ताज़ा ख़बर

रिश्तों के जाल में उलझी हत्या की एक खौफनाक वारदात

मुंबई। रिश्तों के जाल में उलझी हाल के वक्त की ये एक ऐसी कहानी जो न मालूम कब तक सुनी और सुनाई जाती रहेगी। एक मां अपनी सगी बेटी को दुनिया के सामने अपनी बहन बताती है और इसके बाद उस बेटी को उसी मां के सौतेले बेटे से प्यार हो जाता है। फिर तीन साल पहले अचानक वो बेटी गायब हो जाती है। अब तीन साल बाद उसी मां पर अपनी उसी बेटी के कत्ल का इल्जाम लगा है। ये मां कोई और नहीं बल्कि कभी टॉप 50 बिजनेसवुमेन में अपनी जगह बनाने वाली और मीडिया टायकून पीटर मुखर्जी की पत्नी इंद्राणी मुखर्जी हैं। मुंबई पुलिस अवैध हथियार के एक केस की तफ्तीश कर रही थी। इसी सिलसिले में श्याम राय नाम का एक शख्स इसी महीने 21 अगस्त को उसके हाथ लग जाता है। इसके बाद जैसे-जैसे श्याम मुंह खोलता जाता है खून की सबसे खौफनाक कहानी सामने आती जाती है। दरअसल शीना बोरा का कत्ल 24 अप्रैल 2012 को मुंबई से रायगढ़ जाने के दौरान कार के अंदर ही कर दिया गया था। मुंबई से करीब 103 किलोमीटर दूर रायगढ़ जिले के जंगल में एक महिला की अधजली लाश के कुछ हिस्से मिलते हैं। लोकल पुलिस मरने वाली की शिनाख्त करने की कोशिश करती है लेकिन कोई फायदा नहीं होता। तब रायगढ़ के एसपी आरडी शिंडे थे। शिंडे के मुताबिक शिनाख्त ना होने और कोई सबूत ना मिलने की वजह से रिपोर्ट लिखने के बाद पुलिस अधजली लाश के हिस्सों का संस्कार कर देती है। मुंबई पुलिस 43 साल के श्याम मनोहर राय नाम के एक शख्स को गिरफ्तार करती है। राय को अवैध रूप से पिस्टल रखने के सिलसिले में गिरफ्तार किया जाता है। इसी मामले में पुलिस जब उससे पूछताछ करती है तो अचानक राय बताता है कि वो पहले भी कई जुर्म कर चुका है। इनमें 2012 में एक मर्डर भी शामिल है। राय ही वो शख्स था जो पहली बार खुलासा करता है कि मर्डर करने के बाद उसने लाश को रायगढ़ के जंगलों में जला और दफना दिया था। इस सूचना पर मुंबई पुलिस जब रायगढ़ पुलिस से संपर्क करती है तो पता चलता है कि मई 2102 में सचमुच एक महिला की जली हुई लाश के कुछ हिस्से मिले थे। इसी के बाद मुंबई पुलिस की एक टीम फौरन रायगढ़ रवाना हो जाती है। वहां राय के बताए जगह पर खुदाई की जाती है तो पता चलता है कि राय सच बोल रहा है। खुदाई में एक महिला की लाश के कुछ हिस्से मिलते हैं। इसके बाद मुंबई पुलिस राय से जब और सख्ती से पूछताछ करती है तब वो पहली बार बताता है कि वो कुछ वक्त पहले पीटर मुखर्जी की पत्नी इंद्राणी मुखर्जी का ड्राइवर था और इंद्राणी के कहने पर ही उसने शीना बोरा नाम की महिला का कत्ल कर लाश रायगढ़ के जंगल में दफना दी थी। श्याम मनोहर राय ने पुलिस को बताया कि वो, उसका एक साथी और इंद्राणी शीना के साथ मुंबई के बांद्रा इलाके से रायगढ़ कार में गए थे। कार में ही उन्होंने पहले शीना की गला दबा कर हत्या कर दी और फिर रायगढ़ के सुनसान जंगल में पेट्रोल डाल कर लाश जलाने के बाद बाकी हिस्सा दफना दिया। राय के खुलासे और शुरूआती सबूत हाथ आते ही पुलिस ने मंगलवार शाम को इंद्राणी मुखर्जी को मुंबई में उनके घर से गिरफ्तार कर लिया। सूत्रों के मुताबिक पहले तो इंद्राणी न सिर्फ राय के इल्जामों से इंकार करती रहीं बल्कि यही कहती रहीं कि शीना उनकी बहन है और तीन साल से अमेरिका में रह रही है, लेकिन जब राय और उनका सामना कराया गया तो आखिरकार वो टूट गईं और कत्ल की बात कबूल कर ली। पुलिस सूत्रों के मुताबिक इंद्राणी ने माना कि शीना के साथ उसके रिश्ते अच्छे नहीं थे। 2012 में एक रोज इंद्राणी ने दोनों के बीच जारी विवाद को सुलझाने के बहाने शीना को बांद्रा में मिलने के लिए बुलाया फिर उसे कार मे बिठा लिया। कार में ड्राइवर श्याम राय के अलावा एक शख्स और था। इसके बाद कार में ही शीना की गला दबा कर हत्या कर दी गई। इंद्राणी के बाद पुलिस ने बुधवार शाम को उनके पूर्व पति संजीव खन्ना को भी कोलकाता से गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस की सारी तफ्तीश फिलहाल इंद्राणी मुखर्जी के रिश्तों और कारोबारी पैसों के इर्द-गिर्द ही घूम रही है। पुलिस सूत्रों की मानें तो शीना की अपने सौतेले भाई राहुल से रिश्ते और कुछ प्रापर्टी और पैसों को लेकर इंद्राणी से अनबन थी और यही उसके कत्ल की वजह बनी। पीटर मुखर्जी के मुताबिक वो अब तक इस सच से अनजान बने हुए थे और अब जब शीना के कत्ल की कहानी सामने आई है, उन्हें भी इस सच का पता चला है। पीटर मुखर्जी से शादी करने से पहले तक इंद्राणी मुखर्जी एक आम महिला थीं। स्टार इंडिया में एचआर में काम करती थीं लेकिन पीटर से शादी करते ही उनकी किस्मत का सितारा बुलंदी पर पहुंच गया। दौलत-शोहरत दोनों मिले लेकिन रिश्तों की जमीन पर उनके पैर हमेशा डगमगाते ही रहे। पीटर ने 2007 में 9x चैनल शुरु किया, इस कंपनी में वो खुद चेयरमैन बने और इंद्राणी को आईएनएक्स मीडिया की सीईओ बनाया। साल 2008 में वॉल स्ट्रील जनरल ने इंद्राणी को दुनिया की 50 बिजनेस वुमेन की लिस्ट में 41वां स्थान दिया लेकिन 2009 में पीटर और इंद्राणी दोनों ने कंपनी से इस्तीफा दे दिया।
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: रिश्तों के जाल में उलझी हत्या की एक खौफनाक वारदात Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल