ताज़ा ख़बर

अखिलेश गुट ने पोस्टुरों के सहारे मुलायम से की मार्गदर्शक बनने की अपील

लखनऊ। समाजवादी पार्टी और ‘साइकिल’ चुनाव चिन्हस पर अधिकार पाने के बाद अखिलेश यादव अपने पिता, मुलायम सिंह यादव से रिश्तेग बेहतर करना चाहते हैं। इसकी झलक पार्टी द्वारा जारी किए गए कुछ पोस्टमरों, बैनरों, सोशल मीडिया विज्ञापनों में देखने को मिल रही है। इन विज्ञापनों में मुलायम सिंह यादव की तस्वीबर बड़ी लगाई गई है और ज्या दा स्पेंस दिया गया और अखिलेश को कम। इसके साथ नीचे स्लोदगन लिखा है ”विश्वागस रखें, विकास रुकेगा नहीं, यूपी झुकेगा नहीं, वादा है आपके अखिलेश का” वहीं दूसरे में कहा गया है, ”आपकी साइकिल सदा चलेगी आपके नाम से, फिर प्रदेश का दिल जीतेंगे हम मिलकर अपने काम से।” गौरतलब है कि अखिलेश ने चुनाव आयोग के फैसले के बाद मुलायम से मुलाकात की थी। उन्होंाने कहा था कि ‘मेरे पिता को नीचा दिखाने वाली किसी जीत में खुशी नहीं… लेकिन यह लड़ाई जरूरी थी।” अखिलेश ने कहा, ”वह मेरे पिता हैं…और चुनाव आयोग का फैसला आने के बाद मैं सीधे उनसे मिलने गया। मैं उनका आशीर्वाद लेने गया था।” अखिलेश ने सोमवार को अपनी और मुलायम की आमने-सामने बैठे एक तस्वीार ट्वीट की थी, जिसके साथ उन्हों ने लिखा था, ”साइकिल चलती जाएगी…आगे बढ़ती जाएगी…” उन्होंेने मंगलवार को अपने पिता, मुलायम सिंह यादव के साथ संबंध बेहतर करने की कोशिश की। अखिलेश ने 12 घंटों में मुलायम से दो बार मुलाकात की। मंगलवार को मुलायम ने अखिलेश यादव को 38 ऐसे प्रत्याोशियों की सूची सौंपी है जिन्हें अनदेखा नहीं किया जा सकता। हालांकि इस सूची से मुलायम सिंह के भाई और उनके भरोसेमंद, शिवपाल यादव का नाम गायब है। यादव परिवार में महीनों से पार्टी पर कब्जेा की लड़ाई चल रही है। मामला गंभीर तब हो गया जब मुलायम सिंह और शिवपाल के महीनों तक मुख्यमंईत्री को प्रत्यायशियों का चयन करने से रोके रखा। उधर, अखिलेश ने अपने चाचा रामगोपाल के साथ मिलकर अपने उम्मीतदवारों की सूची जारी कर दी और पार्टी की बैठक बुलाकर खुद को समाजवादी पार्टी का नया अध्यंक्ष घोषित कर दिया। मुलायम सिंह को ‘मागदर्शक’ का पद देकर उन्हें संन्याोस की तरफ ढकेल दिया गया। दोनों ओर से चुनाव आयोग को खुद की पार्टी को ‘असली’ मानने की अपील की गई। अखिलेश यादव जीत गए। उसके बाद वह अपने पिता का आशीर्वाद लेने मुलायम के घर गए, जो पड़ोस में ही रहते हैं।
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: अखिलेश गुट ने पोस्टुरों के सहारे मुलायम से की मार्गदर्शक बनने की अपील Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल