने आला अधिकारियों के साथ बैठक भी की है. हालात पर नजर रखने और समन्वय के लिए गृह मंत्रालय में कंट्रोल रूम बनाया गया है. वहीं पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सुरक्षा व्यवस्था सख्त होने का दावा किया है. हरियाणा के गृह विभाग ने 29 अगस्त सुबह साढ़े 11 बजे तक मोबाइल इंटरनेट, एसएमएस और सभी डॉन्गल सेवाओं को स्थगित करने का आदेश दिया है. हालांकि मोबाइल नेटवर्क में वॉयस कॉल पर कोई असर नहीं पड़ेगा. अंबाला में सेक्शन 144 आगे आदेश आने तक लागू रहेगा. वहीं कैंथल में मोबाइल इंटरनेट सेवा और बल्क मैसेज की सुविधा रोकी गई है. सिरसा स्थित डेरा सच्चा सौदा के परिसर में 29 अगस्त तक इंटरनेट सेवा रोक दी गई है. केंद्र सरकार और हरियाणा सरकार की कोशिश है कि सजा के ऐलान के बाद हिंसा और आगजनी ना हो. पीएम ने भी आज अपने रेडियो प्रोग्राम 'मन की बात ' में कहा कि गांधी और बुद्ध के देश में आस्था के नाम पर हिंसा को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता. सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने साध्वी यौन शोषण मामले में राम रहीम को दोषी करार दिया था, जिसके बाद हरियाणा और पंजाब समेत कई राज्यों में डेरा समर्थकों ने जमकर उत्पात मचाया था. ऐसे में राम रहीम को सजा सुनाए जाने के बाद डेरा समर्थक किसी तरह की हिंसा को अंजाम ना दे सकें, इसके लिए प्रशासन और सरकार सुरक्षा के कड़े इंतजाम का दावा कर रहे हैं. हरियाणा में हुई हिंसा नाराजगी जताते हुए पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट ने खट्टर सरकार को फटकार लगाई थी. कोर्ट का कहना था कि ऐसा लगा कि कोर्ट ने पहले ही सरेंडर कर दिया था.  
बलात्कारी बाबा अपनी ही बेटी से बनाता था शारीरिक संबंध 
2 साध्वियों के साथ बलात्कार के दोषी पाए गए गुरमीत बाबा राम रहीम के मुंहबोले दामाद विश्वास गुप्ता की मानें तो बाबा के अपनी मुंहबोली बेटी के साथ अवैध संबंध थे। विश्वास गुप्ता का आरोप है कि राम रहीम के उसकी पत्नी हनीप्रीत इंसा के साथ पहले से संबंध थे इसिलिए उन्होंने सबके सामने उसे अपनी मुंहबोली बेटी करार दिया ताकि वो अपने पाप को छुपा सकें। विश्वास गुप्ता ने ये आरोप इंडिया टीवी को दिये एख इंटरव्यू में लगाए थे। आपको बता दें कि राम रहीम पर सीबीआई कोर्ट द्वारा रेप का दोषी पाए जाने के बाद इस बात की चर्चा हो रही है कि उनकी मुंहबोली बेटी हनीप्रीत इंसा डेरा सच्चा सौदा की विरासत को सम्भालेगी। हनीप्रीत के चर्चा में आने के बाद इंडिया टीवी को दिये गए उनके पति विश्वास गुप्ता का बयान फिर से सुर्खियों में है। विश्वास गुप्ता ने 2011 में इंडिया टीवी को बताया कि मई 2011 को एक रात जब वह डेरे में बाबा की गुफा की तरफ गए तो जो देखा उसने उनकी जिंदगी बदल कर रख दी। विश्वास ने बताया कि बाबा के कमरे का दरवाजा गलती से खुला रह गया था। उसने जब अंदर झांका तो देखा कि बाबा उसकी पत्नी और अपनी मुंहबोली बेटी हनीप्रीत के साथ आपत्तिजनक अवस्था में थे। विश्वास गुप्ता के अनुसार 14 फरवरी 1999 को फतेहाबाद की प्रियंका से खुद बाबा राम रहीम ने उसकी शादी कराई। विश्वास का कहना है कि अगर बाबा गुरमीत राम रहीम मेरी पत्नी हनीप्रीत को बेटी मानते हैं तो फिर मुझे दूर क्यों रखते हैं। जब होटलों में बाबा जाते हैं तो मुझे बगल वाले कमरे में भेज दिया जाता था, जबकि मेरी पत्नी रात में बाबा के साथ रहती थी। बाबा मुंहबोली बेटी को दामाद के साथ रहने से क्यों रोकते हैं? विश्वास गुप्ता ने पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट में मुकदमा ठोंककर डेरा सच्चा सौदा प्रमुख के कब्जे से बीवी को मुक्त कराने की मांग भी की थी। जिस पर कोर्ट ने हरियाणा के डीजीपी को एक्शन का निर्देश दिया था।
बाबा के साथ दिखी लड़की का 'पूरा सच' 
हरियाणा के पंचकुला में सीबीआई कोर्ट के फ़ैसले में बलात्कारी ठहराए जाने के बाद गुरमीत राम रहीम के भक्तों ने बाबा से अपनी दूरी बनानी शुरू कर दी है. लेकिन इस फ़ैसले के बाद भी गुरमीत राम रहीम की कथित बेटी हनीप्रीत इंसान को बाबा के साथ देखा गया है. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो हनीप्रीत इंसान को गुरमीत राम रहीम के साथ सरकारी हेलिकॉप्टर पर देखा गया था. हरियाणा के डीजीपी बीएस संधु भी अपनी हालिया प्रेस कॉन्फ्रेंस में हनीप्रीत के बाबा के साथ जाने से जुड़े सवाल पर असहज दिखाई दिए. इंटरनेट से लेकर सोशल मीडिया पर राम रहीम सिंह की कथित बेटी के प्रभुत्व को लेकर चर्चा जारी है. गृह मंत्रालय की वेबसाइट पर मौजूद फाइल के मुताबिक, साल 2017 में हनीप्रीत समेत बाबा के तमाम भक्तों ने गृह मंत्रालय से बाबा गुरमीत राम रहीम सिंह को पद्म अवार्ड से सम्मानित करने की सिफ़ारिश की थी. हालांकि, सरकार ने इस पेशकश को ठुकरा दिया. हनीप्रीत इंसा अपनी वेबसाइट पर राम रहीम के ही अंदाज में डेरा की शरण में आने वालों की भरसक मदद करने का दावा करती हैं. वेबसाइट बताती है कि हनीप्रीत इंसान लोगों की मदद करने के लिए मेट्रो शहरों से लेकर जंगलों तक में जाने से नहीं झिझकती हैं. हनीप्रीत इंसा की आधिकारिक वेबसाइट कहती है, "हनीप्रीत ने किसी तरह की पेशेवर ट्रेनिंग नहीं ली है लेकिन वह पेशेवर अभिनेताओं के जैसी एक्टिंग करने में सक्षम हैं और ये सब गुरमीत राम रहीम सिंह की वजह से है." हनीप्रीत इंसान के डेरा सच्चा सौदा में कद को इस बात से समझा जा सकता है कि वह युवाओं को संगठन की ओर लाने का काम करती हैं. फ़ेसबुक पर लगभग पांच लाख लोग उन्हें लाइक और फॉलो करते हैं. हनीप्रीत इंसान के पति विश्वास गुप्ता ने डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम पर उनकी पत्नी को दूर रखने का आरोप लगाया था. इसके बाद हनीप्रीत सिंह ने विश्वास गुप्ता के ख़िलाफ़ दहेज उत्पीड़न का मामला दर्ज किया था. इसके बाद से हनीप्रीत डेरा मुख्यालय में ही रह रही हैं.
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: राम रहीम प्रकरण में 38 मौत से सरकार सतर्क, उपद्रवियों से निपटने के लिए प्लान तैयार Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल