ताज़ा ख़बर

‘वन रैंक वन पैंशन’ के लिए भूतपूर्व सैनिकों ने दिया राहुल गांधी को धन्यवाद

चंडीगढ़। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने चंड़ीगढ़ पहुंच कर एनएसयूआई के पदाधिकारियों के साथ बैठक करने के बाद भूतपूर्व सैनिकों की समस्याओं को सुनी। भूतपूर्व सैनिकों ने उनका वन रैंक वन पैंशन के लिए धन्यवाद भी किया। नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (एनएसयूआई) पंजाब यूनिवर्सिटी कैंपस, चंडीगढ़ और पंजाब के नेता सोमवार को राहुल गांधी से मिले और उन्हें एनएसयूआई की मजबूती के लिए किए जा रहे प्रयास से वाकिफ कराया। राहुल ने स्टूडेंट नेताओं से बातचीत करते हुए कहा कि वह अभी तो नहीं लेकिन आने वाले 10-15 साल में उम्मीद करते हैं कि पंजाब या हरियाणा का चीफ मिनिस्टर पीयू की स्टूडेंट पॉलिटिक्स से निकले। उल्लेखनीय है कि दिल्ली यूनिवर्सिटी, लखनऊ यूनिवर्सिटी ने कई बड़े नेता दिए हैं लेकिन पिछले कई दशक से पीयू ने कोई बड़ा नेता नहीं दिया है। सुषमा स्वराज और इंद्र कुमार गुजराल के कद का कोई नेता नहीं है। हालांकि कुलजीत सिंह नागरा के अलावा कुछ अन्य नेता भी अपनी पहचान बनाए हुए हैं। राहुल लंबे समय से पीयू में दिलचस्पी ले रहे हैं। बीते साल 10 नवंबर को पंजाब एनएसयूआई की ओर से पीयू की ओर से कराए गए कार्यक्रम में वह पहुंचे थे। नेशनल कोआर्डिनेटर वरिंदर सिंह ढिल्लों, पंजाब प्रेसिडेंट दमन बाजवा, हरप्रीत सिंह मुल्तानी, जीवन ज्योत जुगनू, भुपिंदर सिंह बाठ, जसविंदर सिंह और और सनी मेहता सहित यूनिवर्सिटी के 64 स्टूडेंट्स राहुल से मिलने के लिए गए थे। इससे पहले कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी सोनीपत के किसानों से बातचीत करते हुए कहा कि कांग्रेस किसानों की ही नहीं मजदूरों और महिलाओं की भी हितैषी है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने पिछले कई दशकों से किसानों के लिए कई योजनाएं शुरू की हैं। हर व्यक्ति को कई तरह के अधिकार दिए गए हैं, चाहे वह सूचना का अधिकार है, चाहे वह रोजगार का, या फिर शिक्षा का अधिकार। उन्होंने कहा कि कांग्रेस किसानों के लिए ही नहीं हर व्यक्ति के उत्थान के लिए ऐसा मजबूत फर्श करना चाहती है, जिससे वह उन्नति की ओर जाए और उस फर्श से नीचे जा ही न सके। सोनीपत में किसानों की समस्याओं को लेकर एकत्रित हुए जन समूह में महिलाओं की संख्या कम थी, जिस पर महिलाओं का कहना था कि खेती-बाड़ी में महिलाओं की अहम भूमिका रहती है, लेकिन इस बार अपनी समस्याओं को लेकर महिलाएं कम आई हैं। इन महिलाओं ने राहुल गांधी को आश्वस्त किया कि इस तरह के कार्यक्रम में महिलाएं ज्यादा से ज्यादा संख्या में आए, यह सुनिश्चित किया जाएगा। इस अवसर पर उनके साथ हरियाणा के मुख्यमंत्री भुपिंदर सिंह हुड्डा, प्रदेश कांग्रेस प्रभारी शकील अहमद व पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष प्रताप सिंह बाजवा भी उपस्थित थे। (साभार डीबी)
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: ‘वन रैंक वन पैंशन’ के लिए भूतपूर्व सैनिकों ने दिया राहुल गांधी को धन्यवाद Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल