ताज़ा ख़बर

कांग्रेस के ‘हाथ’ को एक साल तक मिलेगा सोनिया का साथ, रहेंगी अध्यक्ष

नई दिल्ली। सोनिया गांधी एक और साल कांग्रेस अध्यक्ष बनी रहेंगी। राहुल गांधी के निकट भविष्य में पार्टी की बागडोर संभालने की संभावन नहीं है। पिछले साल लोकसभा चुनाव में अब तक के सबसे खराब प्रदर्शन के बाद व्यापक बदलाव लाने के विचार के साथ कांग्रेस कार्य समिति में पारित प्रस्ताव ने उन अटकलों पर अभी के लिए विराम लगा दिया है जिसमें कांग्रेस उपाध्यक्ष के लम्बे अवकाश से लौटने के बाद इस साल किसी समय उन्हें पदोन्नत करने की बात कही जा रही थी। कांग्रेस सूत्रों ने बताया कि चूंकि कांग्रेस पार्टी को इस वर्ष के अंत तक संगठनात्मक चुनाव को पूरा करना था, पार्टी अब इस आधार पर आंतरिक चुनाव को स्थगित करने के लिए चुनाव आयोग से अनुमति मांगेगी कि उसे पार्टी विधान में महत्वपूर्ण संशोधन करने के लिए अतिरिक्त समय की जरूरत है। पार्टी जल्द ही सीडब्ल्यूसी के इस निर्णय के बारे में चुनाव आयोग को सूचित करेगी। सोनिया गांधी एक और साल कांग्रेस अध्यक्ष बनी रहेंगी क्योंकि पार्टी ने आतंरिक चुनाव को एक साल के लिए टाल दिया है। सोनिया गांधी के नाम सबसे अधिक समय तक कांग्रेस प्रमुख बनने का रिकॉर्ड है। उन्होंने पार्टी की बागडोर 1998 में संभाली थी और उनका कार्यकाल इस वर्ष दिसंबर में समाप्त हो रहा है। कांग्रेस कार्य समिति ने पार्टी के पदों में अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, महिलाओं और अल्पसंख्यकों के लिए आरक्षण की सीमा को 20 प्रतिशत से बढ़ाकर 50 प्रतिशत करने के एक महत्वपूर्ण प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया। सोनिया गांधी ने इस बात पर जोर दिया कि केवल अपने सकारात्मक कार्यों के माध्यम से ही हम अपने संगठन के कामकाज में समाज के इन वर्गों की वृहद हिस्सेदारी सुनिश्चित कर सकते हैं। एक अन्य संशोधन के जरिए पार्टी ने सदस्यता की अवधि को पांच वर्ष से घटाकर तीन वर्ष कर दिया। इसके मद्देनजर संगठनात्मक चुनाव पांच वर्ष की बजाए तीन वर्ष पर कराना जरूरी हो जाएगा। दिसंबर 2010 में बुरारी के अधिवेशन में इसे पांच वर्ष कर दिया गया था। इससे कांग्रेस अध्यक्ष समेत पार्टी के सभी पदाधिकारियों का कार्यकाल अब पांच वर्ष की बजाए तीन वर्ष होगा। संगठनात्मक चुनाव के बाद कांग्रेस के पूर्ण अधिवेशन में कांग्रेस कार्य समिति के एक प्रस्ताव को मंजूरी दी जाएगी। जिसके बाद इन बदलाव को पार्टी के विधान में शामिल किया जाएगा। लोकसभा चुनाव एवं कई राज्यों के चुनाव में कांग्रेस के वोट प्रतिशत में कमी आने के बीच सोनिया ने कहा कि हमारी प्राथमिकता हमारे आधार को बढ़ाने और लोगों का विश्वास जीतना होगा।
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: कांग्रेस के ‘हाथ’ को एक साल तक मिलेगा सोनिया का साथ, रहेंगी अध्यक्ष Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल