ताज़ा ख़बर

मथुरा में अतिक्रमण हटाने गई पुलिस पर हमला, एसपी सिटी और एसओ हुए शहीद

मथुरा। ऑपरेशन जवाहरबाग की रिहर्सल करने पहुंची पुलिस फोर्स पर गुरुवार को अवैध कब्जाधारियों ने हमला कर दिया। उनकी फायरिंग और बमबारी में एसपी सिटी मुकुल द्विवेदी और एसओ फरह संतोष कुमार यादव शहीद हो गए। वहीं एक कब्जाधारी की भी मौत हो गई। हमले में 40-50 पुलिस और पीएसी के जवान भी घायल हुए हैं। पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए कब्जाधारियों को बलपूर्वक जवाहरबाग से खदेड़ दिया। रात होते-होते बड़ी संख्या में कब्जाधारियों को गिरफ्तार कर लिया गया। कमिश्नर प्रदीप भटनागर जांच अधिकारी बनाए गए हैं। गुरुवार शाम ऑपरेशन जवाहरबाग की रिहर्सल के लिए एसएसपी राकेश कुमार, एसपी सिटी मुकुल द्विवेदी, सिटी मजिस्ट्रेट रामअरज यादव, एसओ फरह संतोष कुमार यादव और अन्य कई पुलिसकर्मी जवाहरबाग की पिछली बाउंड्रीवाल की ओर पहुंचे। उन्होंने कार्रवाई की तैयारी के लिए नगरपालिका की जेसीबी से जवाहरबाग की बाउंड्रीवाल को तोड़ना प्रारंभ किया। इसी दौरान अवैध कब्जाधारी हिंसक हो गए। उन्होंने अधिकारियों को निशाना बनाकर गोलीबारी और बमबारी शुरू कर दी। साथ ही अपनी झोपड़ियों में आग लगा दी। अवैध कब्जाधारियों ने एसपी सिटी और सिटी मजिस्ट्रेट को घेर लिया और उनकी पिटाई शुरू कर दी। उन्हें बचाने आए चार-पांच सिपाहियों को पीटते हुए अवैध कब्जाधारी खींचकर अपनी झोपड़ियों की ओर ले गए। एसओ फरह संतोष यादव बचाने आए, तभी कब्जाधारियों की ओर से हुई फायरिंग में एसओ फरह, एसपी सिटी मुकुल द्विवेदी, एसओ सदर प्रदीप कुमार समेत करीब 40-50 पुलिस और पीएसी के जवान भी घायल हो गए। अस्पताल ले जाते समय एसओ फरह की मौत हो गई, जबकि एसपी सिटी को गंभीर हालत में मथुरा के नयति अस्पताल ले जाया गया, जहां रात करीब 11.30 बजे उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। कमिश्नर प्रदीप भटनागर ने एसओ और एसपी सिटी के शहीद होने और एक कब्जाधारी के मारे जाने की पुष्टि की है। उधर पुलिस की जवाबी कार्रवाई को देख कब्जाधारियों को जिधर जगह मिली, उधर ही भाग खड़े हुए। बड़ी संख्या में कब्जाधारियों को गिरफ्तार किया गया है। डीएम राजेश कुमार और एसएसपी राकेश कुमार लगातार ऑपरेशन में मुस्तैद रहे। घटना की जानकारी पर मंडलायुक्त आगरा व आईजी भी देर शाम मौके पर पहुंच गए। उनका कहना है कि कब्जाधारियों की तरफ से मृतकों की संख्या बढ़ भी सकती है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं। उनके निर्देश पर कमिश्नर आगरा प्रदीप भटनागर को जांच अधिकारी नियुक्त किया गया है। यह जानकारी सरकारी प्रवक्ता ने देर रात दी। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मथुरा के प्रकरण में शहीद हुए एसओ संतोष यादव के परिवार को 20 लाख की आर्थिक सहायता की घोषणा की है। मंडलायुक्त प्रदीप भटनागर ने मथुरा पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया। उन्होंने कहा कि कब्जाधारियों की हरकतें नक्सली जैसी हैं। उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। मंडलायुक्त अस्पताल भी पहुंचे। एसपी और एसओ के शहीद होने पर दुख जताते हुए सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि राज्य सरकार शोक संतृप्त परिवारों की हरसंभव मदद करेगी। दोषियों की तत्काल गिरफ्तारी और उनके खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई किए जाने के निर्देश पुलिस को दिए हैं। डीजीपी जावीद अहमद ने पुष्टि करते हुए कहा कि मथुरा के एसपी सिटी मुकुल द्विवेदी का भी देहांत हो गया है। उन्होंने अपने ट्विटर पर इसकी पुष्टि करते हुए शोकसंवेदना व्यक्त की है। उन्होंने कहा कि इस मामले में दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा। कड़ी कार्रवाई होगी।
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: मथुरा में अतिक्रमण हटाने गई पुलिस पर हमला, एसपी सिटी और एसओ हुए शहीद Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल