ताज़ा ख़बर

साइकल धर्मनिरपेक्षता की पहचान: अखिलेश

फिरोजाबाद। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्रीअखिलेश यादव ने रविवार को शिकोहाबाद से सैफई तक आयोजित साइकल मैराथन को शिकोहाबाद रामलीला मैदान से रवाना किया और कहा कि यह समाजवाद और धर्मनिरपेक्षता की पहचान है। साइकल मैराथन में लगभग 7 हजार प्रतिभागी भाग ले रहे हैं। मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में इस रैली को ऐतिहासिक बताया और कहा कि साइकल किसान, नौजवान, गरीब, बेरोजगार यानी हर वर्ग की पहचान है। यह समाजवाद और धर्मनिरपेक्षता की पहचान है, क्योंकि साइकल ने ही सांप्रदायिक ताकतों को हराया है। अखिलेश ने कहा कि साइकल पर्यावरण के अनुकूल है और यह जीवन जीने की कला भी सिखाती है। जिस प्रकार लोग संतुलन बनाकर और हैंडल साधकर साइकल चलाते हैं, उसी प्रकार अपने जीवन में भी संतुलन बनाकर आगे बढ़ें।मुख्यमंत्री ने प्रदेश सरकार की विकास योजनाओं और कार्यक्रमों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि सरकार ने बिना किसी भेदभाव के समाज के हर वर्ग के लिए योजनाएं और कार्यक्रम चलाए हैं। बेरोजगारी भत्ता, लैपटॉप वितरण हर वर्ग के लिए है। उन्होंने कहा कि बजट का अधिकांश हिस्सा किसानों, गरीबों और जरूरतमंदों के लिए खर्च किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर शिकोहाबाद में बिजली आपूर्ति को नियमित करने और आपूर्ति का समय बढ़ाने के निर्देश दिए। रैली को मुख्यमंत्री के साथ सांसद प्रो. रामगोपाल यादव ने मंच से झंडी दिखाकर रवाना किया। (साभार)
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: साइकल धर्मनिरपेक्षता की पहचान: अखिलेश Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल