ताज़ा ख़बर

लालू यादव ने की जनता परिवार में आरजेडी के विलय की घोषणा

पटना। राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने अपनी पार्टी के जनता परिवार में विलय की औपचारिक घोषणा कर दी। पटना में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने कहा कि अब आगे की घोषणाएं मुलायम सिंह यादव करेंगे। जनता परिवार का फिर से गठन केंद्र में बीजेपी की सरकार से मुक़ाबले के लिए किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि देश समाजवादियों का एक निशान और एक मोर्चा मांग रहा है। इस घोषणा के साथ ही लालू प्रसाद यादव ने केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने जो वादे किए थे, उन पर तो वह अमल नहीं कर रही है और उनकी पार्टी के कई नेता बेतुके बयान दे रहे हैं। पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के बाद एक संवाददाता सम्मेलन में उन्होंने कहा, 'बीजेपी चीटर है, सबको सब्जबाग दिखाकर केंद्र में गद्दी पर बैठ गई और अब सब कुछ भूल गई है। चुनाव प्रचार के दौरान किए गए सभी वादों से उलट काम कर रही है।' पूर्व रेलमंत्री ने अपने खास अंदाज में एक चुटकुला सुनाते हुए कहा कि झूठ बताने वाला भगवान का घंटा भी बीजेपी के सत्ता में आने के बाद टन-टन बजने लगा है। उन्होंने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा, 'नरेंद्र मोदी का बिहार में ही 'खोंता' (घोंसला) उजड़ेगा।' यह पूछे जाने पर कि क्या बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी की पार्टी हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) को भी जनता परिवार में शामिल किया जाएगा, लालू ने कहा, 'मैं सभी धर्मनिरपेक्ष दलों को इसमें शामिल होने की अपील कर रहा हूं।' बैठक में इलियास हुसैन ने राजद का राजनीतिक प्रस्ताव पेश किया। इसके अलावा आर्थिक प्रस्ताव पर भी चर्चा की गई। वहीं, केंद्र सरकार की विफलताओं तथा भूमि अधिग्रहण विधेयक के विरोध की वजह बताने के लिए गांव-गांव तक जाने की बात पर सहमति बनी। बैठक में लालू प्रसाद के अलावा आरजेडी के वरिष्ठ नेता अब्दुल बारी सिद्दीकी, रघुवंश प्रसाद सिंह, रामचंद्र पूर्वे, सांसद राजीव रंजन उर्फ पप्पू यादव भी शामिल हुए। गौरतलब है कि आरजेडी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में 71 स्थायी और आमंत्रित सहित कुल 262 सदस्य हैं।
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: लालू यादव ने की जनता परिवार में आरजेडी के विलय की घोषणा Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल