ताज़ा ख़बर

सीओ और एसडीओ की निष्क्रियता से हुई चिल्हमरवा की घटना

जदयू नेता अजय सिंह और सुनील ठाकुर ने लगाया आरोप, आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तार करने की मांग  
गुठनी (सीवान)। चिल्हमरवा की घटना सीओ और एसडीओ की निष्क्रियता के कारण घटी। अगर ये दोनों अधिकारी थोड़ा भी समझदारी से काम किए होते तो शायद इस तरह की घटना नहीं घटती और दो नौजवानों की हत्या नहीं होती। उक्त बातें जदयू नेता तथा दरौंदा विधायक के पति अजय सिंह ने कही। अजय सिंह बेलौड़ पंचायत के मुखिया अमर सिंह के पुत्र राजू सिंह तथा सोहगरा निवासी जदयू नेता राकेश सिंह के भाई की चिल्हमरवा में हुई हत्या के बाद पीड़ित परिवारों से मिलने गए थे। इस दौरान उन्होंने दोनों परिवारों को सांत्वना दी। तत्पश्चात गुठनी में पत्रकारों से बातचीत करते हुए सिंह ने कहा कि यह घटना प्रशासनिक चूक से घटी। जहां एक दिन पहले गोलीबारी हुई वहीं दूसरे दिन हत्या हो रही है। यदि एहतियातन पहले कार्रवाई हुई होती तो शायद इस तरह की घटना नहीं घटती। उन्होंने सीओ और एसडीओ को इस घटना के लिए जिम्मेदार मानते हुए जांचोपरांत इनके विरुद्ध कार्रवाई की मांग की। साथ ही मृतकों के परिजन को सरकारी नौकरी तथा पांच लाख रुपए मुआवजा दिलाने की मांग की। इनके अलावा जदयू के प्रखंड अध्यक्ष सुनील ठाकुर ने नामजद अभियुक्तों को तत्काल गिरफ्तार करने की मांग की। उन्होंने इस घटना में किसी भी अभियुक्त की अब तक गिरफ्तारी न होने पर नाराजगी जाहिर की। इस दौरान राघव सिंह, सुदामा पटेल, मनोज ठाकुर, राकेश पाठक, भीम पटेल आदि मौजूद रहे। वीडियोग्राफी न होने पर सवाल चिल्हमरवा की घटना के बाद परत-दर-परत पुलिस-प्रशासन की नाकामी सामने आ रही है। इसी क्रम में बताया जा रहा है कि बिहार सरकार तथा पुलिस-प्रशासन के आला अफसरों के निर्देश हैं कि जहां कहीं भी बवाल, धरना-प्रदर्शन हो, उसकी वीडियोग्राफी अवश्य कराई जाए। ताकि उपद्रवी के बारे में जानकारी हासिल हो सके। इतने कड़े निर्देश के बावजूद चिल्हमरवा में बवाल हुआ और हत्या हुई, फिर भी इसकी वीडियोग्राफी नहीं कराई गई। अब सवाल यह है कि चिल्हमरवा में वीडियोग्राफी नहीं कराने के लिए कौन जिम्मेदार है। उसके विरुद्ध भी कार्रवाई होनी चाहिए। (अपनी बातों को जन-जन तक पहुंचाने व देश के लोकप्रिय न्यूज साइट पर समाचारों के प्रकाशन के लिए संपर्क करें- Email ID- contact@newsforall.in तथा फोन नं.- +91 9411755202.।) सीओ और एसडीओ की निष्क्रियता से हुई चिल्हमरवा की घटना जदयू नेता अजय सिंह और सुनील ठाकुर ने लगाया आरोप, आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तार करने की मांग गुठनी (सीवान)। चिल्हमरवा की घटना सीओ और एसडीओ की निष्क्रियता के कारण घटी। अगर ये दोनों अधिकारी थोड़ा भी समझदारी से काम किए होते तो शायद इस तरह की घटना नहीं घटती और दो नौजवानों की हत्या नहीं होती। उक्त बातें जदयू नेता तथा दरौंदा विधायक के पति अजय सिंह ने कही। अजय सिंह बेलौड़ पंचायत के मुखिया अमर सिंह के पुत्र राजू सिंह तथा सोहगरा निवासी जदयू नेता राकेश सिंह के भाई की चिल्हमरवा में हुई हत्या के बाद पीड़ित परिवारों से मिलने गए थे। इस दौरान उन्होंने दोनों परिवारों को सांत्वना दी। तत्पश्चात गुठनी में पत्रकारों से बातचीत करते हुए सिंह ने कहा कि यह घटना प्रशासनिक चूक से घटी। जहां एक दिन पहले गोलीबारी हुई वहीं दूसरे दिन हत्या हो रही है। यदि एहतियातन पहले कार्रवाई हुई होती तो शायद इस तरह की घटना नहीं घटती। उन्होंने सीओ और एसडीओ को इस घटना के लिए जिम्मेदार मानते हुए जांचोपरांत इनके विरुद्ध कार्रवाई की मांग की। साथ ही मृतकों के परिजन को सरकारी नौकरी तथा पांच लाख रुपए मुआवजा दिलाने की मांग की। इनके अलावा जदयू के प्रखंड अध्यक्ष सुनील ठाकुर ने नामजद अभियुक्तों को तत्काल गिरफ्तार करने की मांग की। उन्होंने इस घटना में किसी भी अभियुक्त की अब तक गिरफ्तारी न होने पर नाराजगी जाहिर की। इस दौरान राघव सिंह, सुदामा पटेल, मनोज ठाकुर, राकेश पाठक, भीम पटेल आदि मौजूद रहे।
वीडियोग्राफी न होने पर सवाल
चिल्हमरवा की घटना के बाद परत-दर-परत पुलिस-प्रशासन की नाकामी सामने आ रही है। इसी क्रम में बताया जा रहा है कि बिहार सरकार तथा पुलिस-प्रशासन के आला अफसरों के निर्देश हैं कि जहां कहीं भी बवाल, धरना-प्रदर्शन हो, उसकी वीडियोग्राफी अवश्य कराई जाए। ताकि उपद्रवी के बारे में जानकारी हासिल हो सके। इतने कड़े निर्देश के बावजूद चिल्हमरवा में बवाल हुआ और हत्या हुई, फिर भी इसकी वीडियोग्राफी नहीं कराई गई। अब सवाल यह है कि चिल्हमरवा में वीडियोग्राफी नहीं कराने के लिए कौन जिम्मेदार है। उसके विरुद्ध भी कार्रवाई होनी चाहिए।
(अपनी बातों को जन-जन तक पहुंचाने व देश के लोकप्रिय न्यूज साइट पर समाचारों के प्रकाशन के लिए संपर्क करें- Email ID- contact@newsforall.in तथा फोन नं.- +91 9411755202.।)
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: सीओ और एसडीओ की निष्क्रियता से हुई चिल्हमरवा की घटना Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल