ताज़ा ख़बर

दरिंदों ने किया फैजाबाद की अपहृत छात्रा का कत्ल

फैजाबाद (अवनीश मिश्र)। वहशी दरिंदों ने एक छात्रा का अपहरण करके उसे मौत के घाट उतार दिया। शाम को बोलेरो पर जबरन उठाकर ले जायी गयी उक्त छात्रा देर रात्रि में बाराबंकी जनपद के सफदरगंज थाना अन्तर्गत ग्राम बघौर के पास राष्ट्रीय राजमार्ग के किनारे गंभीररूप से घायल अवस्था में पड़ी मिली। स्थानीय पुलिस ने उसे तुरंत ले जाकर लखनऊ स्थित ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया, जहां उपचार के दौरान सुबह करीब 8 बजे उसकी मौत हो गयी। इस सनसनीखेज आपराधिक घटना को लेकर अमानीगंज में तनावपूर्ण स्थिति बनी हुई है। सुरक्षा की दृष्टि से ऐतिहातन भारी संख्या में पुलिस व पीएसी लगा दी गयी है। इसके साथ ही घटना की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार करने के बाद उसकी निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त बोलेरो भी बरामद कर लिया। प्राप्त जानकारी के अनुसार खण्डासा थाना अंतर्गत अमानीगंज बाजार के पूरब नाका निवासी स्व. विष्णु दूबे की 18 वर्षीय पुत्री जो बीए प्रथम वर्ष की छात्रा थी, किसी सहेली से मिलने के लिए जाने की बात परिजनों से कहकर शनिवार की शाम करीब साढ़े सात बजे घर से निकली थी, लेकिन फिर वह वापस नहीं लौटी। बताया जाता है कि रुदौली कोतवाली अंतर्गत ग्राम बारी अंतर्गत नदीम पुत्र अनीस अमानीगंज बाजार में शोयेब मोबाइल केयर के नाम से दुकान चलाता है। उसने अपने दो अन्य साथियों की मदद से रात्रि करीब 8 बजे ज्योति को अकेला पाकर पकड़ लिया और बोलेरो नं. यूपी 42 एए 2488 पर जबरन घसीट कर बैठा लिया। इसके बाद वह रुदौली की तरफ भाग निकला। बताया जाता है कि ज्योति को लखनऊ ले जाने का प्रयास किया जा रहा था, लेकिन उसने रास्ते में विरोध करना शुरू कर दिया। इस पर अपहर्ताओं ने उसे ठण्डे से बुरी तरह मारा पीटा, उसी के दुपट्टे से उसका गला कस दिया और फिर उसे मृत समझ कर गाड़ी से नीचे धकेल दिया। इसी बीच देर रात में सफदरगंज थाने की पुलिस नियमित गश्त पर निकली थी, जिसने पीड़िता को आनन-फानन में ले जाकर रात्रि करीब 11 बजे ट्रामा सेंटर लखनऊ में भर्ती कराया, जहां सफदरगंज थाने के पुलिस इंस्पेक्टर ने उसका बयान रिकार्ड किया, जिसमें उसने अपने साथ हुई पूरी घटना का खुलासा किया। पुलिस के अनुसार पीड़िता ने अपने बयान में आपबीती घटना को नदीम की करतूत बताया है। आज सुबह ट्रामा सेंटर में उसकी मौत हो जाने के बाद शव का पोस्टमार्टम केजीएमसी लखनऊ में तीन डाक्टरों के पैनल से कराया गया। मृतका के भाई आशुतोष दूबे की सूचना पर खण्डासा थाने में नदीम व दो अज्ञात अभियुक्तों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज हुआ है। वादी आशुतोष ने स्थानीय पुलिस को घटना की सूचना रात्रि करीब 12.30 बजे दी, जिस पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में थाना मवई, पटरंगा, कुमारगंज, रौनाही एवं खण्डासा के थानाध्यक्षों और क्षेत्राधिकारी मिल्कीपुर नवीन नायक की संयुक्त टीम पुलिस अधीक्षक ग्रामीण पीयुष रंजन श्रीवास्तव के नेतृत्व में सक्रिय हो गयी। पुलिस ने मुख्य अभियुक्त नदीम को ग्राम डीली सरैया थाना खण्डासा से आज अपरान्ह करीब सवा दो बजे गिरफ्तार कर लिया और साथ ही उसकी निशानदेही पर वह बोलेरो भी बरामद कर लिया जो अपहरण की घटना में इस्तेमाल की गयी थी। इस घटना को लेकर अमानीगंज बाजार में आज कड़ी सुरक्षा व्यवस्था व भारी पुलिस बलों की तैनाती के बावजूद दहशत और तनाव का माहौल बना रहा। विरोध स्वरूप दोपहर बाद बाजार की सारी दुकाने बंद कर दी गयीं। पीड़ित परिवार के घर एवं आरोपी नदीम की दुकान के आसपास भी सुरक्षा-व्यवस्था कड़ी कर दी गयी है। बाजार में पूरी तरह सन्नाटा पसरा रहा और आसपास के कई थानों की पुलिस जगह-जगह तैनात रही। उधर, पुलिस अधीक्षक नगर आरएस गौतम ने आज एसएसपी कार्यालय में घटना का खुलासा करते हुए बताया कि इस संबंध में अन्य वैज्ञानिक साक्ष्य संकलित किये जा रहे हैं। अभियुक्त नदीम ने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया है। अपराध की गंभीरता को देखते हुए सभी आवश्यक विधिक कार्यवाहियां की जा रही हैं। उन्होंने बताया कि लखनऊ राष्ट्रीय राजमार्ग स्थित टोल प्लाजा के सीसीटीवी फुटेज में बोलेरो में पीड़िता के साथ नदीम अकेला दिखा है। पीड़िता ने ट्रामा सेंटर में अपने मृत्यु पूर्व बयान में नदीम का नाम स्पष्ट रूप से लिया है। उन्होंने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट देखकर उसी के अनुसार आगे की कार्रवाई की जायेगी।
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: दरिंदों ने किया फैजाबाद की अपहृत छात्रा का कत्ल Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल