ताज़ा ख़बर

मोदी के वाराणसी में रोड शो कर यूपी चुनाव का बिगुल फूंकेगी सोनिया गांधी

उत्तर प्रदेश में विपक्षियों को आक्रामक होकर साधेगी कांग्रेस शीला दीक्षित होंगी बस में सवार 
नई दिल्ली। देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में कांग्रेस की अध्यक्ष सोनिया गांधी रोड शो के जरिए 2017 में होने वाले यूपी विधानसभा चुनाव का बिगुल फूंकने वाली हैं. भारत के सबसे बड़े और राजनीतिक रूप से सबसे अहम राज्य उत्तर प्रदेश में कांग्रेस शनिवार से चुनावी बिगुल फूंकने जा रही है। पार्टी ने वोटरों को आकर्षित करने के लिए 23 जुलाई से बस यात्रा शुरू करने की घोषणा की है। कांग्रेस की यह तीन दिवसीय बस यात्रा '27 साल यूपी बेहाल' दिल्ली से शुरू होकर कानपुर तक जाएगी, जिस पर राज्य में पार्टी की सीएम उम्मीदवार 78 वर्षीय शीला दीक्षित के साथ पार्टी के राज्य प्रमुख बनाए गए अभिनेता से नेता राज बब्बर सवार होंगे। पार्टी प्रमुख सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी अकबर रोड पर पार्टी मुख्यालय से बस को रवाना करेंगे और सफर के दौरान पार्टी के शीर्ष नेता जगह-जगह रुक कर पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे। यूपी में कांग्रेस के चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने '27 साल, यूपी बेहाल' को पार्टी का मुख्य चुनावी नारा बनाने का फैसला किया है। यहां इस नारे के जरिये किसी एक पार्टी को नहीं, बल्कि राज्य की सत्ता से कांग्रेस के बेदखल होने के बाद यहां शासन करने वाली प्रत्येक पार्टी को निशाने पर लिया जाएगा। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और यूपीसीसी प्रचार कमेटी के प्रमुख संजय सिंह कहते हैं, 'यात्रा उत्तर प्रदेश के लोगों को राज्य में पिछले 27 साल में समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और बीजेपी की बनने वाली सरकारों की असफलता और कुप्रशासन पर संदेश देगी।' साथ ही कहा, 'हम इस तरह अभियान चलाएंगे कि हर वोटर से कम से कम तीन या चार बार संपर्क हो पाए।' यह पूछे जाने पर कि क्या प्रियंका गांधी भी यात्रा का हिस्सा होंगी, उन्होंने कहा, 'हम कई वर्षों से मांग कर रहे हैं कि वह सक्रिय भूमिका निभाएं और हम आश्वस्त हैं कि वह इस बार हमारी मांग मान लेंगी।' सूत्रों के मुताबिक, अगले हफ्ते 29 जुलाई को कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी लखनऊ में 50,000 पार्टी कार्यकर्ताओं से मिलेंगे और वहां यूपी में चुनाव अभियान की अगुवाई के लिए चुने गए नेताओं की टीम को पार्टी सदस्यों से मिलवाएंगे। वहीं इसके बाद 2 अगस्त को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में रोडशो किए जाने की संभावना है। गौरतलब है कि कांग्रेस का चुनावी अभियान ऐसे वक्त शुरू हो रहा है, जब राज्य की चार बार मुख्यमंत्री रह चुकीं मायावती सुर्खियों में बनी हुई हैं। 69 वर्षीय इस दलित नेता ने पीएम के गृह राज्य गुजरात में कथित गौ रक्षकों द्वारा दलितों की निर्मम पिटाई और इसका वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर डाले जाने को लेकर संसद में बीजेपी पर सख्त प्रहार किया और उसे बैकफुट पर ला दिया। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी 2 अगस्त को रोड शो करने जा रही हैं. सोनिया गांधी का यह रोड शो 2017 के यूपी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के प्रचार अभियान का शंखनाद हो सकता है. इस दौरान सोनिया गांधी इस रोड शो के जरिए वाराणसी में लोगों से मिलने के साथ-साथ अपने पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं में जोश का संचार करेंगी. कांग्रेस अध्यक्ष की तरफ से स्वीकृति मिलने के बाद वाराणसी के पिंडरा विधानसभा सीट से कांग्रेस विधायक और वाराणसी मंडल प्रभारी अजय राय ने बताया कि सोनिया गांधी ने 2 अगस्त को वाराणसी आना स्वीकार कर लिया है. हालांकि अभी इसकी आधिकारिक घोषणा नहीं हुई है लेकिन अजय राय ने बताया कि जल्द ही आधिकारिक घोषणा के साथ-साथ दो-तीन दिनों में ही रोड शो का पूरा कार्यक्रम तैयार कर लिया जाएगा. अजय राय ने बताया कि कांग्रेस बूथ लेवल पर काम कर रही है, और इस बार हमारी तैयारी ग्रास रूट और माइक्रो लेवल पर है. आपको बता दें कि वाराणसी मंडल के अन्तर्गत वाराणसी, गाजीपुर, चंदौली और जौनपुर चार जिले आते हैं. इस रोड शो में कांग्रेस सीएम प्रत्याशी शीला दीक्षित, कांग्रेस प्रदेश प्रभारी गुलाम नबी आजाद, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर के साथ कई पूर्व मंत्री भी शामिल होंगे.
राहुल गांधी का नया प्लान, बनायी फीडबैक की रणनीति 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के यूपी के गोरखपुर के दौरे के बाद अब दूसरी पार्टियों के बड़े नेता भी चुनाव मैदान में आकर दो-दो हाथ करने की फिराक में हैं. इसी क्रम में यूपी में उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर की नियुक्ति और दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किये जाने के बाद पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी 29 जुलाई को राज्य के पहले दौरे पर आयेंगे. राहुल का उत्तर प्रदेश दौरा पार्टी की रणनीति के हिसाब से काफी महत्वपूर्ण होगा लेकिन राहुल गांधी के लिये चुनौतियां बरकरार है. पार्टी के अंदरखाने शीला दीक्षित को मुख्यमंत्री उम्मीदवार घोषित किये जाने के बाद सबकुछ ठीक चल रहा है इस बात का पता करना भी राहुल के लिये चुनौती होगी. बीजेपी ने जिस प्रकार अपने बुथ स्तर तक के कार्यकर्ताओं को अलर्ट किया है. उस तरह अभी कांग्रेस के किसी बड़े नेता ने अपनी पार्टी के अंदर यह कवायद नहीं की है. राजनीतिक जानकार मानते हैं कि पार्टी के कई वफादार और पुराने नेता राहुल गांधी के यूपी आने का इंतजार कर रहे हैं. ताकि उन्हें वर्तमान परिस्थितियों से अवगत करायें. राहुल गांधी को उन सभी नेताओं की समस्याओं को ध्यान से सुनना होगा. राहुल के दौरे को लेकर प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता ने बताया है कि इस दौरे पर राहुल पार्टी के बूथ स्तरीय कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों के साथ एक एक करके बातचीत करेंगे और अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर पार्टी संगठन के बारे में जानकारी लेंगे. प्रवक्ता ने यह भी बताया कि बूथ स्तरीय कार्यकर्ताओं एवं पदाधिकारियों से राहुल की बातचीत का यह कार्यक्रम रमाबाई मैदान पर होगा और इसके लिए कार्यकर्ताओं को अपना पंजीकरण कराना पड़ेगा. यूपी कांग्रेस के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ने विधानसभा चुनाव के मद्देनजर उन कार्यकर्ताओं पर अपनी निगाहें केंद्रीत कर दी हैं जो पार्टी के अंदर सक्रिय हैं और तेज तर्रार माने जाते हैं. राज बब्बर ने इस बार ऐसे कार्यकर्ताओं को कुछ अतिरिक्त जिम्मेदारी भी सौंपने जा रहे हैं. राज बब्बर ने उन चर्चाओं पर भी विराम लगा दिया है जिसमें कहा जा रहा था कि प्रदेश में पार्टी कार्यकारिणी में बदलाव किये जायेंगे. कहा जा रहा है कि ऐन चुनाव के वक्त बदलाव करने से पार्टी के अंदर विरोध के स्वर पनप सकते हैं. अभी राज बब्बर पुरानी टीम के साथ ही काम करते रहेंगे.
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: मोदी के वाराणसी में रोड शो कर यूपी चुनाव का बिगुल फूंकेगी सोनिया गांधी Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल