ताज़ा ख़बर

पेट्रोल 3 और डीजल 2 रुपए/लीटर महंगा, आखिर मोदी सरकार जनता को क्यों कर रही तंग?

नई दिल्ली। पेट्रोल 3.07 रुपए और डीजल 1.90 रुपए/लीटर महंगा हो गया है। नए रेट बुधवार आधी रात से लागू होंगे। पेट्रोल में लगातार सात बार की कटौती के बाद रेट बढ़ाए गए हैं। डीजल लगातार तीसरी बार महंगा हुआ है। सरकार दोनों पर एक्साइज ड्यूटी लगाती है। इस वजह से उसे अच्छा रेवेन्यू मिलता है। इंटरनेशनल मार्केट में पिछले एक साल में क्रूड ऑयल के प्राइस लगातार कम हुए पर सरकार ने एक्साइज ड्यूटी बढ़ाकर आम आदमी तक पूरा फायदा नहीं पहुंचने दिया। दिल्ली में पेट्रोल अब 56.61 रुपए/लीटर की जगह 59.68 रुपए/लीटर मिलेगा। मुंबई में गुरुवार से एक लीटर पेट्रोल के लिए आपको 62.75 की जगह 65.79 रुपए देने होंगे। कोलकाता में भी अब एक लीटर के लिए 61.35 की जगह 63.76 रुपए खर्च होंगे। वहीं, चेन्नई में एक लीटर पेट्रोल की कीमत 56.07 से बढ़कर 59.13 रुपए हो जाएगी। दिल्ली में अभी डीजल 46.43 रुपए/लीटर है। आज आधी रात से ये 48.33 रुपए/लीटर हो जाएगा। कोलकाता में डीजल अब 49.14 की जगह 50.75 रुपए/लीटर मिलेगा। मुंबई में डीजल की कीमत 53.06 से बढ़कर 55.06 रुपए/लीटर हो जाएगी। चेन्नई में भी डीजल अब 47.13 की जगह 49.09 रुपए/लीटर मिलेगा। भारत अपनी जरूरत का 75 से 80% कच्चा तेल इम्पोर्ट करता है। पेट्रोल-डीजल के रेट सरकार के कंट्रोल में नहीं हैं, बल्कि बाजार के हवाले हो चुके हैं। इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड ने बताया कि पेट्रोल और डीजल की मौजूदा कीमतों और डॉलर के मुकाबले रुपए के एक्सचेंज रेट के चलते दाम बढ़ाए गए हैं। इसी का इम्पैक्ट कंज्यूमर्स पर पड़ेगा। देश की बड़ी तेल कंपनियां हर महीने की 1 और 16 तारीख को फ्यूल रेट रिवाइज करती हैं। इंटरनेशनल मार्केट में ऑयल की कीमतों में तेजी से कटौती हुई थी, लेकिन इसका फायदा आम लोगों को नहीं मिला। सरकार ने नवंबर से पांच मौकों पर एक्साइज ड्यूटी बढ़ाई है। पेट्रोल पर सरकार 4 रुपए/लीटर और डीजल पर 7 रुपए/लीटर की एक्साइज ड्यूटी लगती है। इससे सरकार को 17 हजार करोड़ रुपए का एडिशनल रेवेन्यू मिला है। 2014-15 में सरकार को पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज ड्यूटी के कारण 74465 करोड़ रुपए का रेवेन्यू मिला था। पेट्रोल के दाम लगातार सात बार घटाने के बाद बढ़ाए गए हैं। डीजल में यह लगातार तीसरी बढ़ोतरी है। पिछले साल 16 नवंबर के बाद यह पहला मौका जब पेट्रोल महंगा हुआ है। इससे पहले 29 फरवरी को डीजल और पेट्रोल के प्राइस रिवाइज हुए थे। इसी दिन अरुण जेटली ने बजट पेश किया था। एक मार्च को पेट्रोल 3.02 रुपए/लीटर सस्ता हुआ था। जबकि डीजल के दाम में 1.47 रुपए प्रति लीटर का इजाफा किया गया था। दिल्ली में इस वक्त डीजल 46.43 रुपए/लीटर जबकि, पेट्रोल 56.61 रुपए/लीटर है। फरवरी के तीसरे हफ्ते में भी क्रूड ऑयल की कीमत में थोड़ी मजबूती के बीच तेल कंपनियों ने पेट्रोल प्रति लीटर 32 पैसे घटा दिया था और डीजल प्रति लीटर 28 पैसे बढ़ा दिया था।
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: पेट्रोल 3 और डीजल 2 रुपए/लीटर महंगा, आखिर मोदी सरकार जनता को क्यों कर रही तंग? Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल