ताज़ा ख़बर

किताब ‘द सील ऑफ सूर्या’ का हुआ विमोचन

नई दिल्ली। आधुनिकता के इस दौर में जहां युवा सोशल नेटवर्किंग साइट और आधुनिक तकनीक पर लेख लिख रहे हैं। वहीं अम्रितांशु नाम का एक ऐसा युवा हैं जिसने भारतीय इतिहास में सूर्यवंश के सबसे पराक्रमी राजा इच्छवाकु पर किताब लिखी है। ‘द सील ऑफ सूर्या’ नाम की इस किताब का दिल्ली में विमोचन हुआ। इस कार्यक्रम में पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट पूर्व चीफ जस्टिस मुकुल मुगदल समेत कई नामी लोगों ने हिस्सा लिया। ‘द सील ऑफ सूर्या’ एक ऐसी किताब है जो भारतीय इतिहास के सबसे पराक्रमी राजाओं में से एक इच्छवाकु की दास्तान को बयान करती है। इच्छवाकु सूर्यवंश के राजा थे और रामायण काल से पहले भी पुराणों में उनका जिक्र है। सूर्यवंश के राजा इच्छवाकु पर इस किताब को लिखा है। एक ऐसे युवा ने जिसने इतिहास को सिर्फ स्कूल तक ही पढ़ा, लेकिन इतिहास के पन्नों को कुरेदने की कोशिश ने उसे इस किताब लिखने तक पहुंचा दिया। दिल्ली के इंडिया हैबीटेट सेंटर में इस किताब का विमोचन किया गया। कार्यक्रम में पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट के पूर्व चीफ जस्टिस मुकुल मुगदल, पूर्व मुख्य सूचना आयुक्त वजाहत हबीबुल्ला, नेटवर्क 18 के प्रेसिडेंट न्यूज उमेश उपाध्याय समेत कई नामी लोगों ने हिस्सा लिया। सभी ने अम्रितांशु की इस शानदार कोशिश और उनकी किताब की काफी सराहना की। ऐसे अनोखे विषय पर लिखी गई इस किताब का इंटरनेट के जरिए भी प्रचार किया जा रहा है। नवरात्र के पहले दिन इसका विमोचन होने के बाद अब ये बाजार में भी उपलब्ध है।
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: किताब ‘द सील ऑफ सूर्या’ का हुआ विमोचन Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल