ताज़ा ख़बर

माने मांझी तो 'रूठे' गए पासवान

नई दिल्ली। बिहार में एनडीए ने सीटों की घोषणा हो गई है। भाजपा 160 सीट पर चुनाव लड़ेगी जबकि लोजपा 40 सीटों, आरएलडी 23 और मांझी की पार्टी 20 सीटों पर चुनाव लड़ेगी. मांझी की पार्टी के कुछ उम्मीदवार बीजेपी के चिन्ह पर चुनाव लड़ेंगे। इस बीच काफी मनाने के बाद मांझी माने हैं लेकिन बताया जा रहा है कि अब पासवान रूठ गए हैं। इसी कारण रामविलास पासवान के बेटे चिराग पासवान आधी रात को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से मिलने पहुंचे। इससे पहले सोमवार को सीटों की घोषणा करते हुए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि, हम सभी ने एकजुट होकर सीटों के बंटवारे पर अंतिम फैसला किया है। सोमवार दोपहर बीजेपी मुख्यासलय में एक प्रेस कॉन्फ्रें स आयोजित कर यह घोषणा की गई। बंटवारे को लेकर मांझी की नाराजगी के बाद सोमवार सुबह ही अंतिम सहमति बनी थी और शाह ने मांझी को मिठाई खिलाई थी। एनडीए में तनाव को लेकर पूछे गए सवाल पर शाह ने कहा कि उनके संगठन में कोई विवाद नहीं है और सबने मिलकर निर्णय लिया है। सबकुछ सुलझ चुका है जिसके बाद ही प्रेस कॉन्फ्रें स की है। ओवैसी को लेकर उन्हों ने कहा कि जो लोग उनसे डरे हुए हैं वो भाजपा पर इल्जाोम लगा रहे हैं। मुख्यलमंत्री और उपमुख्यकमंत्री के पद के सवाल पर उन्होंाने कहा कि इसका निर्णय एनडीए के विधायक करेंगे। बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि हमारा 185 सीटें जीतने का मिशन बरकरार है। शाह ने नीतीश के महागठबंधन पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि महागठबंधन में बिखराव हो चुका है, मुलायम का नाम लिए बिना उन्होंने कहा कि उनके मुखिया ही उनके साथ नहीं है। वहीं मोदी जी के नेतृत्वि में हम चारों दल मैदान में हैं। नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए उन्होंकने कहा कि बिहार जंगलराज की तरफ जा रहा है। मुख्यैमंत्री नीतीश कुमार जो विकास के आंकड़े बताते हैं वो दरअसल तब के हैं जब भाजपा वहां गठबंधन में थी लेकिन उसके बाद राज्यब जंगलराज की तरफ चला गया है। प्रधानमंत्री ने बिहार के लिए विशेष पैकेज का एलान किया लेकिन मुख्ययमंत्री ने उन्हेंत धन्य वाद तक नहीं कहा।
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: माने मांझी तो 'रूठे' गए पासवान Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल