ताज़ा ख़बर

जीरादेई विधानसभा क्षेत्रः शहर के साथ बोले देहात, राणा प्रताप-राणा प्रताप

मैरवा (सीवान, बिहार, भारत)। यद्यपि सीवान जिला में होने वाले विधानसभा चुनाव में करीब एक माह का वक्त बाकी है, लेकिन यहां की सियासत लगातार करवट बदल रही है। यदि चर्चा देश के पहले राष्ट्रपति डा.राजेन्द्र प्रसाद की जन्म स्थली जीरादेई क्षेत्र की करें तो यहां भी विभिन्न तरह के राजनीतिक रंग देखने को मिल रहे हैं। क्षेत्र के चर्चित समाजसेवी राणा प्रताप सिंह के पक्ष में बीती रात मैरवा के व्यवासायियों ने यह फैसला किया कि वे हर हाल में उनके साथ रहेंगे। इसी क्रम में जब मैरवा शहर के अलावा ग्रामीण इलाके के फैसले की बारी आई तो गांवों के लोगों ने भी एक सुर से आवाज लगाई- ‘राणा प्रताप-राणा प्रताप।’ मतलब ये कि भले राणा प्रताप सिंह को महागठबंधन से टिकट नहीं मिला तो क्या हुआ, वे चुनाव मैदान में पूरे जोश-ओ-खरोश से उतरें। शहरी-ग्रामीण दोनों क्षेत्र की जनता उनके साथ है। गौरतलब है कि जीरादेई विधानसभा सीट के जदयू के खाते में चले जाने से राणा प्रताप सिंह के बेटिकट होने के बावजूद उनके समर्थक यह चाह रहे थे कि वे चुनाव लड़ें। समर्थकों और क्षेत्र की जनता का मन टटोलने के लिए बुधवार की रात मैरवा नगर के व्यापारियों के साथ राणा प्रताप सिंह व उनके निकटस्थ लोगों की बैठक हुई। इस दौरान व्यापारियों ने तन-मन-धन से राणा प्रताप सिंह का साथ देने का वादा किया। गुरुवार को देहाती क्षेत्र के लोगों की चनइनियाडीह देवी मंदिर परिसर में हुई बैठक में राणा प्रताप सिंह के नाम की खूब गूंज रही। हर कोई यही चाह रहा था कि वे चुनाव लड़ें। सूत्रों का कहना है कि बैठक में पब्लिक की ओर यह आवाज भी आई कि यदि किसी अन्य सेक्युलर मोर्चे से भी टिकट का बंदोबस्त हो जाता है तो भी चुनाव लड़ने में किसी तरह की दिक्कत नहीं आनी चाहिए। आखिरकार जब शहर के साथ-साथ देहात की ओर से भी राणा प्रताप सिंह का नाम गूंजने लगा तो यह निर्णय हुआ कि चुनाव लड़ा जाएगा। अंत में भारी संख्या में उमड़ी ग्रामीणों की भीड़ व जनता के प्यार से अभिभूत राणा प्रताप सिंह ने सभी के प्रति हृदय से आभार प्रकट किया और जनाकांक्षाओं के अनुरूप चुनाव लड़ने का निर्णय लिया। बैठक में मुख्य रूप से अजय चौहान, रमेश सिंह, अरविन्द सिंह, संजीव जायसवाल, राजकुमार गुप्ता, कय्यूम असारी, आसिफ अली, दस्तगीर, सरफराज, अकबर, राधेश्याम, स्वामी नाथ, किशुनबिहारी दीक्षित, प्रभुनाथ मिश्रा, गणेश भगत, कंचन कुशवाहा, नन्दू नेता, सोनू सिंह, शमशुद्दीन, रामनरेश तिवारी, चंद्रमा सिंह, अशोक पाण्डेय पत्रकार, उद्देश्यर सिंह, विजय सिंह, शिवजी मिश्र, संजीव कुमार, गिरीश आदि मौजूद रहे। 
रिपोर्ट- रारंति, फोटो-सन्नी
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: जीरादेई विधानसभा क्षेत्रः शहर के साथ बोले देहात, राणा प्रताप-राणा प्रताप Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल