ताज़ा ख़बर

केदारनाथ मंदिरः कुदरत के कहर से पहले और अब

केदारनाथ। कुदरत के कहर ने केदारनाथ में किस कदर तबाही मचाई है। दो तस्वीरों के जरिए इसे आसानी से समझ सकते हैं कि केदारनाथ धाम में मंदिर को कितना नुकसान पहुंचा है। तबाही के पहले का केदारनाथ धाम अपनी पूरी आन-बान-शान के साथ खड़ा था और अब तबाही के बाद की केदारनाथ धाम की ताजा तस्वीरों में साफ दिख रहा है कि पानी और पत्थरों ने यहां किसी को नहीं बख्शा। मंदिर का चबूतरा अब कहीं नजर नहीं आ रहा है। जमीन से करीब 12 फीट ऊंचाई पर बना ये चबूतरा पूरी तरह तबाह हो चुका है। चबूतरे के चारों ओर लगी लोहे की रेलिंग अब कहीं नजर नहीं आ रही है। रास्ते से मंदिर तक जाने वाली सारी सीढ़ियां भी खत्म हो गई हैं। मंदिर तक पहुंचने वाला रास्ता भी मलबे में दब चुका है। पुरानी तस्वीर में मंदिर के आसपास कई दुकानें दिख रही हैं लेकिन ताजा तस्वीर में मंदिर के आसपास की दुकानें बाढ़ में बह गई हैं और जो बची हैं वो खंडहर हो चुकी हैं। यही हाल मंदिर के आसपास बने होटलों का भी है। इनका तो नामोनिशान ही नहीं दिख रहा। बात करें मंदिर के प्रवेश द्वार पर बैठे नंदी की प्रतिमा की तो वो अभी सही सलामत है। चश्मदीदों का कहना है कि मंदिर के भीतर शिवलिंग को भी नुकसान नहीं पहुंचा है। हालांकि वहां तक अभी किसी की नजर नहीं पहुंच पाई है। (आईबीएन)
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: केदारनाथ मंदिरः कुदरत के कहर से पहले और अब Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल