ताज़ा ख़बर

पंजाब की मंत्री नवजोत कौर ने सेवादारों संग किया श्रमदान

मुस्लिम धर्मगुरु ने आपदा सहायता को श्री मुनि जी महाराज से की पेशकश

इनसानियत का तकाजा है कि मिलकर दर्द को बांटेः 
मौलाना कल्वे सादिक 

आज की यही इबादत कि सभी करें पीडि़तों की सेवाः स्वामी चिदानन्द सरस्वती 


 गंगा एक्शन परिवार के कम्प्यूटर विशेषज्ञों ने भी पहुंचाई ऑनलाइन राहत 
ऋषिकेश (राम महेश मिश्र)। पंजाब सरकार की स्वास्थ्य राज्य मंत्री नवजोत कौर सिद्धू उत्तराखण्ड त्रासदी के पीडि़तों के दुख-दर्द जानने ऋषिकेश के बस अड्डे पहुंचीं। उन्होंने अमृतसर और जालन्धर से आए डेढ़ दर्जन सेवादारों के साथ आपदा राहत सामग्री से लदे ट्रकों से स्वयं सामान उतरवाया। बस स्टेशन पर श्रमदान करके सफाई अभियान में हाथ बंटाया। त्रासदी के हताहतों एवं उनके परिजनों से मिलीं। वह बस अड्डे पर पंजाब से आए तीर्थयात्रियों से भी मिलीं। इस अवसर पर परमार्थ निकेतन के परमाध्यक्ष श्री स्वामी चिदानन्द सरस्वती ‘मुनि जी महाराज‘ सहित विभिन्न संस्थाओं के प्रतिनिधि भी मौजूद थे। उन्होंने छह ट्रकों से नई दिल्ली से लाई गई राहत सामग्री को अपने सेवादारों के साथ उतरवाया। उन्होंने स्वयं भी एक घण्टे तक श्रमदान किया। इसके बाद उन्होंने ऋषिकेश यात्रा बस अड्डा पहुँचकर परमार्थ निकेतन के शिविर के अलावा उत्तराखण्ड, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र आदि के राहत शिविरों एवं निर्मल आश्रम सहित विभिन्न सेवा केन्द्रों द्वारा दी जा रही सेवाओं को देखा। वह उत्तराखण्ड त्रासदी के पीडि़तों से मिलीं। उन्होंने पंजाब से आए तीर्थयात्रियों का हालचाल जाना और पंजाब सरकार की ओर से उन्हें जरूरी मदद दिलाई। उधर गंगा एक्शन परिवार से जुड़े कम्प्यूटर विशेषज्ञों ने परमार्थ राहत कैम्प में कम्प्यूटर स्टाल लगाकर पीडि़तों के परिजनों की मदद करने के लिए विभिन्न विवरणों को आन लाईन करके एक अभिनव सेवा की शुरुआत की है। उन्होंने खोए हुए तीर्थयात्रियों के विवरण उनके फोटो सहित इंटरनेट पर आन लाईन कर दिए हैं। अमरदीप कश्यप के समन्वयन में यह कम्प्यूटर विशेषज्ञ अन्य जानकारियों को भी आन लाईन करने की योजना को अंजाम दे रहे हैं। परिवार ने दो दर्जन मोबाईल्स एक काउण्टर पर रखकर पीडि़तों को देश भर में कहीं भी फोन करने की सुविधा भी प्रदान की है। उधर परमार्थ स्वास्थ्य शिविर में एक दर्जन से अधिक चिकित्सक अपनी सेवायें दे रहे हैं। परमार्थ प्रवक्ता ने बताया कि मशहूर शिया धर्मगुरू मौलाना कल्वे सादिक ने भी श्री स्वामी जी से बातचीत करके उत्तराखण्ड आपदा में सहायता करने की पेशकश की। उन्होंने कहा कि देवभूमि के पहाड़ों पर आफत ने कहर ढाया है। सभी तरफ प्रलय जैसी स्थितियों के दर्शन हो रहे हैं। मुसीबत की इन घडि़यों में हमारी मुस्लिम कम्युनिटी उत्तराखण्ड की जनता के साथ है। उन्होंने कहा कि इंसानियत का यही तकाजा है कि दर्द को मिलकर बाँटें। श्री स्वामी जी ने श्री सादिक से उत्तराखण्ड के ग्रामीण क्षेत्रों में स्थानीय जनता की सहायता और उनके पुनर्वास में मदद करने की बात कही। प्रवक्ता ने बताया कि इसी तरह श्रीश्री रविशंकर, श्री मोरारी बापू, सन्त रमेश भाई ओझा, श्री लोकेश मुनि, इमाम उमर अहमद इलियासी, श्री बलवन्त सिंह सीचेवाल आदि ने भी श्री मुनि जी महाराज से सम्पर्क करके उत्तराखण्ड के गाँवों के पुनर्वास में सहायता करने का पूरा कार्यक्रम बनाने का आग्रह किया है। देश के इन सभी प्रमुख धर्मगुरुओं ने गंगा एक्शन परिवार द्वारा इन सेवा कार्यों के अभियान का संयोजन व समन्वयन करने का आग्रह श्री स्वामी जी से किया है। श्री स्वामी चिदानन्द सरस्वती ने आज कहा कि प्रदेश में आई आफत की इस घड़ी में किसी सियासत या रियासत की नहीं, केवल एक ही इबादत की जरूरत है कि कुदरत के इस कहर के समय हम सब मिलकर काम करें। आज विवाद की नहीं, बल्कि परस्पर संवाद की आवश्यकता है। पूरी दुनिया इन दिनों हमारी ओर देख रही है कि उत्तराखण्ड राज्य और भारत देश कुदरत द्वारा दी गई इस आफत से किस तरह निपटता है और कैसे लोगों को पीड़ामुक्त करता है। उन्होंने कहा कि त्रासदी से पीडि़त जनता को राहत पहुँचाने का काम केवल सरकार का नहीं, बल्कि सभी का है, पूरे देश का है। उन्होंने सभी आध्यात्मिक एवं औद्योगिक शक्तियों से एक नए उत्तराखण्ड के पुर्ननिर्माण के लिए एकजुट होने का आह्वान किया है।
(अपनी बातों को जन-जन तक पहुंचाने व देश के लोकप्रिय न्यूज साइट पर समाचारों के प्रकाशन के लिए संपर्क करें- Email ID- contact@newsforall.in तथा फोन नं.- +91 8922002003.। अपने संस्थान के आंतरिक हलचल को मेल के द्वारा हमें बताएं। सूचना देने वाले के नाम, पता, फोन, इमेल आइडी पूरी तरह से गोपनीय रखा जाएगा।)
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: पंजाब की मंत्री नवजोत कौर ने सेवादारों संग किया श्रमदान Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल