ताज़ा ख़बर

उत्तर प्रदेश में नियंत्रण में है कानून-व्यवस्थाः राजेन्द्र चौधरी

लखनऊ। सपा के प्रदेश प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने कहा है कि उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है। राष्ट्रीय स्तर पर अपराध के आंकड़ों में 21 राज्य उत्तर प्रदेश से आगे हैं। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के कड़े रूख के चलते कर्तव्य पालन में ढिलाई बरतनेवाले अधिकारी निलम्बित या स्थानान्तरित किए जा रहे हैं। उच्च अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश हैं कि वे कहीं कोई अप्रिय घटना घटे तो स्वयं भी उस स्थल पर जाएं। तत्काल कार्यवाही करें। उन्होने स्वंय भी जनपदो में औचक निरीक्षण कर प्रशासनतंत्र को चुस्त दुरूस्त होने का संदेश दे रहे हैं। वह प्रदेश के पुलिस प्रशासन के द्वारा पूरी मुस्तैदी से अराजक तत्वो की गतिविधियों पर निगाह रखे हैं। अपराधियों की खैर नहीं है। विडंबना है कि इसके बावजूद भी कुछ विपक्षी समाजवादी सरकार और मुख्यमंत्री की छवि पर अनर्गल टिप्पणियां कर रहे हैं। इसमें सबसे आगे बसपा की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती हैं जिनकी सत्ता ही कानून व्यवस्था बिगड़ने से गई। जनता उनके शासनकाल में हुई लूट और अपहरण, बलात्कार की घटनाओं से त्राहि-त्राहि करने लगी थी। बसपा की पूर्व मुख्यमंत्री ने कभी किसी पीड़ित दलित के आंसू पोंछने तो दूर उसको अपने दरवाजे की चौखट तक आने की इजाजत भी नहीं दी। समझ में नहीं आता है कि बसपा अध्यक्षा की बोली से भाजपा की सुश्री उमा भारती अपनी बांली क्यों मिला रही है। उन्हें भी प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव को जब तब चेतावनी देने का रोग लग गया है। जाने कौन से विकल्प के पत्ते वे छुपाए हुए है? जो लोग आज उत्तर प्रदेश की छवि को धूमिल करने का कुप्रयास कर रहे हैं वस्तुतः वे प्रदेश में बहुमत की सरकार बनानेवाले लाखों मतदाताओं का अपमान कर रहे हैं। यह जनादेश का खुला उल्लंघन है। लोकतंत्र में बहुमत की सरकार के काम में रोड़ा अटकाना पूर्णतया असंवैधानिक है। प्रधानमंत्री जी देश में राज्य के मुख्यमंत्रियों को भी विकास कार्यो में अपने साथ जोड़कर संघीय व्यवस्था को मजबूत बनाने की बात करते हैं और उनकी पार्टी तथा सरकार के लोग ही उससे उलट राज्य में अस्थिरता पैदा करने का अल्टीमेटम देते धूम रहे हैं। सीएम अखिलेश यादव यूपी को सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव के सपने का आदर्श प्रदेश बनाने का प्रयास कर रहे है। उनके सामने गम्भीर चुनौतियां हैं, जिनसे वे दृढ़संकल्प षक्ति के साथ निबट रहे हैं। प्रदेश में पिछली सरकार ने एक यूनिट बिजली नहीं पैदा की। अवस्थापना सुविधाओं का बंटाधार कर दिया। उद्योग लगे नहीं, रोजगार बढ़े नही। नौजवान, किसान, अल्पसंख्यक सहित समाज के सभी वर्ग परेशान रहे। अब इन सबके कल्याण की योजनाओं को अमली जामा पहनाया जा रहा है। समाजवादी सरकार प्रदेश का कायाकल्प करने को संकल्पित है।
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: उत्तर प्रदेश में नियंत्रण में है कानून-व्यवस्थाः राजेन्द्र चौधरी Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल