ताज़ा ख़बर

विधानसभा चुनावों में नहीं मिलेगा भाजपा को संघ का साथ!

वैभव गंजापुरे, नागपुर। बीजेपी के नए अध्यक्ष अमित शाह को राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों में संघ का साथ नहीं मिलेगा। अध्यक्ष बनने के बाद पहली बार नागपुर पहुंचे शाह को संघ प्रमुख मोहन भागवत ने दो टूक लहजे में यह बात समझायी है। महाराष्ट्र समेत अन्य राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों में संघ की तरफ से पार्टी को मदद नहीं मिलेगी। अमित शाह पार्टी अध्यक्ष का पद संभालने के बाद सरसंघसंचालक से आशीर्वाद लेने पहुंचे थे। बीजेपी सूत्रों का कहना है कि भागवत ने अमित शाह से दिल्ली में बहुमत के बिना ही बीजेपी की सरकार बनाने की कोशिशों पर भी आपत्ति जताई है। संघ प्रमुख ने पार्टी अध्यक्ष को साफ तौर पर कहा है कि दिल्ली में फिर से विधानसभा चुनाव होने चाहिए। साथ ही चुनाव प्रचार के दौरान किए वादों को भी पूरा करना होगा। संघ प्रमुख ने पार्टी के 'मुख्य रणनीतिकार' शाह को स्पष्ट किया कि लोकसभा चुनावों में आरएसएस ने बीजेपी का भरपूर सहयोग किया था। जिसकी बदौलत आम चुनावों में बीजेपी को ऐतिहासिक बहुमत भी मिला। समर्थन की वजह थी कि देश के लिए कठिन समय था, ऐसे में एक मजबूत और निर्णायक सरकार की देश को जरूरत थी। बीजेपी के नए 'शाह' और संघ प्रमुख की इस मुलाकात में भविष्य की रणनीतियों पर भी चर्चा हुई। भागवत ने बीजेपी अध्यक्ष को सलाह दी कि संघ पर निर्भर रहने की जगह पार्टी संगठन को मजबूत बनाने पर ध्यान दिया जाए। कार्यकर्ताओं को आगामी विधानसभा चुनावों के लिए तैयार किया जाए। साथ ही महाराष्ट्र में होने वाले विधानसभा चुनाव में बीजेपी-शिवसेना गठबंधन को मजबूत बनाने का भी निर्देश दिया। नागपुर दौरे पर पहुंचे शाह का आरएसएस मुख्यालय में जोरदार स्वागत किया गया। 20 साल पुराने बीजेपी-शिवसेना गठबंधन में सीटों के बंटवारे को लेकर तनाव की बातें चल रही हैं। ऐसे में महाराष्ट्र में होने वाले विधानसभा चुनावों के मद्देनजर पीएम नरेंद्र मोदी के करीबी अमित शाह के इस दौरे को महत्वपूर्ण माना जा रहा है। वैसे सूत्रों का कहना है कि बीजेपी अध्यक्ष अपने दो दशक पुराने सहयोगी के साथ मतभेदों के पक्ष में नहीं हैं। हालांकि शाह के इस दौरे का पार्टी की परंपरा से जोड़कर देखा जा रहा है। इससे पहले भी पार्टी अध्यक्ष बनने पर कई नेता संघ मुख्यालय आते रहे हैं। राजनाथ सिंह और नितिन गडकरी ने भी पार्टी अध्यक्ष बनने के बाद नागपुर आकर संघ के वरिष्ठों से आशीर्वाद लेने की औपचारिकता निभाई थी। (साभार एनबीटी)
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: विधानसभा चुनावों में नहीं मिलेगा भाजपा को संघ का साथ! Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल