ताज़ा ख़बर

स्वामी चिदानन्द सरस्वती ने दिए शिंदे को स्थाई समाधान के सुझाव

आपदा राहत के लिए परमार्थ निकेतन ने बीस बसें उत्तरकाशी भेजीं, ऋषिकेश बस अड्डे और रेलवे स्टेशन पर राहत शिविर का कार्य आरंभ, केन्द्रीय गृह मन्त्री सुशील कुमार शिंदे ने मुख्यमन्त्री समेत पूरे प्रशासनिक अमले के समक्ष श्री मुनि जी महाराज से हरिद्वार में की गहन मंत्रणा 
ऋषिकेश (राम महेश मिश्र)। उत्तराखंड में आई भीषण आपदा में फंसे लोगों को निकालकर तीर्थनगरी ऋषिकेश लाने तथा उन्हें उनके गन्तव्य स्थान तक पहुंचाने में मार्गदर्शन व सहायता करने के लिए परमार्थ निकेतन का पूरा तन्त्र जुट गया है। इस कड़ी में गंगा एक्शन परिवार तथा माइक्रोमेक्स आदि संस्थाओं के सहयोग से परमार्थ निकेतन द्वारा बीस बसें उत्तरकाशी के लिए रवाना की गईं। इन बसों से ऊपर फंसे तीर्थयात्रियों को ऋषिकेश लाया जा रहा है। गंगा एक्शन परिवार-परमार्थ निकेतन द्वारा बस स्टेशन व रेलवे स्टेशन समेत विभिन्न स्थानों पर आपदा राहत शिविर एवं चिकित्सा शिविर भी लगाए गए हैं। 22 जून को केन्द्रीय गृह मन्त्री सुशील कुमार शिंदे ने आपदा पीडि़त क्षेत्रों का हवाई दौरा करने के बाद स्वामी चिदानन्द सरस्वती से डाम कोठी हरिद्वार में मंत्रणा की। इस अवसर पर स्वामी रामानन्दाचार्य हंसदेवाचार्य, महन्त रवीन्द्र पुरी, स्वामी ऋषिश्वरानन्द मौजूद थे। इस बाबत परमार्थ के प्रवक्ता ने बताया कि परमार्थ निकेतन के परमाध्यक्ष श्री स्वामी चिदानन्द सरस्वती ‘मुनि जी महाराज‘ के निर्देश पर परमार्थ निकेतन की पूरी जनशक्ति को आपदा राहत कार्यों में लगा दिया गया है। आपदा पीडि़तों के निवास और भोजन के इन्तजाम के अलावा ऋषिकेश बस अड्डे एवं रेलवे स्टेशन पर राहत कैम्प व मेडिकल कैम्प लगाए गए हैं। ऊपर फंसे पीडि़तों को ऋषिकेश लाने के लिए परमार्थ प्रतिनिधि राजेश दीक्षित व अनिल कश्यप को बसों के साथ उत्तरकाशी भेजा गया है। ऋषिकेश पहुंचने पर सभी के निवास एवं भोजन की व्यवस्था परमार्थ निकेतन आश्रम में की गई है। उधर, ऋषिकेश बस स्टेशन पर आज प्रातःकाल परमार्थ राहत शिविर विधिवत शुरू हो गया। शिविर में दिन भर लोगों का आना-जाना जारी रहा, जिससे हजारों लोगों को राहत पहुंची। तीर्थयात्रियों को उनके घरों तक पहुंचने हेतु उन्हें रेलगाडि़यों एवं बसों आदि की जानकारी भी दी गई। परमार्थ निकेतन के लोकसेवी कार्यकर्ताओं तथा श्री दैवी सम्पद् अध्यात्म संस्कृत महाविद्यालय के ऋषि कुमारों ने आगन्तुकों के जलपान आदि की व्यवस्था की थी। इस शिविर की देखरेख का काम नरेन्द्र विष्ट व मोहन सिंह की टीम संभाल रही है। उधर डा.रवि कौशल एवं डा.प्रिया सिंह के समन्वयन में ऋषिकेश बस अड्डा एवं रेलवे स्टेशन पर स्वास्थ्य शिविर भी काम कर रहे हैं।
(अपनी बातों को जन-जन तक पहुंचाने व देश के लोकप्रिय न्यूज साइट पर समाचारों के प्रकाशन के लिए संपर्क करें- Email ID- contact@newsforall.in तथा फोन नं.- +91 8922002003.)
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: स्वामी चिदानन्द सरस्वती ने दिए शिंदे को स्थाई समाधान के सुझाव Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल