ताज़ा ख़बर

‘मोदी के नेतृत्व में संकुचित लोकतंत्र की ओर बढ़ रहा है देश'

हैदराबाद। पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश ने आरोप लगाया है कि नरेंद्र मोदी भारतीय इतिहास की अब तक की सबसे ज्यादा केंद्रीकृत सरकार चला रहे हैं, जिसमें वह अपनी कैबिनेट, बीजेपी और सांसदों को उनके अधिकारों से वंचित रख रहे हैं। सीनियर कांग्रेस लीडर रमेश ने यह आशंका भी जताई कि मोदी के नेतृत्व में देश 'संकुचित लोकतंत्र' की ओर बढ़ सकता है। उन्होंने कहा कि सरकार की कार्यशैली अकेले काम करने की है। यह बहुत निरंकुश और अधिकारवादी सरकार है जहां केवल मोदी की चलती है। उन्होंने कहा कि एनडीए सरकार के पिछले 10 महीने में लोकसभा को जिस तरह चलाया गया वह 'लगभग तानाशाही' प्रवृत्ति थी। रमेश ने कहा कि हम उदार लोकतंत्र थे, लेकिन अब अनुदार लोकतंत्र बनने के रास्ते पर बढ़ रहे हैं, क्योंकि प्रधानमंत्री के रूप में हमारे पास एक अधिनायकवादी शख्सियत है जो आम-सहमति में विश्वास नहीं करते और जो लोगों को साथ लेकर चलने में भी भरोसा नहीं करते। वे कहते हैं कि या तो मेरी सुनो या अपने रास्ते जाओ। उन्होंने दावा किया कि मोदी की कार्यशैली के चलते जनता का मोहभंग हो गया है।
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: ‘मोदी के नेतृत्व में संकुचित लोकतंत्र की ओर बढ़ रहा है देश' Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल