ताज़ा ख़बर

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुंडों चेताया, सुधर जाएं वरना छोड़ दें यूपी

गोरखपुर। गोरखपुर दौरे के दूसरे दिन सीएम योगी आदित्यनाथ ने गुंडे-बदमाशों को सीधे शब्दों में चेतावनी दी है कि या तो वे सुधर जाएं या फिर प्रदेश छोड़कर चले जाएं। मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी बेनीगंज के भाजपा कार्यालय में कार्यकर्ताओं और समर्थकों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश से कचरा साफ हो रहा है। गुंडे अगर यहां रहना चाहते हैं तो उन्हें सुधरना होगा। अगर वे नहीं सुधर सकते तो यूपी छोड़कर चले जाएं। इसके बाद योगी ने अपने मंत्रियों और नेताओं को भी नसीहत दी। उन्होंने कहा कि पार्टी का कोई भी मंत्री या जनप्रतिनिधि ठेकेदारी के चक्कर में न पड़े। इसकी जगह वे ठेकेदारी के कामों पर नजर रखें और अगर कोई गड़बड़ दिखे तो तुरंत बताएं। योगी ने नौकरशाहों के लिए भी बयान दिया कि वे बेवजह हस्तक्षेप करने की जगह सरकार के काम की मॉनिटरिंग करें और इसकी विस्तृत रिपोर्ट बनाकर संबंधित मंत्री या जनप्रतिनिधि को भेजें। साथ ही एक कॉपी मुझे भी भेज दें। उन्होंने कहा कि कहीं भी गड़बड़ हो तो सीधे मुझे सूचित करें। प्रदेश को लूटने वालों की छुट्टी की जाएगी। कार्यकर्ताओं से योगी बोले के अब हमें 18 से 20 घंटे काम करना है। अगले 2 साल तक न हमें गर्मी देखनी है, न बरसात देखनी है। परिस्थितियां चाहें अनुकूल हों या प्रतिकूल, हमें हर तरह से काम करना है। जनता ने हमें जो प्रचंड बहुमत दिया है उसके बाद हमारी जिम्मेदारियां और बढ़ गई हैं। उन्होंने कहा कि हमें प्रदेश में 24 घंटे बिजली और गड्ढा-मुक्त सड़कों के साथ कानून का राज स्थापित करना होगा। इसके लिए जरूरी है कि आप अपने अंदर की नकारात्मकता को निकाल फेंके और सकारात्मकता को आत्मसात करें। केवल तभी हम अपने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उत्तर प्रदेश के लिए देखे गए सपने को सच साबित कर सकेंगे। उनका सपना है कि प्रदेश में हर चेहरे पर खुशी दिखे, हर बहन-बेटी सुरक्षित महसूस करे और यहां से पलायन रुके। आदित्यनाथ ने कहा कि कहीं भी अगर कुछ भी गलत दिखे तो बस मुझे एक मैसेज कर दें, और फिर देखना। अधिकारी कार्यों की मॉनिटरिंग करके सही रिपोर्ट जन-प्रतिनिधियों को दें। यूपी को लूटने वाले प्रदेश छोड़ दें, नहीं तो उन्हें जेल जाना होगा। सीएम ने कहा कि अब से यूपी में कोई भी भूखा नहीं सोएगा। सीएम ने कहा कि हम सत्ता में मौज-मस्ती करने नहीं आए हैं। इस पहले गोरखनाथ मंदिर के बाहर एक शख्स ने आत्मदाह करने की कोशिश की। हालांकि लोगों ने उसे आत्मदाह करने से रोका। वह कर्ज माफी की मांग कर रहा था, जो कि उसने इलाज के लिए लिया है। इसके साथ ही रविवार सुबह गोरखपुर में योगी आदित्यनाथ के गोरखधाम मंदिर के बाहर होम गार्ड कॉन्स्टेबलों द्वारा शांतिपूर्ण विरोध-प्रदर्शन किया गया। कॉन्स्टेबल नियमित होना चाहते हैं। वे नियमित होने के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ के हस्तक्षेप मांग कर रहे थे। रविवार सुबह सीएम योगी आदित्यनाथ ने गोशाला में गायों के साथ भी समय बिताया। सीएम ने कहा कि गाय सुरक्षा हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण है। उत्तर प्रदेश सरकार और केंद्र दोनों इसे प्रोत्साहित करने के लिए कई कदम उठाएंगे। ग्रामीण अर्थव्यवस्था गायों के आसपास केंद्रित है। आज भी सीएम योगी आदित्यनाथ का व्यस्त कार्यक्रम है।
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुंडों चेताया, सुधर जाएं वरना छोड़ दें यूपी Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल