ताज़ा ख़बर

दिल्ली एयरपोर्ट जाते समय सड़क हादसे में केंद्रीय मंत्री गोपीनाथ मुंडे का निधन

नई दिल्ली। भाजपा के वरिष्ठ नेता व केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री गोपीनाथ मुंडे का कार दुर्घटना में घायल होने के बाद निधन हो गया। पार्टी के वरिष्ठ नेता व केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने उनके निधन की पुष्टि की। गडकरी
ने बताया कि मुंडे हवाई अड्डा जाने के लिए निकले थे। सुबह करीब 6 बजे उनकी कार की एक अन्य वाहन इंडिका से टक्कर हो गई, जिसमें वह बुरी तरह घायल हो गए। हालांकि दुर्घटना में मुंडे को किसी तरह की चोट नहीं आई, लेकिन लगता है कि वह दुर्घटना की वजह से लगे सदमे को नहीं झेल पाए। मुंडे ने कार की अगली सीट पर बैठे अपने सुरक्षाकर्मी से पानी मांगा और कहा कि उन्हें तुरंत अस्पताल ले जाएं। दुर्घटना के बाद मुंडे को उनके निजी सहायक और चालक द्वारा अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के अभिघात केंद्र ले जाया गया। एम्स के एक डाक्टर ने बताया कि जब मुंडे को अस्पताल लाया गया तो तब उनकी नब्ज नहीं चल रही थी, रक्तचाप नहीं था और उनका दिल भी रूक चुका था। तमाम प्रयासों के बावजूद मुंडे के शरीर में जान नहीं लौटी और उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। उन्होंने बताया कि मुंडे का अंतिम संस्कार राजकीय नियमों के साथ मराठवाड़ा के बीड जिले के वर्ली गांव में बुधवार को किया जाएगा। उनका शव विशेष विमान से लातूर जिले में ले जाया जाएगा। वहां से अंतिम संस्कार के लिए उनके शव को वर्ली गांव ले जाया जाएगा। दुर्घटना के बारे में चिकित्सकों ने सबसे पहले केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन को बताया। डॉक्टर हर्षवर्धन ने बताया कि मुंडे के निधन का वास्तविक कारण का पता पोस्टमार्टम से ही चल पाएगा। उन्हें जब अस्पताल लाया गया तो उनके हृदय की गति रुकी हुई थी। गडकरी ने बताया कि मुंडे के निधन के बारे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बता दिया गया है। मुंडे का शव पूर्वाह्न् करीब 11.30 बजे भाजपा के अशोक रोड स्थित कार्यालय में पार्टी कार्यकर्ताओं के अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी से भी 12.30 बजे पार्टी कार्यालय में पहुंचने का अनुरोध किया है। एक अन्य सूचना के अनुसार, 64 वर्षीय मुंडे अपनी कार से एयरपोर्ट जा रहे थे तभी पृथ्वीराज रोड-तुगलक रोड गोल चक्कर पर सुबह करीब साढ़े छह बजे एक अन्य वाहन ने उनकी कार को टक्कर मार दी। मुंडे को तुरंत अस्पताल ले जाया गया जहां सात बजकर 50 मिनट पर डाक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। नितिन गडकरी ने कहा कि मुझे कहते हुए यह बहुत दुख है। वह पार्टी के बहुत बड़े नेता थे। देश की राजनीति में उनका बहुत बड़ा योगदान रहा। यह हादसा मुंडे परिवार और हमारी पार्टी के लिए बुहत बड़ा धक्का है। गोपीनाथ मुंडे के शरीर को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। ग्रामीण विकास मंत्री बनने के बाद उनके पर्ली गांव में उनके सम्मान में एक कार्यक्रम रखा गया था। इसी कार्यक्रम में शामिल होने के लिए मुंडे एयरपोर्ट जा रहे थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गोपीनाथ मुंडे की मौत पर दुख जताया है। मोदी ने ट्विटर पर लिखा है कि मेरी संवेदना मुंडे जी के परिवार के साथ है। दुख की इस घड़ी हम उनके साथ खड़े हैं। प्रधानमंत्री ने आगे लिखा है कि गोपीनाथ मुंडे जी एक जननेता थे। समाज के पिछड़े हिस्से से आने वाले मुंडे ऊंचाइयों तक पहुंचे और बिना थके लोगों की सेवा करते रहे। आपको बता दें कि गोपीनाथ मुंडे महाराष्ट्र बीजेपी के बड़े नेता हैं। मोदी सरकार में ग्रामीण विकास में मंत्री है। महाराष्ट्र के बीड से सांसद हैं। 1995-99 तक महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम रह चुके हैं। लोकसभा में विपक्ष के उपनेता भी रह चुके हैं। प्रमोद महाजन के बहनोई हैं। एक ही परिवार के दो नेताओं की अकाल मौत हो गई। गोपीनाथ मुंडे रिश्ते में बीजेपी के बड़े नेता रहे प्रमोद महाजन के बहनोई थे। प्रमोद महाजन की बहन की शादी गोपीनाथ मुंडे से हुई थी। आठ साल पहले 2006 में प्रमोद महाजन की अकाल मौत हुई थी। महाजन के भाई ने ही गोली मारकर उनकी हत्या कर दी थी और अब सड़क हादसे में गोपीनाथ मुंडे का निधन हो गया है। उधर, ग्रामीण विकास मंत्री गोपीनाथ मुंडे के निधन का दु:खद समाचार मिलते ही उनके गृहनगर पर्ली में शोक के बादल छा गए। दुर्घटना का समाचार मिलते ही लोग छोटे-छोटे समूहों में सड़कों पर निकल आए। भाजपा के वरिष्ठ नेता के अल्पसंख्यक समुदाय के समर्थकों समेत कई लोगों ने सड़कों पर प्रार्थनाएं कीं। उन्हें उम्मीद थी कि उनका नेता जिंदगी और मौत की जंग जीत लेगा लेकिन कुछ ही मिनटों बाद उन्हें मुंडे के निधन की सूचना मिली। इस बीच मुंडे के परिजन नयी दिल्ली के लिए मुंबई से रवाना हो गए हैं। उनका पार्थिव शरीर आज दोपहर पहले लातूर और फिर बाद में उनके गृहनगर पर्ली लाया जाएगा।
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: दिल्ली एयरपोर्ट जाते समय सड़क हादसे में केंद्रीय मंत्री गोपीनाथ मुंडे का निधन Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल