ताज़ा ख़बर

स्वामी चिदानन्द सरस्वती के जन्म दिन पर उमंग और उल्लास

परमार्थ निकेतन स्वयंसेवकों ने चलाया सफाई अभियान, कई आध्यात्मिक हस्तियों ने लिया गंगा आरती में हिस्सा 
ऋषिकेश। परमार्थ निकेतन के परमाध्यक्ष श्री स्वामी चिदानन्द सरस्वती ‘मुनि जी महाराज’ के 61 वें जन्म दिन पर 3 जून को सफाई अभियान चलाया गया। कार्यक्रम में श्री दैवी सम्पद् अध्यात्म संस्कृत महाविद्यालय के ऋषिकुमारों, कार्यकर्ताओं एवं साधकों ने भाग लिया। श्री मुनि जी महाराज के जन्मोत्सव पर लब्ध प्रतिष्ठित सन्तों ने तीर्थनगरी आकर उनके निरोग दीर्घ जीवन और उज्ज्वल भविष्य के लिए अपनी शुभकामनाएं दी। सफाई अभियान परमार्थ गंगा तट से शुरू हुआ और स्वर्गाश्रम क्षेत्र के गंगा तट, बाजार, स्वर्गाश्रम परिसर तथा लक्ष्मणझूला मार्ग से होता हुआ परमार्थ निकेतन आश्रम के पिछले द्वार पर सम्पन्न हुआ। मथुरा स्थित परमार्थ ट्रस्ट के प्रमुख महामण्डलेश्वर स्वामी असंगानन्द सरस्वती, स्वामी गुरुशरणानन्द, भारत माता मन्दिर समन्वय ट्रस्ट के कार्यकारी अध्यक्ष स्वामी गोविन्द गिरि, स्वामी धर्मदेव आदि श्री मुनि जी महाराज को जन्म दिन की शुभकामना देने परमार्थ पहुंचे। सायंकालीन गंगा आरती में इन प्रमुख सन्तों एवं देश के कोने-कोने से आए लोगों ने उन्हें अपनी मंगलकामना दी। लोगों ने श्री स्वामी जी के द्वारा समाज व राष्ट्र निर्माण हेतु किये गये कार्यों की सराहना की और उनके व्यक्तित्व व कृतित्व की तारीफ। इस अवसर पर साध्वी भगवती सरस्वती, राम अनन्त तिवारी, राम महेश मिश्र आदि कार्यकर्ता बड़ी संख्या मौजूद थे। उधर पाँच दिनों से परमार्थ परिसर में चल रही श्रीराम कथा का समापन 3 जून को हो गया। वृन्दावन से आए विद्वान कथावाचक श्री बृज बिहारी ठाकुर ने सैकड़ों श्रोताओं को प्रभु श्रीराम के प्रेरक प्रसंग सुनाए और उन्हें अपने जीवन में धारण करने की सलाह दी।
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: स्वामी चिदानन्द सरस्वती के जन्म दिन पर उमंग और उल्लास Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल