ताज़ा ख़बर

नीतीश को नरेन्द्र मोदी से भी ज्यादा लोकप्रिय नेता बताकर ऑपिनियन पोल ने डूबो दी भाजपा की लुटिया!

नई दिल्ली। बिहार में इस साल के आखिर में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर किए एक ऑपिनियन पोल में सत्ता की चाबी बीजेपी के खिलाफ बने महागठबंधन को मिलती दिख रही है। एबीपी-नीलसन के सर्वे के मुताबिक नीतीश कुमार के नेतृत्व में बने गठबंधन को 129 सीटें मिलेंगी। बीजेपी और उसके सहयोगी हालांकि ज्यादा पीछे नहीं हैं। उन्हें 112 सीटें मिल सकती हैं। अन्य सिर्फ दो सीटों पर सिमट जाएंगे। लोकप्रियता के मामले में नीतीश कुमार वोटरों की पहली पंसद रहे, वहीं एक सवाल के जवाब में वोटरों ने माना कि जीतन राम मांझी और पप्पू यादव के अलग होने से बीजेपी को फायदा होगा। एबीपी न्यूज-एसओएमएआर द्वारा 8-15 जुलाई के बीच बिहार की 73 सीटों पर कराए गए इस सर्वे में 8854 लोगों की राय ली गई। 52 फीसदी ने नीतीश को पहली पसंद बताया। 42 फीसदी के साथ सुशील कुमार दूसरे नंबर पर रहे। इस पोल के मुताबिक बिहार में नीतीश कुमार पीएम नरेंद्र मोदी से ज्यादा लोकप्रिय नेता हैं। इस सवाल के जवाब में 52 फीसदी वोटरों ने नीतीश को अपनी पहली पसंद बताया। पीएम नरेंद्र मोदी को 45 फीसदी वोट मिले। इस सवाल के जवाब में 48 फीसदी ने कहा कि एनडीए से सुशील कुमार मोदी टक्कर दे सकते हैं। शाहनवाज हुसैन को 10 फीसदी और रामविलास पासवलान को 6 और उपेंद्र कुशवाहा को 6 फीसदी को वोटरों से जब पूछा गया कि जीतनराम मांझी और पप्पू यादव के अपनी पार्टियों से अलग होने से किसे फायदा होगा तो, 61 फीसदी ने बीजेपी, 35 फीसदी ने जेडीयू बताया। इस सवाल के जवाब में 56 फीसदी ने माना कि विकास हुआ है, वहीं 40 फीसदी ने नहीं कहा। ऑपिनियन पोल में बेगुसराय, जमुई, मुंगेर, पटना, गया, नवादा वाले मगध क्षेत्र में बीजेपी को आगे दिखाया गया है। यहां बीजेपी गठबंधन को 37, जेडीयू को 25 सीटें मिलने का अनुमान जताया गया है। बेतिया, वैशाली, मुजफ्फरपुर, सीवान, सारण, हाजीपुर वाले बिहार के तिरहुत क्षेत्र में बीजेपी और जेडीयू गठबंधन में कांटे की टक्कर हो सकती है। पोल के मुताबिक यहां बीजेपी गठबंधन को 32 वह जेडीयू गठबंधन को 38 सीटें मिल सकती हैं। 42 सीटों वाले मिथिला क्षेत्र में जेडीयू गठबंधन को बड़ी बढ़त मिलने का अनुमान है। बीजेपी को 15 और जेडीयू को 27 सीटें मिलने का अनुमान। अररिया, किशनगंज, पूर्णिया, कटिहार, भागलपुर वाले पूर्वी बिहार में जेडीयू गठबंधन को भारी बढ़त मिल सकती है। कुल 42 सीटों में से बीजेपी को बस 9, जेडीयू को 33 सीटें मिलने का अनुमान 2010 के चुनाव में बीजेपी को 91, जेडीयू को 115, कांग्रेस को 4, आरजेडी को 22 अन्य को 11 सीटें मिली थीं।
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: नीतीश को नरेन्द्र मोदी से भी ज्यादा लोकप्रिय नेता बताकर ऑपिनियन पोल ने डूबो दी भाजपा की लुटिया! Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल