ताज़ा ख़बर

सदन में मोदी पर ‘भारी’ पड़े राहुल, कांग्रेस उपाध्यक्ष जब पीएम पर हमलावर हुए तो चुप्पी साध लिए भाजपाई!

नोटबंदी से हो रही परेशानी व कानपुर ट्रेन हादसे के मुद्दे पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जोरदार  हमला बोला 
नई दिल्ली। नोटबंदी और कानपुर ट्रेन हादसे पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जोरदार हमला बोला। उन्होंने कहा कि आजकल प्रधानमंत्री दूसरे लेवल पर हैं, उनका फोकस सही नहीं है। प्रधानमंत्री की पूरी सोच 3000 से 5000 लोगों के लिए है, आम आदमी उनकी सोच में नहीं है। राहुल ने नोटबंदी पर पीएम मोदी की प्लानिंग और सरकार की तैयारियों पर भी सवाल उठाया। राहुल ने कहा कि पीएम ने तीन-चार लोगों को बताकर सबसे बड़ा इकोनॉमिक फैसला ले लिया। प्रधानमंत्री ने ये प्लानिंग नहीं की कि लोगों का क्या होगा? किसका फायदा होगा? किसानों का क्या होगा? और फिशिंग इंडस्ट्री का क्या होगा? कुछ नहीं सोचा। उधर, कांग्रेसियों का कहना है कि जब राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर हमला किया तो भाजपा नेताओं के पास जवाब देने के लिए कुछ भी नहीं बचा था। सब शांत बैठे रहे। राहुल ने कहा कि जहां-जहां आज मैं गया लोग कष्ट में हैं। गरीब लाइन में लगे हैं। अमीर पैसे लिए जा रहे हैं। प्रधानमंत्री जी के 15-20 लोग हैं, उनकी तिजोरी भरेगी और गरीबों का नुकसान होगा। प्रधानमंत्री को आजकल पार्लियामेंट में आने का क्या जरूरत है? आजकल प्रधानमंत्री तो दूसरे लेवल पर हैं, वो ना अपने मंत्रियों से पूछते हैं और ना ही किसी से बात करते हैं। जो उनके जी में आता है, वो कर देते हैं। राहुल ने चुटकी लेते हुए कहा है कि आज ये प्रधानमंत्री नहीं है। आजकल कोई नया रूप आया है। सुपर प्राइम मिनिस्टर भी नहीं कह सकते हैं। प्रधानमंत्री को परिभाषित करने के लिए कोई नया शब्द निकालना पड़ेगा। कानपुर ट्रेन हादसे को लेकर भी राहुल ने पीएम मोदी पर हमला बोला। राहुल ने कहा कि प्रधानमंत्री संसद में भाषण देते हैं कि बुलेट ट्रेन लाऊंगा, बुलेट ट्रेन लाऊंगा। रेलवे ट्रैक मेंटिनेंंस की बात क्यों नहीं करते? रेलवे सेफ्टी पर भाषण क्यों नहीं देते? राहुल ने कहा है कि प्रधानमंत्री का फोकस ठीक नहीं है। रेलवे के यात्रियों की सुविधा, सुरक्षा ज्यादा जरूरी है। प्रधानमंत्री के बुलेट ट्रेन लाने के कदम से सिर्फ 15 से 20 हजार लोगों को फायदा होगा। राहुल ने कहा कि हिंदुस्तान में जो रेलवे इंफ्रास्ट्रक्चर है उसको ठीक करने की जरूरत है। मोदी जी बुलेट ट्रेन की बात करते हैं, लेकिन ट्रेनों में जो आम आदमी यात्रा करता है उसकी सेफ्टी की बात क्यों नहीं करते? जो आम आदमी ट्रेन में जा रहा है उसको कैसे फायदा मिले, इसके बारे में क्यों नहीं सोचते? नरेंद्र मोदी की पूरी सोच 3000 से 5000 लोगों के लिए है। उधर, कांग्रेसियों का कहना है कि जब राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर हमला किया तो भाजपा नेताओं के पास जवाब देने के लिए कुछ भी नहीं बचा था। सब शांत बैठे रहे।
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: सदन में मोदी पर ‘भारी’ पड़े राहुल, कांग्रेस उपाध्यक्ष जब पीएम पर हमलावर हुए तो चुप्पी साध लिए भाजपाई! Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल