ताज़ा ख़बर

गुजरात में उद्योगपतियों की सरकार, चुनाव के दिन लगेगा बीजेपी को करंट : राहुल

भरुच (गुजरात)। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि गुजरात में बीजेपी को चुनाव के दिन करंट लगने वाला है, क्योंकि लोग उनकी असलियत पहचान गए हैं कि यह उद्योगपतियों की सरकार है। उन्होंने कहा कि गुजरात में सबकुछ उद्योगपतियों के हाथ में है। यहां पैसा है तो सारे काम होते हैं, पैसा नहीं तो कुछ नहीं होता, यही गुजरात मॉडल की असलियत है। कांग्रेस उपाध्यक्ष ने अपनी तीन दिन की यात्रा शुरू की है। गुजरात नवसृजन यात्रा के इस दौरे की शुरुआत राहुल ने भरूच से की। भरुच में उन्होंने राज्य की बीजेपी सरकार और केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। भरूच से राहुल गांधी तापी, वलसाड, नवसारी और सूरत जाएंगे। इस दौरान वह नुक्कड़ सभाओं और रैलियों को भी संबोधित करेंगे। भरुच में राहुल गांधी ने कहा कि, "हिंदुस्तान में ईज ऑफ डूइंग बिजनेस नहीं है, नोटबंदी और जीएसटी ने सब बर्बाद कर दिया। एक नाम बता दो, जिसको मोदीजी ने जेल में डाला है। विजय माल्या बाहर बैठा है। इंग्लैंड में मजे ले रहा है। वे तीन साल से सत्ता में हैं। कितने स्विस अकाउंट होल्डर जेल में हैं?" उन्होंने कहा कि, "राज्य में कारोबारियों और उद्योगपतियों की सरकार है। वे ही राज्य को चला रहे हैं। टाटा नैनो के लिए मोदी जी ने 33000 करोड़ दिए, लगभग फ्री में। आपकी जमीन लेकर टाटा को दी। 33000 करोड़ में गुजरात के किसानों का कर्ज माफ किया जा सकता है।" उन्होंने लोगों से पूछा कि, "आपने नैनो गाड़ी को सड़क पर देखा है? कहीं दिखती है ये गाड़ी? पूरे हिंदुस्तान में कहीं दिखती है?" वोटरों के मूड और बीजेपी से नाराजगी का जिक्र करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि गुजरात विधानसभा चुनाव के दिन बीजेपी को करंट लगने वाला है। कांग्रेस की सरकार बनेगी और ये जनता के लिए काम करेगी न कि कुछ उद्योगपतियों के लिए। राहुल ने एक बार फिर बेरोजगारी का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि, "चीन में हर दिन 50 हजार युवाओं को रोजगार दिया जाता है। हिंदुस्तान में नरेंद्र मोदी का मेक इन इंडिया रोजाना सिर्फ 450 को रोजगार देता है। मोदी कहते हैं कि सब कुछ हिंदुस्तान में बनेगा। आज गुजरात में 30 लाख युवा बेरोजगार हैं। पूरे हिंदुस्तान में नरेंद्र मोदी की सरकार एक लाख लोगों को रोजगार देती है। गुजरात में रोजगार नहीं है। मैं नाम नहीं लेना चाहता, लेकिन पूरा का पूरा काम 5-10 उद्योगपतियों के फायदे के लिए किया जा रहा है। माल चाइना में बनेगा, बिकेगा हिंदुस्तान में।" उन्होंने कहा कि, "जो भी बनता है, जो भी बिकता है उसके पीछे मेड इन गुजरात नहीं दिखाई देगा, मेड इन इंडिया नहीं होता। उसके पीछे मेड इन चाइना दिखाई देगा। जब आप सेल्फी लेते हैं और जैसे ही बटन दबाते हैं चीन के युवा को रोजगार मिल जाता है।" उन्होंने मोदी के गुजरात मॉडल पर भी चुटकी ली। राहुल ने कहा कि, "यहां अच्छी शिक्षा के लिए 10-15 लाख रुपए की जरूरत पड़ती है। प्राइवेट कॉलेज में गरीब जा नहीं सकता। हजारों सरकारी स्कूल बंद कर दिए। कोई बीमार होता है तो वहां भी उद्योगपति बैठे हैं। बड़े हॉस्पिटल में जाइए। पैसा नहीं हुआ तो वहां से बाहर फेंक दिया जाएगा। गुजरात मॉडल है भैया। यहां पैसे बगैर नहीं चलता।" दक्षिण गुजरात में सूरत, नवसारी, भरूच, वलसाड, नर्मदा, तापी, डांग जिले हैं। दक्षिण गुजरात में कुल 35 सीटें हैं। इनमें से 28 सीटों पर बीजेपी का कब्जा है और कांग्रेस के पास सिर्फ 6 सीटें हैं। यहां के ज्यादातर वोटर आदिवासी हैं। कई सीटों पर पटेल और कोली जाति का वर्चस्व है। गुजरात में राहुल गांधी की नवसृजन यात्रा का यह तीसरा चरण है। नवसृजन यात्रा की शुरुआत सौराष्ट्र के द्वारका से हुई थी। दूसरे चरण यह यात्रा मध्य गुजरात में गई। और अब दक्षिण गुजरात में इसका तीसरा चरण है। साभार नवजीवन 
राजीव रंजन तिवारी (संपर्कः 8922002003)
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: गुजरात में उद्योगपतियों की सरकार, चुनाव के दिन लगेगा बीजेपी को करंट : राहुल Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल