ताज़ा ख़बर

भोपाल एनकाउंटर दोहराना चाहती है पुलिस, पढ़ें, क्या लिखा नाभा जेल से फरार कैदी ने अपने फेसुबक पर

पटियाला (पंजाब)। नाभा जेल से फरार कैदियों के मामले में एक बेहद चौंकाने वाला खुलासा हुआ है. जेल से फरार छह कैदियों में से एक कुलप्रीत सिंह उर्फ नीता ने रविवार दोपहर लगभग 1 बजे अपना फेसबुक पेज अपडेट किया था. नीता ने फेसबुक पर लिखा कि पंजाब पुलिस कथित रूप से भोपाल एनकाउंटर की तरह ही उनका भी एनकाउंटर करना चाहती है. फेसबुक पर पंजाबी भाषा में लिखे गए इस पोस्ट में कहा गया है, ‘पुलिस भोपाल एनकाउंटर की तर्ज पर ड्रामा कर रही है. इन लड़कों (कैदियों) के भागने की कोई वजह नहीं दिख रही है. इनके केस में कोई सबूत नहीं है. सभी आरोपी 1-2 साल में बरी हो जाते. यह कोई चुनावी स्टंट भी हो सकता है. हमें हमारे लड़के सही सलामत वापस दे दो. पुलिस किसी पर भी फर्जी केस कर सकती है. पहले भी मेरे भाई और मेरे पिता पर झूठा केस किया था. हमारे पास सबूत हैं. यह सब पुलिस की चाल है, लड़के ऐसे नहीं भाग सकते. पुलिस ने पूरी साजिश रची है. किसी भी लड़के को कुछ भी हुआ तो पुलिस का कसूरवार होगी. इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें.’ फेसबुक पर नीता के अकाउंट से रविवार दोपहर इस पोस्ट के सार्वजनिक होने के बाद हलचल बढ़ गई. कई लोगों ने इस पोस्ट पर गुस्सा निकाला तो बहुत से लोगों ने इसका समर्थन किया. पुलिस का कहना है कि हो सकता है कि नीता के अकाउंट से यह पोस्ट फेसुबक पर उसके भाई ने अपडेट किया हो. फिलहाल पुलिस सोशल मीडिया में फैल चुके इस पोस्ट की गहनता से जांच कर रही है. गौरतलब है कि रविवार सुबह नाभा जेल पर पुलिस की वर्दी में कुछ हथियारबंद बदमाशों ने हमला कर दिया था. वारदात को अंजाम देते हुए बदमाश खालिस्तान लिबरेशन फोर्स के चीफ हरमिंदर सिंह मिंटू समेत पांच कैदियों को भगा ले गए थे. पुलिस ने बताया कि 10 लोग पुलिस की वर्दी पहनकर जेल में घुसे थे और उन्होंने लगभग 100 राउंड फायर किए. अन्य फरार कैदियों के नाम गुरप्रीत सिंह, विक्की सिंह गंडोरा, नितिन देओल और विक्रमजीत सिंह विक्की है. भागने वालों में से दो कैदी आतंकी हैं. घटना की जानकारी मिलते ही पंजाब सरकार ने फरार कैदियों की सूचना देने पर 25 लाख रुपये के इनाम की घोषणा की थी. वहीं कांग्रेसी नेता अमरिंदर सिंह ने नाभा जेल से कैदियों के भागने की घटना में बादल सरकार के शामिल होने का आरोप लगाते हुए कहा था कि विधानसभा चुनावों से पहले राज्य में एक बार फिर से आतंकवाद के पनपने का खतरा बढ़ गया है. पंजाब के डिप्टी सीएम सुखबीर सिंह बादल ने कैदियों के इस तरह से फरार होने की घटना को जेल प्रशासन की बड़ी चूक मानते हुए डीजीपी(जेल) संजीव गुप्ता को निलंबित कर दिया था. साथ ही नाभा जेल अधीक्षक और उप-अधीक्षक को तत्काल प्रभाव से बर्खास्त कर दिया गया था.  
खालिस्तानी आतंकी हरमिंदर सिंह मिंटू गिरफ्तार 
पंजाब में नाभा जेल से भागा खालिस्तानी समर्थक आतंकी हरमिंदर सिंह मिंटू को दिल्ली-हरियाणा सीमा पर गिरफ्तार कर लिया गया है. उसे स्पेशल टीम ने उसे बॉर्डर पर पकड़ा. मिंटू के साथ भागे अन्य पांच खूंखार कैदी अभी भी फरार हैं. पुलिस ने वारदात में प्रयोग की गई तीसरी कार हरियाणा कैथल से बरामद की गई है. कई आतंकी वारदातों में शामिल होने के आरोपी 47 वर्षीय मिंटू को नवंबर 2014 में दिल्ली एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया गया था. उसे 2008 में सिरसा स्थित डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह पर हुए हमले तथा 2010 में हलवाड़ा वायुसेना स्टेशन में विस्फोटक मिलने सहित 10 मामलों के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया था. बता दें कि पंजाब की नाभा जेल पर हमला करने वाले बंदूकधारियों में से एक को उत्तर प्रदेश के शामली में गिरफ्तार कर लिया गया है. परविंदर नामक इस अपराधी के पास से काफी मात्रा में हथियार भी बरामद हुआ है. पुलिस के मुताबिक परमिंदर के खिलाफ पहले से कई केस दर्ज हैं. पुलिस अब उससे पूछताछ कर उसके बाकी साथियों और उनके ठिकानों का पता करने में जुटी है. उत्तर प्रदेश के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून-व्यवस्था) दलजीत सिंह चौधरी ने बताया कि शामली में तलाशी के दौरान परमिंदर की टोयोटा फॉर्च्यूनर गाड़ी से एक सेल्फ-लोडिंग राइफल (एसएलआर), तीन राइफल और कई अन्य हथियार बरामद किए गए. उल्लेखनीय है कि करीब 10 बंदूकधारी रविवार सुबह नाभा जेल पर हमला कर आतंकी संगठन खालिस्तान लिबरेशन फोर्स (केएलएफ) के सरगना हरमिंदर सिंह मिंटू और पांच अन्य अपराधियों को भगा ले गए थे. इस हमले में दो पुलिसवाले घायल हो गए. जिस वक्त हमला हुआ उस समय जेल में रात की ड्यूटी बदल रही थी और सुबह की शिफ्ट चार्ज ले रही थी. चश्मदीदों के मुताबिक हमलावर बड़ी गाड़ियों में आए थे. इनमें से कुछ पुलिस की वर्दी में थे. इनकी गाड़ियों की डिक्की में हथियार रखे हुए थे. ये लोग फायरिंग करते हुए अंदर घुसे और फिर कैदियों को लेकर फरार हो गए थे.
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: भोपाल एनकाउंटर दोहराना चाहती है पुलिस, पढ़ें, क्या लिखा नाभा जेल से फरार कैदी ने अपने फेसुबक पर Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल