ताज़ा ख़बर

नामांकन के दौरान आचार संहिता की धज्जियां उड़ाई मोदी नेः राजेन्द्र

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता एवं कारागार मंत्री राजेन्द्र चौधरी ने कहा कि वाराणसी में भाजपा के लोकसभा प्रत्याशी और प्रधानमंत्री पद के कथित दावेदार नरेन्द्र मोदी के नामांकन के दौर में ही आदर्श आचार संहिता की धज्जियां उड़ गईं। आरएसएस, बजरंग दल और बाहर से आए लोगों ने ऐसा दहशत का माहौल बनाया कि पर्यटक अपनी जान बचाकर भागते नजर आए। स्थानीय लोगों को ‘कारसेवकों’ की इस भीड़ से अनहोनी की आशंका होने लगी है। मोदी का जुलूस लोकतांत्रिक मर्यादाओं को भी तार-तार कर देने वाला साबित हुआ है। वाराणसी जिला मुख्यालय में नामांकन के समय निर्वाचन अधिकारी के समक्ष गिने चुने प्रस्तावक ही अंदर जाने थे लेकिन प्रशासन भाजपाई भीड़ रोकने में असमर्थ दिखाई पड़ा। मोदी ने नामांकन के साथ प्रेस कांफ्रेस भी की जिसका टीवी चैनलों पर लाइव प्रसारण भी किया गया। हजारों लोगों की भीड़ जुटाकर मोदी का आंतक और भय की छाया लोगों के मन में घर कर गई है। मोदी के आदमी विरोधियों की मारपीट में पहले से सक्रिय हैं अब बाहरी लोगों की भी भीड़ जुटाकर वे शायद जबरन वोट हथियाने की कोशिशें भी कर सकते हैं। यह खेदजनक है कि आदर्श आचार संहिता की दुहाई देकर मुलायम सिंह यादव और आजम खां को नोटिस पर नोटिस जारी करने वाला निर्वाचन आयोग भाजपा के मामलों की अनदेखी कर रहा है। आजम खां ने तो अपना जवाब भी भेज दिया था लेकिन उसको पढ़ने से पहले ही उन्हें चुनाव प्रचार में भाग न लेने की सजा सुना दी गयी। निर्वाचन आयोग का रूख समाजवादी पार्टी के ही प्रति कड़ा दिखाई दे रहा है, जबकि दूसरे दलों के नेताओं के बयानों पर गौर नहीं कर रहा है। निर्वाचन आयोग से पूर्ण निश्पक्षता के साथ काम करने की अपेक्षा स्वाभाविक है, लेकिन वह जिस तरह से लोकतंत्र के साथ खिलवाड़ करने वालों केा छूट दे रहा है, वह असंवैधानिक एवं चिंताजनक भी है। आदर्श आचार संहिता का खुलेआम उल्लघंन करने पर नरेन्द्र मोदी का नामांकन रद्द किया जाना चाहिए। यूपी में सपा को मिलेगी ज्यादा सीटें समाजवादी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने कहा कि उप्र में लोकसभा चुनाव के दो चरण हो चुके हैं और आज तीसरे चरण का मतदान हुआ है। अब तक मिली जानकारियों के अनुसार समाजवादी पार्टी को समाज के सभी वर्गो का अटूट स्नेह और समर्थन मिला है जिसके बल पर कहा जा सकता है कि समाजवादी पार्टी दूसरे दलों से बहुत आगे रहेगी। समाजवादी सरकार ने दो साल की अवधि में जनहित के जितने काम किए हैं उससे जनता का विश्वास समाजवादी सरकार के प्रति गहरा हुआ है और लोगों को भरोसा है कि कांग्रेस, भाजपा और बसपा की तिकड़ी द्वारा अंदरखाने फिरकापरस्ती को दी जा रही शह का मुकाबला सिर्फ समाजवादी पार्टी ही कर पाएगी।
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: नामांकन के दौरान आचार संहिता की धज्जियां उड़ाई मोदी नेः राजेन्द्र Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल