ताज़ा ख़बर

परमार्थ निकेतन से गई बीस बसों से सैकड़ों पीडि़त पहुंचे ऋषिकेश

परमार्थ आश्रम ने की सबके लिए भोजन आदि की व्यवस्था, राहत हेतु माइक्रोमैक्स सहित विभिन्न संस्थायें आईं गंगा एक्शन परिवार के साथ 
ऋषिकेश (राम महेश मिश्र)। परमार्थ निकेतन से भेजी गई बीस बसें उत्तरकाशी से ऋषिकेश पहुंची। आश्रम प्रतिनिधि राजेश कुमार दीक्षित एवं अनिल कश्यप की अगुवाई में उत्तरकाशी भेजी गई 20 बसों से 800 यात्रियों को तीर्थनगरी पहुंचाया गया। ऋषिकेश बस स्टेशन पहुंचने पर आश्रमाध्यक्ष श्री स्वामी चिदानन्द सरस्वती ‘मुनि जी महाराज‘ के नेतृत्व में गंगा एक्शन परिवार-परमार्थ निकेतन प्रतिनिधियों ने तीर्थयात्रियों की अगवानी की। इस अवसर पर स्वामी चिदानन्द सरस्वती ‘मुनि जी महाराज’ ने कहा कि उत्तराखण्ड इस समय गहरे संकट में है। उत्तराखण्ड भारत की मष्तक की तरह है, इसलिये प्रबुद्धजन इसे देश के भाल प्रदेश की संज्ञा देते हैं। उन्होंने कहा कि यह केवल उत्तराखण्ड की समस्या नहीं, बल्कि पूरे देश की समस्या है। उत्तराखण्ड सरकार तथा प्रदेश की सभी संस्थायें और उत्तराखण्डवासी देशभर से राज्य में आये तीर्थ यात्रियों व श्रद्धालुओं की हर तरह से मदद कर रहे हैं तथा उन्हें उनके घरों तक उन्हें सकुशल पहुंचाने में प्राणपण से लगे हुए हैं। श्री मुनि जी महाराज ने देश के सभी संस्थाओं से राज्य को इस समस्या से एकजुट होकर निपटने तथा नये उत्तराखण्ड के नवनिर्माण में जुटने का आह्वान किया। परमार्थ प्रवक्ता ने बताया कि ऋषिकेश बस अड्डे पर सफाई अभियान भी चलाया गया, जिसमें श्री स्वामी जी एवं साध्वी भगवती सरस्वती के नेतृत्व में परमार्थ गुरुकुल के ऋषिकुमारों एवं गंगा एक्शन परिवार, परमार्थ निकेतन के कार्यकर्ताओं ने श्रमदान किया। स्वच्छता कार्यक्रम में लगभग डेढ़ दर्जन विदेशी स्त्री-पुरुषों ने भी हाथ बंटाया। उन्होंने बताया कि बस स्टैण्ड पर कई कूड़ादान भी गंगा एक्शन परिवार द्वारा रखवाया गया है। आश्रम द्वारा तीर्थयात्रियों तक विभिन्न उद्घोषणा पहुँचाने के लिए लाउड स्पीकरों एवं मेगा फोन भी प्रशासन को उपलब्ध कराये गये हैं।
(अपनी बातों को जन-जन तक पहुंचाने व देश के लोकप्रिय न्यूज साइट पर समाचारों के प्रकाशन के लिए संपर्क करें- Email ID- contact@newsforall.in तथा फोन नं.- +91 8922002003.)
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: परमार्थ निकेतन से गई बीस बसों से सैकड़ों पीडि़त पहुंचे ऋषिकेश Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल