ताज़ा ख़बर

अलवर में गाय ले जा रहे एक मुसलमान की हत्या, दूसरा घायल

जयपुर (बीबीसी हिंदी के लिए नारायण बारेठ)। राजस्थान के अलवर ज़िले में पिक अप गाड़ी में गायों के साथ जा रहे एक मुसलमान व्यक्ति की हत्या कर दी गई है. इस वारदात में एक अन्य मुसलमान घायल भी हुआ है. हालांकि ये हत्या किस तरह हुई है और इसके पीछे कौन लोग हो सकते हैं, इसके बारे में स्पष्ट जानकारी सामने नहीं आई है. पुलिस के मुताबिक, घटना कैसे हुई इसका पता लगाया जा रहा है. जिस व्यक्ति की हत्या हुई है वो मेव समुदाय का मुसलमान था. मेव समुदाय ने इस घटना पर गहरा रोष जताया है. अलवर के सहायक पुलिस अधीक्षक अनिल बेनीवाल ने बीबीसी को फोन पर बताया, ''मामले की जांच की जा रही है. अभी कहना मुश्किल है कि घटना कैसे हुई. हम सभी पहलुओं पर जांच कर रहे हैं.'' अलवर में उस वक़्त सनसनी फैल गई जब उमर मेव का शव मिला. शव बरामद होन के बाद बड़ी संख्या में मेव समुदाय के लोग अलवर में जमा हो गए और इंसाफ़ की मांग करने लगे. मौलवी हनीफ़ ने मीडिया से कहा यह हत्या है. उन्होंने कहा कि उनका समुदाय बहुत दुखी है उन्हें न्याय चाहिए. उमर का शव अलवर लाया गया, लेकिन पुलिस का कहना है कि शव का जयपुर में पोस्टमॉर्टम करवाया जाएगा. इसके लिए शव अलवर से जयपुर भेजा जा रहा है. एक पुलिस अधिकारी ने कहा उमर गायों के काम में शामिल रहा है. वहीं घायल ताहिर हरियाणा के फ़िरोजपुर में किसी अस्पताल में इलाज करवा रहा है. सूत्रों ने बताया उमर को गोली मारी गई है. लेकिन गोली मारने वाले गौरक्षक थे या पशु तस्कर इसको लेकर स्थिति साफ़ नहीं हो पाई है. उमर अलवर के पड़ोसी ज़िले भरतपुर का रहने वाले थे. मेव समुदाय के सद्दाम ने बीबीसी से कहा परिजन और रिश्तेदार दो दिन से उमर की तलाश कर रहे थे. इससे पहले अप्रैल महीने में हरियाणा के पहलू ख़ान को कथित गौ रक्षकों की भीड़ ने उस वक़्त घेर लिया था जब वो जयुपर से गाय लेकर जा रहे थे. भीड़ ने पहलू ख़ान को पीट-पीट कर मार दिया. यह घटना तब हुई है जब अलवर में राजनीतिक पार्टियां लोकसभा उपचुनाव की तैयारियां कर रही हैं. यहां बीजेपी सांसद महंत चांद नाथ का सितंबर माह में निधन हो गया था। साभार बीबीसी  
गोरक्षकों पर लगे आरोप की हो रही जांच 
राजस्थान की अलवर पुलिस गो रक्षकों द्वारा हत्याग के एक कथित मामले की जांच कर रही है। पुलिस के अनुसार, जिले में शुक्रवार सुबह गोवंशीय पशु से लदी एक पिकअप गाड़ी मिली। जहां से गाड़ी मिली, वहां से 15 किलोमीटर दूर रेलवे ट्रैक पर एक व्यअक्ति की लाश बरामद हुई। कहा जा रहा है कि यह लाश पिकअप में सवार तीन व्यटक्तियों में से एक की है। अलवर एसपी राहुल प्रकाश ने कहा, ”अभी ज्या्दा कुछ साफ नहीं है। गो तस्कैरों से जुड़ा एक वाहन शुक्रवार सुबह 6 बजे अलवर के गोविंदगढ़ पुलिस थाने की सीमा में मिला है।” मामले में शुक्रवार को आरोपी गो-तस्कअरों के खिलाफ राज्ये के गोवंश हत्या” प्रतिरोधी कानून के तहत एफआईआर दर्ज कराई गई है। वाहन को जांच के लिए फोरेंसिक साइंस लैबोरेट्री भेज दिया गया है। अलवर दक्षिण के क्षेत्राधिकारी अनिल बेनीवाल ने कहा कि ‘पिकअप में तीन गायें और तीन बछड़े थे, जिनमें से एक गाय मर चुकी थी। गाड़ी के पहले दो टायर गायब थे और पिछले दोनों टायर पंक्चंर किए गए थे। बाद में, वहां से 15 किलोमीटर दूर रामगढ़ इलाके में एक लाश बरामद हुई। उसके संबंधियों ने उसकी पहचान 35 वर्षीय उम्मोर के रूप में की है, वह भरतपुर का निवासी है।’ एसपी ने कहा कि ‘अभी हत्यास के पीछे की वजह स्परष्टं नहीं की जा सकती है। दोनों घटनाएं एक-दूसरे से जुड़ी या नहीं भी हो सकती हैं, यह जांच का विषय है कि वह (उम्मीर) वाहन में था या नहीं।’ उन्हों ने कहा कि उम्म र के घरवालों में शुरुआत में तब तक पोस्टपमॉर्टम नहीं कराया, जब तक हमलावर पकड़े नहीं गए। अलवर की मेव पंचायत प्रमुख शेर मोहम्मबद ने आरोप लगाया कि गो-तस्ककरों ने उम्मंर की हत्या की है और उसकी लाश रेलवे ट्रैक के किनारे फेंक दी ताकि यह एक हादसा लगे। उम्मेर के रिश्तेमदारों के अनुसार, हमले के समय उसके साथ दो अन्य लोग थे। भरतपुर की पहाड़ी पंचायत समिति के घाटमिका गांव के सरपंच शौकत ने कहा, ”हमले के वक्तत उम्म र के साथ ताहिर और जावेद थे। तीनों हमारे ही गांव के हैं।” उम्मदर के चाचा इलयास ने द इंडियन एक्सुप्रेस को बताया कि ”केवल जावेद ही ऐसा था जो भाग पाया। उसने मुझे बताया कि उन पर बंदूकधारियों ने हमला किय था। उसने कहा कि वह बड़ी मुश्किल से भाग पाया और नहीं जानता कि बाकी दोनों के साथ क्या हुआ।” इसी साल, 1 अप्रैल को अलवर जिले में ही हरियाणा के 55 साल के डेरी किसान पहलू खान को गो रक्षकों ने जमकर पीटा था। दो दिन बाद उनकी मौत हो गई थी। साभार जनसत्ता
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: अलवर में गाय ले जा रहे एक मुसलमान की हत्या, दूसरा घायल Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल