ताज़ा ख़बर

उत्कल एक्सप्रेस हादसे में 14 डिब्बे पटरी से उतरे, अब तक 30 की मौत, लगभग 100 घायल

मुजफ्फरनगर (विनीत पंवार)। उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में शनिवार (19 अगस्त) की शाम एक बड़ा ट्रेन हादसा हुआ है। कलिंगा-उत्कल एक्सप्रेस मुजफ्फरनगर के खतौली के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई। शाम करीब छह बजे ट्रेन के 14 डिब्बे पटरी से उतर गए। इसके अलावा कई डिब्बे दूसरे डिब्बों के ऊपर भी चढ़ गए। ट्रेन पुरी से हरिद्वार जा रही थी। हादसे में अब तक 30 लोगों के मरने की खबर है, जबकि 100 से ज्यादा यात्रियों के गंभीर रूप से घायल होने की खबर है। ट्रेन को 9 बजे हरिद्वार पहुंचना था। अभी तक रेलवे ने इस संबंध में कोई जानकारी नहीं दी है कि दुर्घटना कैसे हुई। हालांकि दुर्घटना में आतंकी हमले की भी जांच की जा रही है। वहीं राहत और बचाव कार्य शुरू कर दिया गया है। फिलहाल कोशिश की जा रही है कि घायलों की मदद की जा सके। घायलों को हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। घायलों की संख्या में और इजाफा हो सकता है। रेलवे ने ये हेल्पलाइन नंबर जारी किया है – 9760534054/5101 यूपी डीजीपी ऑफिस से इस दुर्घटना में 23 लोगों के मारे जाने की पुष्टि की गई है। इसके अलावा 40 लोगों के घायल होने की जानकारी दी गई है। राजद अध्यक्ष लालू यादव ने कहा कि लोगों की सुरक्षा की आज कोई गारंटी नहीं है। उन्होंने सुरेश प्रभु का इस्तीफा भी मांगा। योगी आदित्य नाथ ने घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि वे लोग रेल मंत्रालय से संपर्क बनाए हुए हैं। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने घटना को दुखद बताते हुए जान गंवाने वाले लोगों के परिवार के लिए प्रार्थना की। सूत्रों का कहना है कि ट्रैक पर मरम्मत का काम किया जा रहा था। रेलवे ने मुआवजे का एलान किया। जान गंवाने वाले लोगों के परिवार को 3.5 लाख रुपए। गंभीर रूप से घायल को 50 हजार और कम घायल लोगों को रेलवे 25 हजार रुपए देगी। हादसे पर पीएम मोदी ने भी ट्वीट किया। मोदी ने कहा कि उनको हादसे का दुख है। मोदी ने लिखा कि रेलवे और राज्य सरकार लोगों की मदद की पूरी कोशिश कर रही है। केंद्रीय रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा कि रेल हादसों को लेकर सीएम योगी आदित्य नाथ से बात हुई है। वह हर तरह की मदद मुहैया करा रहे हैं। सभी संबंधित अथॉरिटियों की मदद ली जा रही है। मुजफ्फरनगर के भाजपा सांसद और केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान भी घटना स्थल पर पहुंच गए तथा राहत व बचाव कार्यों का जायजा लिया। घायलों की मदद के लिए एंबुलेंस घटना स्थल पर पहुंचीं। यूपी एटीएस भी घटना स्थल पर पहुंची। राहत बचाव कार्य के लिए पीएसी की 9 कंपनियां घटना स्थल के लिए रवाना हो गई है। रेलवे राज्य मंत्री मनोज सिन्हा भी वरिष्ठ अधिकारियों के साथ घटना स्थल पर पहुंच चुके हैं। हादसे का कारण जानने के लिए जांच के आदेश दे दिए हैं।
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: उत्कल एक्सप्रेस हादसे में 14 डिब्बे पटरी से उतरे, अब तक 30 की मौत, लगभग 100 घायल Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल