ताज़ा ख़बर

मूवी रिव्यू : भूतों की नेतागिरी है "भूतनाथ"

मुंबई। बॉलीवुड में सीक्वल व रीमेक फिल्में काफी चलन में है। बॉलीवुड महानायक अमिताभ बच्चन स्टारर फिल्म "भूतनाथ रिटर्न्स" सिनेमाघरों में रिलीज हो गई। लोकसभा चुनावी माहौल के बीच बिग बी भूत बनकर ऑनस्क्रीन चुनाव लड़ने आए है। फिल्म में एक ऎसी भूत की कहानी पेश की गई है जो चुनाव लड़ना चाहता है लेकिन उसे कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। फिल्म में एक ऎसे भूतनाथ (अमिताभ बच्चन) की कहानी है जो बंकू नाम बच्चे को डराने में नाकाम हो जाता है। जब भूतनाथ भूत वर्ल्ड में पहुचंता है तो वहां अन्य भूत की मजाक बनाते है भूतनाथ होकर एक बच्चे को नहीं डरा पाएं। अन्य भूतों के तानों से परेशान होकर भूतनाथ अब खुद को साबित करना चाहता है। वह भगवान से इसके लिए एक मौका मांगता है। भूतनाथ को पृथ्वी पर जाकर कुछ बच्चों को डराने को कहा जाता है। पृथ्वी पर आने के बाद भूतनाथ को देख लोग डरते नहीं बल्कि उनका मजाक बनाते है। भूतनाथ की मुलाकात अखरोट (पार्थ) से होती है जो कि उन्हें देख सकता है। दोनों की दोस्ती हो जाती है। कहानी में टि्वस्ट तब आता है भूतनाथ देश को सुधारने में जुट जाता है। यहां उसकी मदद करता है अखरोट। अखरोट भूतनाथ को भ्रष्ट नेता जेम्ज पोर्टो (बोमन ईरानी) के खिलाफ चुनाव लड़ने की सलाह देता है। आखिरकार भूतनाथ जेम्ज के खिलाफ चुनावी अखाड़े में उतर जाता है। यहीं शुरू होता है और नेता और भूत के बीच चुनावी मुकाबला। इस ऑनस्क्रीन चुनावी में जीत किसकी होती है यह जानना है तो एक बार बच्चों के साथ सिनेमाघरों की ओर रूख करना चाहिए। बच्चों के साथ इसलिए ताकि चुनावी माहौल के बीच उन्हें भी "राजनीति" समझ आ जावें। भूतनाथ के किरदार में अमिताभ बच्चन खूब फबे है। हमेशा की तरह इस बार भी वे महानायक के टैग लेने में कामयाब रहे है। बोमन ईरानी और ब्रिजेन्द्र काला ने एक्टिंग के मामले में कोई कसर नहीं छोड़ी। वहीं पार्थ ने भी अखरोट के रोल में अपनी छाप छोड़ी है। पार्थ ने फिल्म में जान डालने का काम किया है। पार्थ की अदाकारी व डॉयलॉग दर्शकों बांधे रखेंगे। स्क्रीप्ट दमदार है। निर्देशक नितेश तिवारी मेहनत साफ नजर आई है। वहीं डायलॉग सिने प्रेमियों को दिल जीत लेंगे। जब बिग बी बच्चे से कहते है, मैं भूत हूं... इस पर बच्चा कहता है, मैं चूड़ैल हू... शादी बनाए क्या...!!!
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: मूवी रिव्यू : भूतों की नेतागिरी है "भूतनाथ" Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल