ताज़ा ख़बर

वरुण गांधी ने खोली मोदी की रैली में जुटने वाली भीड़ की पोल

नई दिल्ली। भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी की कोलकाता रैली में जुटी भीड़ को लेकर पार्टी के दावे की पोल खुल गई है। भाजपा महासचिव एवं पीलीभीत संसदीय सीट से पार्टी सांसद वरुण गांधी ने रैली के संबंध में किए गए दावे की पोल खोलते हुए कहा कि कोलकाता में मोदी की रैली में आने वाले लोगों की संख्या पार्टी के दावे की तुलना में महज एक चौथाई थी। इससे पहले नरेंद्र मोदी की रैली में जुटी भीड़ की संख्या को लेकर पार्टी ने दो लाख लोगों के इकट्ठा होने का दावा किया है। वहीं, वरुण गांधी ने पार्टी के दावों को गलत बताकर सिर्फ पचास हजार लोगों के जुटने की बात कही। पार्टी के सांसद कहा कि मोदी की रैली में मौजूद भीड़ को पार्टी ने चार गुना बढ़ाकर बताया था। एक अंग्रेजी दैनिक में छपी खबर के मुताबिक नरेंद्र मोदी की कोलकाता रैली की कामयाबी को वरुण गांधी ने ओके यानी ठीक-ठाक बताया। रैली में जुटने वाली भारी भीड़ के बारे में पूछे जाने पर वरुण गांधी ने कहा कि आपके आंकड़े गलत हैं। यह सच नहीं है कि इस रैली में दो लाख लोग जुटे थे। भीड़ करीब 45 से 50 हजार थी। मालूम हो कि जनचेतना रैली में मोदी ने कहा था कि कोलकाता में इतना जनसैलाब कभी नहीं देखा। भाजपा की ओर से दावा किया गया था कि इस रैली में दो लाख लोग मौजूद थे।  
कोलकाता में गलत आंकड़े दिए मोदी ने 
कोलकाता। भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी का भाषण तृणमूल कांग्रेस की मुखिया एवं प्रदेश की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को नहीं भाया। मोदी के भाषण पर तृणमूल कांग्रेस ने अपनी वेबसाइट के जरिए कड़ी प्रतिक्रिया जताई है। आरोप लगाया है कि मोदी ने अपनी पार्टी की रैली में राज्य के बारे में तथ्यात्मक रूप से गलत आंकडे़ पेश किए। पार्टी ने अपने बयान में कहा कि बंगाल में विकास हुआ है और मोदी को अपने आंकड़ों को दुरुस्त करने की जरूरत है। तृणमूल की वेबसाइट पर डाली गई एक टिप्पणी में कहा गया है, गुजरात के मुख्यमंत्री ने कुछ बयान दिए जो तथ्यात्मक रूप से गलत थे। कोलकाता की रैली में मोदी ने कहा था कि राज्य में केवल 35 फीसद स्कूलों में बिजली है और राज्य में 60 फीसद बालिका विद्यालयों में शौचालय हैं। मोदी के उपलब्ध आंकड़ों पर पलटवार करते हुए तृणमूल कहा कि मोदी को जिस अनुसंधान ने ये आंकडे़ दिए, वे साफ तौर पर किसी पुरानी रिपोर्ट पर आधारित हैं।  
गोवा के बस मालिक भी मोदी से नाराज
पणजी। गोवा में बस मालिकों ने भाजपा के पीएम पद के उम्मीदवार की रैली का बहिष्कार करने का फैसला किया था। गोवा में बस मालिकों के सबसे बड़े एसोसिएशन के अनुसार, उनकी बसों ने 12 जनवरी को हुई रैली के दौरान लोगों को ले जाने का काम नहीं किया। ऑल गोवा ऑनर्स एसोसिएशन के महासचिव सुदीप तमनकर ने बताया कि फैसला एसोसिएशन के प्रबंधक इकाई की बैठक में लिया गया। इसके अनुसार राज्य के 1,000 सार्वजनिक वाहनों पर इसका नियंत्रण है। उन्होंने कहा कि भाजपा का फैसला उनके लिए कठिन रहा है। पिछले साल गोवा सरकार द्वारा पेट्रोल से वैट हटा देने से लोग बस की जगह अपने दो पहिया वाहन का इस्तेमाल कर रहे हैं। इसके विरोध में प्रदर्शन का फैसला किया गया है। (साभार)
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: वरुण गांधी ने खोली मोदी की रैली में जुटने वाली भीड़ की पोल Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल