ताज़ा ख़बर

ई-मैक्स का बाल श्रम रोकने का प्रयास

चंडीगढ़। ई-मैक्स ग्रुप ऑफ इंस्टीटयूशन के युवा कल्ब के सदस्यों ने बाल श्रम रोको दिवस पर कालिज के फैक्लटी मैंबर्स के साथ मिलकर बाल श्रम रोकने के लिए बाल श्रमिकों और उनके माता-पिता को जागरूक किया। इस कार्यक्रम के अंतर्गत युवा कल्ब के नेतृत्व में टीमें बनायी गयी जिन्होंने कालेज के आसपास के क्षेत्रो में बाल श्रमिकों और उनके माता-पिता को शिक्षा के प्रति सचेत कराया तथा श्रमिकों के बच्चों में कापी किताब इत्यादि भी वितरित की। बाल श्रमिकों के माता पिता को निकटवर्ती स्कूल में बारे में जानकारी देते हुए उन्हें बालश्रम कराने के लिए सरकार ने क्या-क्या दण्ड निर्धारित किये हैं से भी अवगत कराया। कार्यक्रम के लिए कालेज के फैक्लटी मैंबर्स में बड़ा उत्साह दिखाई दिया। उन्होने बाल श्रमिकों के मालिकों को सरकार द्वारा निर्धारित दण्ड के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि 14 वर्ष से कम आयु के बच्चों को काम कर लगाना एक दण्डनीय अपराध है और दोषी पाये जाने पर 20 हजार रूपये तक का जुर्माना या एक वर्ष तक का कारावास या दोनों हो सकते है। कार्यक्रम के दौरान क्षेत्र के विभिन्न श्रमिक स्थलों को चुना गया जिसमें झुग्गी झोपड़ी वाली बस्तियां, ईंट बनाने वाले भट्टे, निर्माण स्थल इत्यादि पर जाकर श्रमिकों के परिवारों का जायजा लिया गया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से मैकेनिकल विभागाध्यक्ष डा. जय सिंह, बीएड के विभागाध्यक्ष विजय कुमार, ई-मैक्स इंस्टीटयूट आफ कम्प्यूटर एण्ड एप्लीकेशन के डायरेक्टर डा.बीएस जसवाल, एमबीए विभागाध्यक्ष डा.रेनू अरोड़ा, जसप्रीत कौर, नीतू, मीनाक्षी, पायल अग्रवाल एवं ई-मैक्स ग्रुप के मीडिया हेड प्रवीन शर्मा उपस्थित थे। कालेज के चैयरमैन पीआर बंसल ने विशेष संदेश में कहा कि इस प्रकार के सामाजिक कार्यों में भाग लेने से विधार्थियो में सामाजिक जिम्मेदारी की भावना बढ़ती है। उन्होंने कहा बच्चे देश का भविष्य है और कुछ लोग बच्चों के भविष्य से खिलवाड़ कर रहे हैं। मैंने उन्हे अवगत कराना चाहता हूं इस प्रकार के बालश्रम को पूर्णविराम लगाकर बच्चों को पढ़ने के लिए उत्साहित करें ताकि आने वाली पीढ़ी शत-प्रतिशत साक्षर हो तथा देश निर्माण में पूर्णत: सहयोग दे सके। ई-मैक्स ग्रुप के मैनेजिंग डायरेक्टर प्रदीप अग्रवाल ने कहा कि यह हमारे लिए शर्म की बात है कि जिस उम्र में बच्चें को खेलना-पढ़ना चाहिए उस उम्र में हम उन्हें विभिन्न प्रकार के कार्यों में लगाकर उनके भविष्य से खिलवाड़ करते हैं। हमें इसे रोकना होगा क्योकि बच्चे ही हमारे देश का भविष्य है।
(अपनी बातों को जन-जन तक पहुंचाने व देश के लोकप्रिय न्यूज साइट पर समाचारों के प्रकाशन के लिए संपर्क करें- Email ID- contact@newsforall.in तथा फोन नं.- +91 8922002003.)
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: ई-मैक्स का बाल श्रम रोकने का प्रयास Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल