ताज़ा ख़बर

पोर्न स्टार होने के कारण मेरे परिवार के लोग मुझे गंदे नामों से पुकारते थे

अपने सम्मान के साथ समझौता नहीं करतीः सनी लियोनी
योगिता लिमये (बीबीसी संवाददाता, मुंबई)। सनी लियोनी ने बीबीसी से ख़ास बातचीत में कहा कि बॉलीवुड में समझौते करने होते हैं. उनकी हिंदी बहुत साफ़ नहीं है लेकिन इसके लिए वो ट्यूशन ले रही हैं और वो जानती हैं कि भारतीय फ़िल्मों में उन्हें हिंदी बोलने के लिए नहीं लिया जाता. बॉलीवुड अभिनेत्री और पूर्व में वयस्क फ़िल्मों में अभिनय कर चुकी सनी लियोनी एकदम सीधी बात करती हैं. वो किसी को खुश करने या किसी 'कैंप' विशेष के लिए काम नहीं करती. बीबीसी से बात करते हुए वो कहती हैं, "मैं जानती हूं की फ़िल्मों में मुझे एक ख़ास तरह के रोल के लिए लिया जाता है और मैं अपना काम बखूबी करने की कोशिश करती हूं. इस काम से ज़्यादा न मैं किसी से संबंध रखती हूं न ही किसी और को रखना चाहिए." सनी कहती हैं, "मैं 19 साल की थी और लोग, मेरे अपने परिवार के लोग, मुझे क्या क्या नहीं कहते थे? उन्होंने मुझे गंदे गंदे नामों से पुकारना शुरू कर दिया था क्योंकि मैं जो कर रही थी (पोर्न फ़िल्में) वो समाज की मान्यताओं के विरूद्ध था." सनी ने कहा, "लेकिन कभी भी किसी ने मुझे समझने की कोशिश नहीं की. एक 19 साल की लड़की को ऐसी नकारात्मक बातें बोली गई कि कुछ दिनों बाद ही मैंने अपने जानने वालों से कन्नी काट ली. लेकिन बिग बॉस में आने का फ़ैसला मैंने इसलिए लिया क्योंकि मैं चाहती थी की लोग मुझे जान लें, वो मेरा काम है, लेकिन एक शख़्स के तौर पर मैं अलग हूं. मुझे पुकारे जाने वाले नामों से कुछ ज़्यादा हूं." सनी लियोनी को लेकर बॉलीवुड में कई निर्माता और जाने-माने अभिनेताओं को संशय रहा है और कई बार यह ख़बरें आई हैं कि निर्माताओं ने 'हीरो' के कह देने पर उन्हें फ़िल्म में नहीं लिया. सनी कहती हैं, "हां, मैंने भी सुना, लेकिन यह सिर्फ़ उनके हाथ में नहीं है. एक औरत के हाथ में होता है कि वो कितना सुनेगी या सहेगी. आप मुझे काम करने के लिए पैसे दे रहे हैं, बदले में मैं काम कर रही हूं लेकिन अगर आप मुझसे ठीक बर्ताव नहीं करेंगे या मुझे 'अलग' समझेंगे तो मैं भी आपके साथ काम नहीं करने के लिए स्वतंत्र हूं." वो जोड़ती हैं, "अगर कोई आपसे सही बर्ताव नहीं कर रहा है तो आप उनके पैसे वापस करें और वो काम छोड़कर निकल जाइए, ज़्यादा से ज़्यादा क्या होगा? वो आपको बदल देंगे! अपने सम्मान के साथ समझौता करके काम न करें." बॉलीवुड में महिलाओं को ऑब्जेक्टिफ़ाई करने या उपभोग की वस्तु की तरह से दिखाए जाने को लेकर सनी की मान्यताएं अलग हैं. वे कहती हैं, "हम यहां पुरुषों का भी तो उपभोग ही करते हैं, क्या आप ऋत्तिक रोशन को शर्ट उतारते नहीं देखते? हम (अभिनेता) ब्रान्ड हैं और हमारे दिखने के तरीके ही हमारे ब्रान्ड की पहचान हैं. अगर हम ऐसा नहीं करेंगे तो हमें देखेगा कौन? यह फ़िल्ड की ज़रूरत है और यह ऑब्जेक्टिफ़िकेशन नहीं आपके-हमारे भाव से जुड़ा है." लेकिन वो यह ज़रूर मानती हैं कि बॉलीवुड में महिलाओं और पुरुषों के बीच भेदभाव थोड़ा ज़्यादा है, पोर्न फ़िल्म इंडस्ट्री से भी ज़्यादा. सनी के मुताबिक, "हां, यहां ऐसे लोग काम कर रहे हैं जिन्हें अपने लिंग को लेकर भेदभाव सहना पड़ता है. वहां (पोर्न फ़िल्में) मुझे कभी भी यह महसूस नहीं हुआ कि आप अपने पुरुष सह-अभिनेता से कम हैं. लेकिन हिंदी फ़िल्मों में आपको बहुत सारे समझौते करने पड़ते हैं. हालांकि आप मुझसे पूछेंगी तो मेरे पास ऐसा कोई डरावना किस्सा नहीं है, क्योंकि मैं पहले ही कह चुकी हूं, मैं सम्मान से समझौता नहीं करती." हाल ही में मुंबई से सटे इलाके, ठाणे की एक महिला ने सनी पर अश्लीलता फैलाने का आरोप लगाया था. उनपर पुलिस रिपोर्ट भी दर्ज हुई थी और इस मामले में साइबर पुलिस जाँच कर रही है. इस रिपोर्ट के अलावा अश्लीलता फैलाने के कई आरोप उनपर लगते रहे हैं. लेकिन सनी का रुख स्पष्ट है, "इंटरनेट एक बड़ी जगह है और मैंने आपको मुझे खोजने के लिए नहीं कहा, आप मुझे खोज रहे हैं. मैं किसी को उकसा नहीं रही या किसी को बोल नहीं रही कि वो मेरा नाम सर्च करें या मेरी वेबसाइट पर आएं. लोग अपनी मर्ज़ी से ऐसा करते हैं और अगर उन्हें यह अश्लील या ग़लत लगता है तो वो इसे न देंखे." बॉलीवुड में एक समय बॉयकॉट का सामना कर रही सनी को अभिनेता आमिर ख़ान के समर्थन के बाद से फ़िल्म जगत का भी समर्थन मिलने लगा है और सनी हिंदी फ़िल्मों में और बेहतर काम करने के लिए अब हिंदी भाषा भी सीख रही हैं. वो कहती हैं, "मैं जब भारत आई थी तो इस देश को लेकर मेरे मन में कई चिंताए थी. मुझे नहीं लगा था कि लोग मुझे स्वीकार करेंगे लेकिन ऐसा नहीं है, यहां कई लोग वाकई मिलनसार और खुले विचारों के हैं और अब मुझे और डेनियल (पति) को यहां काम करने में कम ही मुश्किल आती है." सनी लियोन ने 2012 के बाद से खुद किसी वयस्क फ़िल्म में काम नहीं किया है और वो पूरी तरह से हिंदी फ़िल्मों में काम कर रही हैं लेकिन उनकी व्यस्क फ़िल्मों की प्रोडक्शन कंपनी और एक एडल्ट वेबसाइट अभी भी काम कर रही है. (http://www.bbc.com/hindi/entertainment-38268418)साभार-बीबीसी
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: पोर्न स्टार होने के कारण मेरे परिवार के लोग मुझे गंदे नामों से पुकारते थे Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल