ताज़ा ख़बर

नोटबंदी पर घिरी मोदी सरकार, संसद के भीतर शोर, बाहर कांग्रेस का प्रदर्शन

नई दिल्ली। नोटबंदी पर संसद में विपक्षी दलों का हंगामा जारी है. सोमवार को 11 बजे से लोकसभा-राज्यसभा की कार्यवाही शुरू हुई. नोटबंदी को लेकर दोनों ही सदनों में विपक्ष ने हंगामा किया. विपक्ष के हंगामे पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, 'नोटबंदी पर सरकार चर्चा के लिए तैयार है. सदन में ये हंगामे की जरूरत नहीं है. अगर विपक्ष चाहती है, तो पीएम सदन में आएंगे और बहस करेंगे. नोटबंदी पर विपक्ष हंगामा क्यों कर रही है, बहस क्यों नहीं.'? हंगामे के बाद लोकसभा और राज्यसभा की कार्यवाही दोपहर 2 बजे तक स्थगित कर दी गई है. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने नोटबंदी पर कहा कि पीएम को आने दीजिए और हमसे सदन के अंदर बात करने दीजिए. कांग्रेसी सांसदों ने संसद परिसर में भी नोटबंदी के ख‍िलाफ प्रदर्शन किया. सपा सांसद मुलायम ने कहा कि नोटबंदी से किसानों को परेशानियां हो रही हैं. पीएम संसद में बयान दें. इसके पहले नोटबंदी पर संसद में सुबह 9:30 बजे से विपक्षी दलों की भी मीटिंग हुई. मीटिंग में ये तय हुआ कि नोटबंदी पर पीएम ने जो बयान दिया है, उसके लिए उन्हें विपक्ष से माफी मांगनी चाहिए. सुबह 10:30 बजे पीएम मोदी ने बीजेपी के वरिष्ठ मंत्रियों के साथ संसद में मीटिंग बुलाई. शुक्रवार सुबह 11 बजे से लोकसभा-राज्यसभा की कार्यवाही शुरू हुई. राज्यसभा में विपक्षी सदस्यों ने पीएम को बुलाने की मांग के साथ फिर हंगामा किया, जिसके बाद सदन को 2.30 बजे तक स्थगित कर दिया गया. वहीं, हंगामे के चलते लोकसभा को 28 नवंबर तक स्थगित कर दिया गया है. इस बीच कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि मोदी जी पहले हंस रहे थे, फिर रोने लगे. अपनी भावनाएं संसद में आकर दिखाएं पीएम. हंगामे के बाद राज्यसभा भी 28 नवंबर तक स्थगित कर दी गई थी. नोटबंदी पर बहस के लिए विपक्षी दल पीएम मोदी को संसद बुलाने पर अड़े हुए हैं. सभी दलों का कहना है कि नोटबंदी से आम लोगों को काफी परेशानी हो रही है. पीएम को इस पर कोई फैसला लेना चाहिए. इतना ही नहीं विपक्षी दलों ने पीएम से अपने बयान पर माफी मांगने की मांग की जिसमें पीएम ने कहा था कि विपक्ष को हमारी तैयारियों से दिक्कत नहीं हैं बल्कि नोटबंदी के ऐलान ने उन्हें तैयारी करने का मौका नहीं दिया इसलिए भड़के हैं वो. राज्यसभा में पीएम मोदी के विपक्षी दलों से माफी मांगने की मांग पर बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि पीएम ने कालेधन को लेकर अपने बयान में विपक्ष का नाम ही नहीं लिया. विपक्ष इसे मुद्दा क्यों बना रही है. वहीं. बीजेपी सांसद डॉक्टर जितेंद्र सिंह ने कहा, 'पीएम के माफी मांगने का सवाल ही पैदा नहीं होता. सदन में चर्चा चलती रहती है, जरूरी नहीं है कि पीएम लगातार बैठे रहे. पीएम तो कारोबारी के बारे में कह रहे थे ये क्यों चिंतित हैं. उन्होंने विपक्ष के बारे में ये बयान नहीं दिया.'
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: नोटबंदी पर घिरी मोदी सरकार, संसद के भीतर शोर, बाहर कांग्रेस का प्रदर्शन Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल