ताज़ा ख़बर

मोदी पीएम बने तो भारत-पाक की शांति पर खतरा: पाकिस्तान

नई दिल्ली। दाऊद पर बीजेपी के पीएम उम्मीदवार नरेंद्र मोदी के बयान को लेकर पाकिस्तान ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। पाकिस्तान के गृह मंत्री चौधरी निसार अली खान ने कहा है कि मोदी पीएम बने तो भारत और पाकिस्तान के बीच शांति खतरे में होगी। मोदी के बयान को भड़काऊ और शर्मनाक बताया है। दाऊद को लेकर मोदी के बयान पर पाकिस्तान की ओर से आई प्रतिक्रिया का बीजेपी ने कड़ा विरोध किया है। बीजेपी की प्रवक्ता मीनाक्षी लेखी ने कहा है कि पाकिस्तान को भारत के अंदरूनी मामलों में दखल देने की जरूरत नही है। आपको बता दें कि भारत के मोस्ट वांटेड डॉन दाऊद इब्राहिम पर पहली बार बोले थे बीजेपी के पीएम पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी। दाऊद को भारत लाने के सवाल पर मोदी ने कहा था कि क्या उसे लाने से पहले अखबार में खबर देनी होगी। गुजराती चैनल संदेश न्यूज़ को दिए इंटरव्यू में मोदी ने कहा कि लादेन को पकड़ने के लिए क्या अमेरिका ने कोई प्रेस नोट जारी किया था? हालांकि मोदी ने ये तो वादा नहीं किया वह पाकिस्तान से दाऊद को लेकर आएंगे। लेकिन सवाल जरूर उठ रहे हैं कि अगर मोदी प्रधानमंत्री बने तो क्या दाऊद को वैसे ही हिंदुस्तान वापस लाएंगे जैसे लादेन के साथ अमेरिका ने किया था। दाऊद इब्राहिम ने जुर्म की दुनिया में कदम सत्तर के दशक के आखिर में रखा था। दाऊद इब्राहिम शुरुआत में हाजी मस्तान गैंग में भी था। बाद में दाऊद ने खुद का गैंग खड़ा कर लिया। शुरुआत में दाऊद सोने की तस्करी करता था लेकिन बाद में ड्रग्स, अपहरण, फिरौती और हवाला के कारोबार में भी वो उतर गया। अस्सी के दशक के आखिर में दाऊद पर जब मुंबई पुलिस का शिकंजा कसा तो वो मुंबई से दुबई भाग गया। दाऊद ने दुबई में डी कंपनी के नाम से कारोबार किया। 1993 बम ब्लास्ट के पीछे दाऊद इब्राहिम का बड़ा हाथ था, धमाकों के आरोपियों में दाऊद का भी नाम है। धमाकों के मास्टर माइंड टाइगर मेमन ने दाऊद के गैंग की मदद से ही मुंबई में ब्लास्ट कराए थे। 1993 ब्लास्ट के बाद दाऊद ने पाकिस्तान में अपना ठिकाना बनाया। दाऊद पर ये भी आरोप है कि उसने 2008 में मुंबई हमले में भी आतंकियों की मदद की थी। दाऊद पर अल कायदा और लश्कर ए तैयबा जैसे बड़े आतंकी संगठनों की मदद का आरोप भी है। अमेरिका ने दाऊद को ग्लोबल आतंकवादियों की लिस्ट में भी डाला हुआ है। बताते हैं कि दाऊद पिछले करीब बीस सालों से पाकिस्तान में है। लेकिन अब तक भारत सरकार और दुनिया की पुलिस दाऊद तक नहीं पहुंच सकी है। हैरानी की बात ये है कि दाऊद को पिछले 24 साल से किसी ने नहीं देखा है। 24 साल से सब राज है। लेकिन मोदी के तेवरों से अब उम्मीद जग रही है कि दाऊद को भारत वापस लाया जा सकता है।
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: मोदी पीएम बने तो भारत-पाक की शांति पर खतरा: पाकिस्तान Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल