ताज़ा ख़बर

दादरी कांडः अखलाक की हत्या से गरमाई केंद्र व यूपी की सियासत

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के दादरी इलाके में गौ मांस खाने की अफवाह के चलते अखलाक की मौत और फिर केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा के बयान ने बिहार चुनाव से पहले उत्तर प्रदेश की राजनीति गर्मा दी है। केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा ने गुरुवार को 50 साल के अखलाक को पीटकर मार डालने की घटना को 'हादसा' बताते हुए कहा कि इसे 'सांप्रदायिक रंग' नहीं दिया जा सकता है। यूपी सरकार में कद्दावर मंत्री आजम खान ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा है कि वह 2017 से पहले एक और कत्लेआम चाहती है। मुजफ्फरनगर दंगों को बीजेपी के लिए कामयाब बताते हुए आजम ने कहा कि किसी ने गोश्त खाया, सिर्फ इस बात पर किसी की जान ले लेना, इसे देखकर मानवता भी शर्मा जाती है। उत्तर प्रदेश के दादरी इलाके में गौ मांस खाने की अफवाह के चलते अखलाक की मौत और फिर केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा के बयान ने बिहार चुनाव से पहले उत्तर प्रदेश की राजनीति गर्मा दी है। महेश शर्मा ने कहा था कि जिस परिवार के साथ ऐसा हुआ है, उसके आसपास और भी समुदाय के घर हैं, लेकिन किसी के साथ ऐसा कुछ भी नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि ये एक 'दुर्घटना' है। शर्मा के बयान से गुस्साए आजम ने कहा कि अगर भीड़ में इतनी ही बहादुरी है तो क्यों नहीं बंगाल, त्रिपुरा, मेघालय, असम, पुड्डुचेरी जाकर वह अपनी बहादुरी दिखाती है, जहां खुलेआम दुकानों पर गोश्त बिकता है। किसी कमजोर अकेले, मुसलमान को मार डालने से बड़ी नपुंसकता कुछ नहीं हो सकती। ये पाकिस्तान न जाने की सजा ही तो है। आजम ने यूपी पुलिस को भी आड़े हाथों लिया और कहा कि वहां लाउडस्पीकर से ऐलान होता रहा लेकिन पुलिस नहीं पहुंची। वहीं, इस मामले पर सिर्फ आजम ही नहीं बोले, बल्कि बीजेपी के विरोधी दलों के नेता के साथ-साथ कई हस्तियों ने भी पक्ष रखा। शोभा डे ने ट्वीट कर लिखा, 'मैंने अभी बीफ खाया है, आओ और मारो मुझे।' फिल्म अभिनेता ऋषि कपूर ने शोभा के ट्वीट को रीट्वीट किया। आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता आशुतोष ने इस मामले के जरिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि ये बहुत ही गंभीर घटना है। मोदी सिलिकॉन वैली जाते हैं, लेकिन पीएम के घर से कुछ किलोमीटर दूर एक व्यक्ति को मार दिया जाता है और उनके कैबिनेट मिनिस्टर इसका बचाव करते हैं। ये कौन सी विचारधारा है। कांग्रेस प्रवक्ता मीम अफजल ने कहा कि महेश शर्मा ऐसे बयान क्यों दे रहे हैं। ऐसे बयानों से ऐसा करने वालों का हौसला बढ़ता है। यूपी में बीजेपी विधायक संगीत सोम ने इसका आरोप एसपी सरकार पर मंढ़ दिया। सोम ने बीफ खाने को गलत बताया। एमआईएम के प्रमुख और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने इसे लोकतंत्र पर दाग करार दिया। उन्होंने कहा, 'जिस शख्स को मारा गया, उसका बेटा एयरफोर्स में है। सांस्कृतिक मंत्री को इसकी भर्त्सना करनी चाहिए थी। पीएम ऐसी घटना की निंदा करें।' ओवैसी ने राज्य सरकार को निशाने पर लिया और कहा कि राज्य में हमारे पास एसपी सरकार के रूप में नपुंसक सरकार है। वह गोश्त की जांच कर रही है। कांग्रेस नेता आरपीएन सिंह ने कहा कि बीजेपी यूपी को कम्युनल लैबरेटरी की तरह इस्तेमाल कर रही है। मुजफ्फरनगर को एसपी और बीजेपी दोनों ने फायदे के लिए इस्तेमाल किया था ये बात सामने आ गई है। बीजेपी की असली राजनीति विकास की नहीं सांप्रदायिकता की है। वहीं, भीड़ के हमले में जान गंवाने वाले अखलाक की मां ने मीडिया से कहा, 'हमें फिलहाल एक मकान में शिफ्ट कर दिया जाए क्योंकि हम गांव में नहीं रह पाएंगे। सरकार हमारी दूसरी बच्ची का इलाज कराए।' परिवार ने मामले की सीबीआई से जांच कराने की भी मांग की है। नोएडा के डीएम एनपी सिंह ने कहा कि गांव बिसाड़ा में दो जांच चल रही है। गांव में मर्डर और लाठीचार्ज की जांच चल रही है। इलाके में किसी को भी पंचायत करने की इजाजत नहीं दी जाएगी। जो लोग माहौल बिगाड़ेंगे उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए गए है।
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: दादरी कांडः अखलाक की हत्या से गरमाई केंद्र व यूपी की सियासत Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल