ताज़ा ख़बर

‘समाज में आध्यात्मिक जागरूकता पैदा करने की दरकार’

‘बाबा हरिराम राऊर महिमा आपार’ ऑडियो सीडी का हुआ विमोचन, डीडीएफपी के वीडियो एलबम की शूटिंग शुरू 
मैरवा (सीवान)। पूर्वी उत्तर प्रदेश और पश्चिमी बिहार की प्रमुख तीर्थस्थली मैरवा धाम वाले बाबा हरिराम ब्रह्म की महिमा का बखान करने वाला भोजपुरी ऑडियो एलबम ‘बाबा हरिराम राऊर महिमा आपार’ का सोमवार को एक भव्य समारोह में विमोचन किया गया। इस दौरान वक्ताओं ने समाज में आध्यात्मिक जागरूकता पर बल दिया। इसी के साथ वीडियो एलबम के लिए शूटिंग का काम आरंभ हो गया। उल्लेखनीय है कि मैरवा धाम वाले बाबा हरिराम ब्रह्म के चार सौ वर्षों के इतिहास में पहली बार देव दर्शन फिल्म्स प्रोडक्शन (डीडीएफपी) द्वारा भोजपुरी ऑडियो एलबम ‘बाबा हरिराम राऊर महिमा आपार’ का निर्माण किया गया है। इस ऑडियो में बाबा हरिराम की महिमा का शिद्दत से गुणगान किया गया है। भोजपुरी ऑडियो विमोचन डीडीएफपी के मुख्यालय लंगड़पुरा (मैरवा) में किया गया। इस आध्यात्मिक ऑडियो के विमोचन के लिए दो दिवसीय अखंड पाठ का आयोजन किया गया। रविवार से अखंड पाठ की शुरूआत हुई थी जिसकी पूर्णाहुति सोमवार को हुई। तत्पश्चात ‘बाबा हरिराम राऊर महिमा आपार’ ऑडियो सीडी का विमोचन किया गया। कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि उप पुलिस अधीक्षक विजय कुमार तथा विशिष्ट अतिथि थाना प्रभारी अखिलेश कुमार मिश्रा मौजूद रहे। कार्यक्रम में चर्चित स्तंभकार राजीव रंजन तिवारी व फिल्मकार सौरभ पाण्डेय ने समाज में आध्यात्मिक जागरूकता पर बल दिया। वक्ताओं ने कहा कि आध्यात्म से जीवन जीने की शैली में निखार आता है। साथ ही धर्म के प्रति आस्था और विश्वास की रेखा भी चटख होती है। इससे पूर्व डीडीएफपी के चेयरमैन व निर्माता उपेन्द्र पाण्डेय ने अतिथियों का अभिनन्दन करते हुए कहा कि यदि सबका स्नेह और आशीष मिलता रहा तो इस भोजपुरी माटी पर कई सारे इतिहास रचे जाएंगे। ‘बाबा हरिराम राऊर महिमा आपार’ ऑडियो सीडी विमोचन समारोह की अध्यक्षता विश्वनाथ पाण्डेय व संचालन प्रख्यात भजन गायक बाल्मीकि बाबा ने किया। कार्यक्रम को सफल बनाने में उपेन्द्र व्यास, सुदामा दूबे, सोनू पाण्डेय, राधेश्याम, मोनू पाण्डेय, जगजीत पाण्डेय, अभिनेत्री मुस्कान पाण्डेय, रेणु गुप्ता, फिल्म निर्देशक साहिल खान, पं.वीरेन्द्र ओझा, विजय पाण्डेय, छोटे पाण्डेय, शिवकुमार पाण्डेय, कन्हैया तिवारी, शम्भू तिवारी, प्रेम तिवारी पप्पू, राकेश पाण्डेय, रितेश गोंड, अमितांशु राम, राम सनेही, दिलीप शर्मा, रंजन कुमार, अमन कुमार पाण्डेय आदि का विशेष योगदान रहा।
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: ‘समाज में आध्यात्मिक जागरूकता पैदा करने की दरकार’ Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल