ताज़ा ख़बर

जानें, बिहार कैबिनेट की बैठक के बाद तेजस्वी-नीतीश के बीच कितनी देर हुई बातचीत

पटना। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से उप मुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव और स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव ने मंगलवार को मुलाकात की। मुख्य सचिवालय में हुई कैबिनेट की बैठक के बाद मुख्यमंत्री जैसे ही अपने कार्यालय कक्ष में गए, उप मुख्यमंत्री व स्वास्थ्य मंत्री उनसे मिलने पहुंचे। इन दोनों के साथ कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सह शिक्षा मंत्री डॉ अशोक चौधरी भी सीएम के कार्यालय कक्ष में गए। लगभग पौन घंटे तक सीएम व उप मुख्यमंत्री के बीच बातचीत हुई। सीबीआई की छापेमारी के बाद उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने पहली बार मुख्यमंत्री से मुलाकात की है। इस मुलाकात को काफी अहम माना जा रहा है। मुख्यमंत्री ने तेजस्वी से खुद पर लगे आरोपों का तथ्यों पर आधारित बिन्दुवार प्रमाणिक जवाब राज्य की जनता को देने को कहा था। मगर तेजस्वी ने ऐसा नहीं किया। इस कारण महागठबंधन में गतिरोध चल रहा है। इससे पहले सुशील कुमार मोदी ने मंगलवार को एकबार फिर भ्रष्टाचार के मामले में घिरे राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद और उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि तेजस्वी 26 वर्ष की उम्र में 26 संपत्तियों के मालिक हैं। उन्होंने दस्तावेजों का हवाला देते हुए कहा कि तेजस्वी 13 संपत्तियों के मालिक उसी समय बन गए थे, जब वे 'बिना मूंछ' (नाबालिग) के थे।  
बोले तेजस्वी, नीतीश कुमार और जदयू ने नहीं मांगा इस्तीफा 
सीबीआई की एफआईआर में नामजद होने और छापेमारी के सवाल पर उप मुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव इस्तीफा नहीं देंगे। महागठबंधन के अंत:पुर से आ रही खबरों के अनुसार न तो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उप मुख्यमंत्री से इस्तीफा मांगा है और न ही तेजस्वी ने इस्तीफा देने का मन बनाया है। इससे तेजस्वी के इस्तीफे का सवाल फिलहाल ठंडा पड़ गया है। सोमवार को राष्ट्रपति चुनाव में मतदान करने विधानसभा आए उप मुख्यमंत्री ने अनौपचारिक बातचीत में साथियों से कहा कि उनसे इस्तीफा नहीं मांगा गया है। उन्होंने आगे कहा कि केंद्र राजनीतिक दुर्भावना से उनके खिलाफ कार्रवाई कर रहा है। जिस समय नाबालिग था, उस समय का आरोप लगाकर छापेमारी और मुकदमा कर रही है। राजनीति से प्रेरित इस प्रकरण पर इस्तीफा देने का सवाल ही नहीं है। बाद में पत्रकारों से बातचीत में भी तेजस्वी ने कहा कि उनके इस्तीफे की खबर मीडिया के दिमाग में है। दूसरी ओर, जदयू के प्रधान महासचिव सह राष्ट्रीय प्रवक्ता केसी त्यागी ने भी कहा कि सीएम नीतीश कुमार ने तेजस्वी से इस्तीफा मांगा ही नहीं था। जदयू ने कोई समय-सीमा भी तय नहीं की है। सवाल उठाया कि आखिर तेजस्वी अपने आप को दोषी की तरह क्यों व्यवहार कर रहे हैं। अगर सीएम इस्तीफा मांगते तो क्या तेजस्वी अब तक मंत्रिमंडल में शामिल रहते। अगर सीएम के मांगने पर तेजस्वी इस्तीफा नहीं देते तो उन्हें बर्खास्त कर दिया जाता। जदयू विधायक दल की बैठक में जो मामले नहीं उठे, उस पर बयानबाजी उचित नहीं। सीएम की उदारता का कोई अनुचित लाभ न उठाए।
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: जानें, बिहार कैबिनेट की बैठक के बाद तेजस्वी-नीतीश के बीच कितनी देर हुई बातचीत Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल