ताज़ा ख़बर

चुनावी माहौल में संदेह और भ्रम पैदा कर रही हैं मायावतीः राजेन्द्र

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता एवं कारागार मंत्री राजेन्द्र चौधरी ने कहा कि लोकसभा चुनावों में बसपा की कहीं गिनती न होते देखकर मायावती अब माहौल में भ्रम और संदेह पैदा करने में लग गई है। उनको तीन बार भाजपा ने मुख्यमंत्री की गद्दी सौंपी तो उसका बदला चुकाना स्वाभाविक है। वे गुजरात में नरेन्द्र मोदी का चुनाव प्रचार करके एक बार थोड़ा कर्ज उतार चुकी हैं। मोदी अब प्रधानमंत्री पद के दावेदार बन रहे हैं तो उन्हें दिल्ली पहुंचाना भी उनका फर्ज है। कांग्रेस तो अप्रासंगिक हो चली है। मोदी की हवा फैलाने में इनका योगदान कम नहीं। मोदी और उनके सहायक जानते हैं कि उनकी कमजोर नस कहां है इसीलिए वे सब मिलकर समाजवादी पार्टी पर हमलावर हैं। बसपा सुप्रीमों भाई-बहन का रिश्ता निभाते हुए आए दिन समाजवादी पार्टी और मुलायम सिंह यादव के साथ समाजवादी पार्टी सरकार पर हमला बोलती रहती हैं। उन्हें पता है कि जनता ने उन्हें सन् 2012 से ही तिरस्कृत कर रखा है। वे खुद तो अब कभी भी सत्ता में वापसी करने वाली नहीं हैं, तीसरी ताकत में सबसे प्रभावी भूमिका यादव की ही होगी। बसपा अध्यक्ष का यह कहना अनर्गल बयानबाजी के अलावा और कुछ नहीं है कि जो उप्र नहीं संभाल सकते हैं वे देश को क्या सभालेंगे। पिछले पांच सालों के अपने शासनकाल में मायावती ने लूट का बाजार गर्म कर रखा था। मुख्यमंत्री का सचिवालय केवल मोटा कमीशन वसूलने के नए-नए श्रोत तलाशने में ही लगा रहता था। भ्रष्टाचार का हर तरफ बोलबाला था। देश ही नहीं दुनिया तक में यूपी की बदनामी हुई। अखिलेश यादव ने जब शासन की बागडोर सम्हाली तो विकास की गाड़ी पटरी से उतरी हुई थी।
मुस्लिम संगठनों ने की सपा को जिताने की अपील 
भाजपा की सांप्रदायिकता का मुकाबला करने की ताकत सिर्फ समाजवादी पार्टी में है। इस बात का एहसास करते हुये कई संगठनों ने समाजवादी पार्टी के प्रत्याशियों की जीत के लिए अपीलें जारी की हैं। मुस्लिम मजलिस उप्र के अध्यक्ष मो.नदीम सिद्दीकी, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बसी अहमद, चेयरमैन संसदीय बोर्ड तौफीक अली जाफरी आदि के हस्ताक्षर से जारी अपील में कहा गया है कि मुसलमानों की खराब स्थिति के लिए जिम्मेदार कांग्रेस और अपने राजनीतिक फायदे को पूरा करने के लिए कई बार भाजपा की गोद में बैठने वाली बसपा को कठोर उत्तर देने एवं फिरकापरस्त शक्ति के सपनों को चकनाचूर करने के लिए समाजवादी पार्टी को सफल बनाना समय की आवश्यकता है। वोटों के बिखराव को रोकने से बचाते हुये समाजवादी पार्टी के उम्मीदवारों को पूर्ण बहुमत से जिताने के लिए कहा है। जरदोज ऐक्शन कमेटी के पदाधिकारियों, प्रदेश अध्यक्ष गुलाम अब्बास और महामंत्री आलिम नकवी ने संयुक्त बयान में कहा है कि इस वक्त हमारे सामने फिरकापरस्त ताकतें सिर उठाए हुए हैं। हमें बहुत समझबूझ कर फैसला करना है। हमारी नजर में सेकुलर सोच वाली पार्टी समाजवादी पार्टी बेहतर है। समाजवादी पार्टी के लखनऊ सहित सभी उम्मीदवारों केा दिल्ली पहुंचाने का काम किया जाएगा।
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: चुनावी माहौल में संदेह और भ्रम पैदा कर रही हैं मायावतीः राजेन्द्र Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल