ताज़ा ख़बर

गहराई से जानिए, मिस्ट्रियस केस बना शीना वोरा की हत्या की पूरी कहानी

मुम्बई/कोलकाता। 25 अगस्त् को शीना मर्डर केस में इंद्राणी की गिरफ्तारी के बाद यह केस कभी सुलझता, तो कभी उलझता नजर आया। पुलिस ने जब इस केस से जुड़े सभी किरादारों से पूछताछ की, तो नए-नए खुलासे होते रहे। शीना के मर्डर में सबसे पहली आरोपी तो इंद्राणी बनी लेकिन गिरफ्तारी के अगले दिन जब यह पता चला कि शीना इंद्राणी की बहन नहीं बेटी है, उसके बाद इतने राज खुले कि यह हत्यापकांड देश का सबसे मिस्ट्रि यस केस बन गया। 3 साल पहले यानी अप्रैल 2012 में हुए शीना मर्डर केस इंद्राणी से कितना जुड़ा है, इसका अंदाजा तब लगा जब उनके ऊपर शीना की हत्याे करने का आरोप लगा। स्टारर इंडिया के पूर्व सीईओ पीटर मुखर्जी की पत्नीक इंद्राणी मुखर्जी को पुलिस ने अरेस्टा कर लिया, इसके बाद जब पूछताछ शुरु हुई तो यह केस सुलझने की बजाए उलझता चला गया। इंद्राणी के दूसरे पति संजीव खन्नाब को जब हिरासत में लिया गया तो उसने बताया कि शीना इंद्राणी की बहन नहीं बल्‍िक बेटी थी। जिसे वह 15 सालों से अपनी बहन बनाकर पीटर के सामने लाती रही। वैसे इंद्राणी के लिए यह सब नॉर्मल था, क्योंतकि उनके बीते हुए समय पर नजर डालें, तो इंद्राणी की पर्सनल लाइफ काफी रहस्यममयी रही। कभी 4 पति की बात हो, या फिर देह व्याापार में पकड़े जाने की खबर...यह सभी उनके गुजरे वक्तय की कहानी साफ बयां करती हैं। पीटर मुखर्जी एक बहुत बड़े बिजनेसमैन हैं और इंद्राणी के चौथे पति हैं। इस केस में अभी तक साफ-सुथरे बने रहे पीटर मुखर्जी भी इस हत्याइकांड से जुड़े काफी राज जानते हैं। पीटर ने अपने पहले वाले बयान पर यूटर्न लेते हुए कहा कि शीना बोरा ने उन्हेंु पहले ही बता दिया था कि, वह उनकी सौतेली बेटी है लेकिन जब पीटर ने इंद्राणी से इस बारे में पूछा तो उसने साफ इंकार कर दिया था। हालांकि पीटर ने यह भी बताया कि, उन्हेंे शीना की बात पर शक भी हुआ। वैसे आपको बता दें कि, अभी तक पीटर यह बयान देते आए हैं कि वह शीना को इंद्राणी की बहन मानता था, उसे बेटी के बारे में पहले कुछ नहीं पता था। मुखर्जी ने यह भी बताया कि, शीना और इंद्राणी के असली रिश्तेट की कहानी खुद शीना ने उन्हें बताई थी। शीना मर्डर केस की पहली कड़ी इंद्राणी का ड्राइवर श्याकम है। क्यों कि पुलिस ने जब उसे गैर-कानूनी रूप से हथियार रखने के जुर्म में गिरफ्तार किया, तो उसने फिर बड़े-बड़े खुलासे किए। श्यााम ने ही बताया कि जिस दिन शीना मारी गई थी। वह गाड़ी चला रहा था और उस गाड़ी में इंद्राणी, संजीव और शीना तीन लोग बैठे थे। इंद्राणी और संजीव ने मिलकर ही शीना को मारा है। मिखाइल बोरा इंद्राणी मुखर्जी का बेटा है और शीना का भाई है। इस बीच जब पुलिस ने इंद्राणी के बेटे को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया तो उसने भी कई खुलासे किए। मिखाइल ने बताया कि, वह इंद्राणी से जुड़े कई राज जानता है और उसे डर है कि, शीना की तरह उसे भी ना मार दिया जाए। मिखाइल काफी डरा हुआ है, उसका मानना है कि अगला शिकार वह बन सकता है। हालांकि मिखाइल ने इस केस में पुलिस का पूरा सहयोग करने का वादा किया है। राहुल मुखर्जी इंद्राणी के चौथे पति पीटर मुखर्जी का बेटा है। पुलिस ने इस केस में जब राहुल मुखर्जी से पूछताछ की, तो उसने भी बताया कि शीना प्रेग्नेंपट थी और वह बच्चाु किसका था, यह नहीं पता चल सका। हालांकि इस बात को लेकर राहुल और शीना की अक्सेर लड़ाई भी हुआ करती थी। पुलिस ने राहुल से पूछा कि, जब शीना अचानक लापता हुई तो उसे फिकर क्योंु नहीं हुई। इस बात पर राहुल काफी देर खामोश रहा फिर बोला कि उसने ढूंढने की कोशिश की थी, लेकिन वह नहीं मिली। इस पूछताछ में राहुल ने यह भी बताया कि, पीटर को इस पूरे मामले की जानकारी थी। पीटर भी इंद्राणी का साथ दे रहे थे। इंद्राणी के पूर्व पति संजीव खन्ना से जब पुलिस ने पूछताछ की, तो नए खुलासे हुए। सूत्रों की मानें, तो पीटर से शादी के बाद इंद्राणी अपने पूर्व पति संजीव के साथ रिलेशन में थी। वह दोनों पीटर के पैसे से अय्याशी करते रहते थे। यह बात शीना को भी पता चल गई थी। वहीं संजीव के मुताबिक, इंद्राणी ने उसे यह भी बताया था कि शीना जो उसकी बेटी थी, वह दूसरे रिश्ते् में उसकी बहन भी लगती थी। संजीव ने आगे यह भी बताया कि, इंद्राणी शादी से पहले ही प्रेग्नेंोट थी और शीना वही बच्चील है। लेकिन इंद्राणी अपने परिवार के किसी शख्सी से ही गर्भवती हुई थी। वहीं इस केस में अब इंद्राणी के पिता उपेंद्र बोरा भी सामने आ गए हैं। उपेंद्र बोरा ने अपनी बेटी के दावे का खंडन करते हुए कहा कि, शीना बोरा उनकी बेटी नहीं थी। 80 वर्षीय उपेंद्र का कहना है कि, शीना उनकी बेटी नहीं थी। वह उसके नाना थे। वहीं उपेंद्र ने यह भी बताया कि, शीना का पिता सिद्धार्थ दास है। जबकि सिद्धार्थ दास पहले ही कह चुके हैं कि शीना और मिखाइल उसकी संतान नहीं है। अब ऐसे में शीना किसकी संतान है, इसका सच तो सिर्फ इंद्राणी ही जानती हैं। इस पूरे केस में मुंबई पुलिस कमिश्नर राकेश मारिया का रोल अहम है क्योंसकि इसकी जांच की जिम्मे दारी उनके ऊपर है। मारिया ने हत्यााकांड की जांच-पड़ताल करने के लिए इंद्राणी मुखर्जी को तो पहले ही अरेस्टन कर लिया था। लेकिन अब संजीव खन्ना को भी 31 अगस्तु तक पुलिस रिमांड में रखा है। मारिया ने बताया कि, संजीव ने शीना की हत्या की बात कबूल ली है और उसे आईपीसी की धारा 364(अपहरण), 302 (मर्डर), 201 (सबूतों को छुपाना) और 120-बी के तहत केस दर्ज किया है। इस केस में आपने कई किरदारों की कहानी समझ ली। लेकिन इनके अलावा इंद्राणी के करीबी दोस्तर भी बता चुके हैं कि, इंद्राणी के बेहद करीबी दोस्तअ ने यह भी बताया कि, मरने के दौरान शीना प्रेग्नेंभट थी। और यह संबंध राहुल के साथ थे या अन्यत किसी के साथ यह पता नहीं चल पाया। हालांकि दोस्ता ने यह भी दावा किया कि, जिससे शीना प्रेग्नें ट हुई थी वह इंद्राणी का कोई करीबी ही था। इसके अलावा अब पत्रकार वीर सांघ्वी ने भी नए राज खोले हैं। सांघ्वीर के मुताबिक, इंद्राणी ने उन्हेंक एकबार बताया था कि उसके सौतेले पिता उसका यौन शोषण करते थे जिसके चलते इंद्राणी को कम उम्र में ही घर छोड़ना पड़ा। बताते चलें कि सांघ्वीर इंद्राणी के सहयोगी रह चुके हैं। वह इंद्राणी की कंपनी आईएनएक्सड मीडिया में सीईओ (न्यू‍ बिजनेस) की पोस्टी पर काम करते थे। यही नहीं सांघ्वीए ने पीटर-इंद्राणी की जोड़ी को बंटी-बबली करार दिया है। (साभार inext)
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: गहराई से जानिए, मिस्ट्रियस केस बना शीना वोरा की हत्या की पूरी कहानी Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल