ताज़ा ख़बर

परमार्थ निकेतन की राहत सामग्री लेकर गाडि़यां गुप्तकाशी रवाना

रीता बहुगुणा व स्वामी चिदानन्द सरस्वती ने दिखाई हरी झण्डी, आपदा शान्ति को गायत्री मंत्र,विष्णु सहस्रनाम, गजेन्द्रमोक्ष पाठ की पूर्णाहुति
 ऋषिकेश (राम महेश मिश्र)। गंगा एक्शन परिवार-परमार्थ निकेतन की दो गाडि़यां राहत सामग्री लेकर गुप्तकाशी के लिए रवाना हो गईं। परमार्थ निकेतन के परमाध्यक्ष श्री स्वामी चिदानन्द सरस्वती तथा वरिष्ठ कांग्रेसी नेता व उप्र कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष रीता बहुगुणा जोशी ने हरी झण्डी दिखाकर इन्हें रवाना किया। इस मौके पर परमार्थ निकेतन की वरिष्ठ प्रतिनिधि साध्वी भगवती सरस्वती एवं कार्यक्रम निदेशक राम महेश मिश्र भी मौजूद थे। गंगा एक्शन परिवार के विनीत कुमार एवं अनिल कश्यप की अगुवाई में भेजी गईं इन गाडि़यों में स्वयंसेवक तथा ग्यारह चिकित्सक भी भेजे गए हैं, जो स्थानीय कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर प्रभावित गांवों में पहुंचकर पात्र परिवारों में पीडि़त व्यक्तियों के हाथों में यह राहत सामग्री हस्तगत करायेंगे और ग्रामवासियों को स्वास्थ्य सुविधायें भी मुहैया करायेंगे। चिकित्सक दल में चार पशु चिकित्सक भी शामिल हैं। राहत सामग्री में राशन, पुरुषों, महिलाओं व लड़के-लड़कियों के पहनने के विविध कपड़े, जूता-चप्पल, बेडशीट, लोई, कम्बल, ट्रैकसूट, छतरी, तिरपाल, तौलिया, स्वेटर, सामान्य दवाइयां, ग्लूकोज, खाने की विविध वस्तुएं, साबुन, टार्च, बैटरी, लालटेन, मोमबत्ती, माचिस आदि सामग्री ले जाई गई है। परमार्थ प्रवक्ता ने बताया कि ये सभी वस्तुएं पात्र व्यक्तियों के हाथों तक पहुंचाने का इन्तजाम गंगा एक्शन परिवार द्वारा किया गया है। रीता बहुगुणा जोशी ने गंगा एक्शन परिवार-परमार्थ निकेतन द्वारा आध्यात्मिक पृष्ठभूमि में चलाए जा रहे समाज निर्माण के कार्यों की सराहना की। स्वामी जी ने बताया कि 1 जुलाई को प्रातःकाल एक अन्य टीम तीन ट्रकों पर राहत सामग्री लेकर दूसरे पहाड़ी क्षेत्रों के लिए प्रस्थान करेगी। परमार्थ कार्यकर्ताओं का यह दल सम्बन्धित गांवों में हुए नुकसान का भी जायजा लेगा। वह बेसहारा बच्चों, क्षतिग्रस्त स्कूलों एवं अधिक नुकसान वाले गांवों का सर्वे भी करेंगे। चयनित गांवों में स्कूलों की मरम्मत के अलावा छात्र व छात्राओं की कापी किताबों व उनकी यूनिफार्म की भी व्यवस्था गंगा एक्शन परिवार द्वारा की जायेगी। श्री मुनि जी महाराज के मार्गदर्शन में इसकी पूर्व तैयारियां की जा रही हैं। लखनऊ निवासी सिविल इंजीनियर वीके मेहरोत्रा के समन्वयन में अभियन्ताओं की एक टीम गठित की गई है, जो चयनित गांवों में मरम्मत व निर्माण कार्यों की देखरेख और उचित मार्गदर्शन करेगी। उधर परमार्थ प्रतिनिधि द्वारा उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग एवं चमोली के जिलाधिकारियों को पत्र लिखकर अनाथ बच्चों के विवरण शीघ्र भेजने का अनुरोध किया गया है, ताकि उनके पालन-पोषण व शिक्षा आदि की उचित व्यवस्था तत्काल प्रभाव से की जा सके। परमार्थ निकेतन परिसर स्थित ध्यान कक्ष में उत्तराखण्ड में शान्ति व सुखमय जनजीवन की स्थापना हेतु पिछले पांच दिनों से चल रहा जाप के कार्यक्रम की पूर्णाहुति हो गई। श्री मुनि जी महाराज की विशेष उपस्थिति में यज्ञ की पूर्णाहुति के साथ यह विशेष धर्मानुष्ठान पूरा हो गया है। वृन्दावन से आए आचार्य बृजेन्द्र मोहन गोस्वामी के नेतृत्व में आठ साधकों सर्वश्री प्रमेन्द्र मोहन, गोपाल चन्द्र मिश्र, राम कृष्ण पाण्डेय, राम कृष्ण पाण्डेय, अखिलेश मिश्र, हृदय नारायण पाण्डेय, ललित त्रिपाठी एवं बृजेश पाठक ने पांच दिनों तक गायत्री मंत्र, महामृत्यंजय मंत्र, विष्णुसहस्रनाम एवं गजेन्द्र मोक्ष मन्त्रों का जप और नित्य यज्ञ किया।
(अपनी बातों को जन-जन तक पहुंचाने व देश के लोकप्रिय न्यूज साइट पर समाचारों के प्रकाशन के लिए संपर्क करें- Email ID- contact@newsforall.in तथा फोन नं.- +91 9411755202.। अपने आसपास के आंतरिक व बाह्य हलचल को मेल द्वारा हमें बताएं। यदि आप चाहते हैं कि आपका नाम, पता, फोन, इमेल आइडी गोपनीय रखा जाए तो इसका अक्षरशः पालन होगा।)
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: परमार्थ निकेतन की राहत सामग्री लेकर गाडि़यां गुप्तकाशी रवाना Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल