ताज़ा ख़बर

राजीव गांधी को ‘सरकारी’ श्रद्धांजलि नहीं

नई दिल्ली। देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की आज 23वीं पुण्यतिथि है, लेकिन इस बार उनकी पुण्यतिथि बीते सालों से अलग दिख रही है। आज के दिन हर साल देश के सभी अखबारों में राजीव गांधी छाए रहते थे। 2004 में जब कांग्रेस सत्ता में आई तबसे लगातार राजीव की जन्मतिथि और पुण्यतिथि पर करोड़ों रुपये के सरकारी विज्ञापन अखबारों में छाए रहते थे। लेकिन अब देश की सत्ता बदल चुकी है नरेंद्र मोदी देश के भावी प्रधानमंत्री हैं। हालांकि उन्होंने अभी शपथ नहीं ली है और कार्यभार नहीं संभाला है लेकिन इसे मोदी का असर ही माना जा रहा है कि जो अखबार अब तक राजीव गांधी को श्रद्धांजलि के विज्ञापनों से पटे रहते थे, आज वो खाली पड़े हैं। सिर्फ हरियाणा सरकार के एक विज्ञापन ने उन्हें श्रद्धांजलि दी गई है। हालांकि मोदी ने आज देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की 23वीं पुण्यतिथि पर माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर के जरिए उन्हें श्रद्धांजलि दी। हर साल देश के तमाम कांग्रेस शासित राज्य भी राजीव गांधी के विज्ञापन में करोड़ों रुपये खर्च करते थे। यहां तक कि इंडियन एयरलाइंस जो हर साल राजीव गांधी के जन्मदिन और पुण्यतिथि पर विज्ञापन देती थी उसने भी इसबार कुछ नहीं किया। गौरतलब है कि राजीव गांधी राजनीति में आने से पहले इंडियन एयरलाइंस में ही पायलट थे। एक सूचना के मुताबिक यूपीए ने सिर्फ 2012 में विज्ञापन पर 22 करोड़ रुपये खर्च किए थे।
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: राजीव गांधी को ‘सरकारी’ श्रद्धांजलि नहीं Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल