ताज़ा ख़बर

अमेठी में बोले राहुल गांधी, अगर भाजपा सरकार ने जनता की न सुनी तो आग लगा देंगे

अमेठी। लोकसभा चुनाव में जीत के बाद बुधवार को पहली बार राहुल गांधी अमेठी आए। उनके साथ प्रियंका गांधी भी थीं। राहुल का अमेठी में जोरदार स्वागत हुआ। पार्टी मुख्यालय में घंटों से इंतजार कर रहे संसदीय क्षेत्र के पदाधिकारियों से राहुल जो बोले, तो सब में जोश भर गया। उन्होंने कहा कि अब हमारी सरकार नहीं है। हम विपक्ष की दमदार भूमिका निभाएंगे। जनता के लिए लड़ेंगे। जहां जनता की नहीं सुनी जाएगी, वहां आग लगा देनी है। राहुल के इस वाक्य के बाद काफी देर तक राहुल जिंदाबाद और राहुल तुम संघर्ष करो हम तुम्हारे साथ हैं के नारे लगते रहे। फुरसतगंज हवाई अड्डे से उतरकर राहुल और प्रियंका को सीधे इस कार्यक्रम में आना था। लेकिन एयरपोर्ट से सीधे वे बरोलिया गांव चले गए, जहां दो दिन पहले आग लग गई थी। वहां से वे करीब तीन बजे अमेठी कांग्रेस कार्यालय आए और यहां पर उन्होंनें अपने पिता पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की तस्वीर पर पुष्प अर्पित किए। फिर कांग्रेस दफ्तर के लॉन में सुबह से इंतजार कर रहे ब्लाक और ग्राम सभा स्तर के पदाधिकारियों को सम्बोधित किया। राहुल गांधी ने सबसे पहले क्षेत्र की जनता को धन्यवाद दिया और कहा कि अभी जो वक्त बीता वह एक कठिन समय था। हमे देखना है कि आगे आने वाले वक्त में क्या करना है। यह तो तय है कि अब हम सभी को जनता के बीच में रहना होगा। उनकी समस्याएं सुननी होंगी। उनके लिए लड़ना होगा। उन्होंने कहा कि पहले दिल्ली में सरकार थी और यूपी में नहीं थी। जो हमने किया वह पूरी तौर से नहीं हो पाया। अब नई सरकार बड़े-बड़े वादे करके आई है। अब वहां हमारी सरकार नहीं है। हमें देखना है कि केन्द्र सरकार क्या करती है। हम छह महीने का वक्त उन्हें देंगे। छह महीने में पता चल जाएगा। हम एक सशक्त विपक्ष का रोल अदा करेंगे। जहां जनता का काम नहीं होगा वहां संघर्ष करेंगे फिर भी न सुनी गई तो जनता के लिए आग लगानी होगी। राहुल ने क्षेत्र के पदाधिकारियों से कड़े संघर्ष के लिए तैयार रहने का आहवान किया और यह दिलासा दिया कि हम फिर से कांग्रेस को अपनी पुरानी स्थिति में खड़ा कर देंगे। राहुल गांधी ने जनता से यह भी कहा कि वे खुद बताएं कि कांग्रेस को कैसे खड़ा किया जाए। वे क्षेत्र के तमाम पदाधिकारियों से मिले और कहा कि जल्द ही फिर आएंगे और फिर बात करेंगे।  
आपने हमारा साथ दिया, हम आपका साथ देंगे: प्रियंका
अमेठी कांग्रेस कार्यालय में घुसते ही प्रियंका गांधी ने कहा धन्यवाद, आपने इज्जत बचा दी। आपने मेरे संकट में मेरा साथ दिया है हम आपके हर संकट में साथ देंगे। कांग्रेस की यह हालत क्यों हुई, इसकी समीक्षा करने के लिए हम अगले हफ्ते फिर आएंगे। कांग्रेस कार्यालय में पहले राहुल आए और पीछे से जब प्रियंका आईं, तो राजीव गांधी अमर रहें के नारे और तेज हो गए। प्रियंका ने सबका अभिनंदन किया। कहा कि पूरी यूपी में जब सब लाल-लाल दिख रहा था तब केवल ये दो तिरंगे अलग से चमक रहे थे। आपने हमारा साथ दिया है और हम इसे नहीं भूलेंगे। इसकी समीक्षा की जाएगी कि आखिर कमी कहां रही। प्रियंका आज पूरी तौर से कार्यकर्ताओं से मिलजुल रही थीं। महिला कार्यकत्री भी आ गई थीं। उन्होंने उनसे भी हालचाल लिए। सबसे यही पूछतीं कि कमी कहां रही। इसे कैसे ठीक किया जा सकता है। कुछ महिला कार्यकर्ता उनसे अपनी उपेक्षा किए जाने की भी शिकायत दर्ज करा रही थीं। उन्होंने कहा कि आप लोग अभी समीक्षा कीजिए की गलती कहां पर थी। हम अगले हफ्ते आएंगे और आपके साथ बैठकर समीक्षा करेंगे।(साभार)
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: अमेठी में बोले राहुल गांधी, अगर भाजपा सरकार ने जनता की न सुनी तो आग लगा देंगे Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल