ताज़ा ख़बर

राज्यपालों को राष्ट्रपति की नसीहत, संविधान के दायरे में रहकर निभाए अपना दायित्व

नई दिल्ली। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने शुक्रवार को देश के राज्यपालों को एक साथ कई नसीहतें दे दी हैं. राष्ट्रपति ने उनसे कहा कि वह संविधान के दायरे में रहकर अपना दायित्व निभाएं और केंद्र के साथ राज्य के रिश्तों को मजबूत करें. यही नहीं राष्ट्रपति ने नए साल के अवसर पर राज्यपालों को दिए अपने मंत्र में कहा कि राज भवनों को स्मार्ट राज भवन बनाया जाए. राष्ट्रपति भवन से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से राज्यपालों को दिए नए साल के संदेश में मुखर्जी ने कहा कि संसदीय लोकतंत्र में राज्यपाल संबंधित राज्यों के संवैधानिक प्रमुख होते हैं. राष्ट्रपति ने कहा, 'उन्हें संविधान की रूपरेखा के अंतर्गत अपनी जिम्मेदारियां और कर्तव्य अदा करने चाहिए. दूसरे शब्दों में कहें तो उन्हें राज्य के तीन अंगों-कार्यपालिका, न्यायपालिका और विधायिका के विशिष्ट अधिकारों व जिम्मेदारियों का सम्मान करते हुए उन्हें दी गई जिम्मेदारी अदा करनी चाहिए.' उन्होंने कहा कि राज्यपालों को अपने विवेक, अनुभव और नैतिक अधिकारों के साथ केंद्र व राज्यों के बीच एक सौहार्दपूर्ण संबंध बनाने में मदद करनी चाहिए जो राज्य और उसकी जनता के सर्वश्रेष्ठ हित में होगा. राष्ट्रपति ने राज्यपालों से कहा कि उन्हें अपने कुशल नेतृत्व और मुख्यमंत्रियों के साथ संतुलन के प्रभाव का इस्तेमाल केंद्र की योजनाओं का उपयोग करते हुए बदलाव प्रक्रिया में मदद में करना चाहिए. इन कार्यक्रमों में स्वच्छ भारत मिशन, स्मार्ट सिटी मिशन, डिजिटल इंडिया, मेक इन इंडिया, स्किलिंग इंडिया आदि हैं. इतिहास में रचि रखने वाले मुखर्जी ने 87 साल पुराने राष्ट्रपति भवन को नया रूप देने और आधुनिकीकरण के लिए कई कदम उठाए हैं. उन्होंने राज्यपालों को भी अपने-अपने राज भवनों में ऐसे ही कदम उठाने की सलाह दी, जिनमें से अधिकतर ऐतिहासिक हैं और जनता के देखने के लिए खुले हैं. राष्ट्रपति ने कहा, 'आप राज भवनों को स्मार्ट राज भवनों में तब्दील कर सकते हैं. हमने राष्ट्रपति भवन और राज भवनों के बीच ऑनलाइन संचार तथा संप्रेषण के लिए ‘ई-वे’ प्रणाली लागू की है.' मुखर्जी ने ऐतिहासिक महत्व के कई राज भवनों के संरक्षण की जरूरत बताई. राष्ट्रपति ने कहा, 'हमने राष्ट्रपति भवन में मानवोचित (ह्यूमन), उच्च तकनीक वाली (हाई-टेक) और ऐतिहासिक महत्व वाली (हेरिटेज) टाउनशिप बनाने का प्रयास किया है. इन तीन ‘एच’ के उद्देश्यों की प्राप्ति के लिए हमारी सभी गतिविधियों को तेज किया गया है.' मुखर्जी ने कहा कि राष्ट्रपति संपदा में बिजली और जल के उपयोग एवं कचरा प्रबंधन को तर्कसंगत बनाकर एक स्मार्ट टाउनशिप बनाने की परियोजना शुरू की गई है.
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: राज्यपालों को राष्ट्रपति की नसीहत, संविधान के दायरे में रहकर निभाए अपना दायित्व Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल