ताज़ा ख़बर

जनसत्ता के संपादक ओम थानवी ने दी भड़ास के संपादक यशवंत को मुबारकवाद

नई दिल्ली। भड़ास के पांच वर्ष पूरे होने पर अपनी शुभकामना संदेश में जनसत्ता के संपादक व देश के चर्चित एवं वरिष्ठ पत्रकार ओम थानवी ने लिखा है कि मैं अमर सिंह के भ्रष्टाचार वाले टेप सुनना चाहता था, फौरन मुझे 'भड़ास4मीडिया' की शरण में जाना पड़ा। ऐसे ही राडिया कांड की रिकॉर्डिंग मुझे आसानी से 'भड़ास' पर मिल गयी। पिछले 5 वर्षों में 'भड़ास' ने लम्बा सफ़र तय कर लिया है। मीडिया में इतनी जगह बनाने में बरस लग जाते हैं, वह भी पर्याप्त साधन झोंकने के बावजूद। जहां तक मुझे जानकारी है, यशवंत सिंह काफी समय तक अकेले ही इस उद्यम को स्थापित करने में जुटे रहे। उनका पोर्टल या वेब पत्रिका, कुछ भी नाम दें, हिंदी के मीडियाकर्मियों में अब अपनी अलग पहचान और जगह बना चुका है। मेरे पुराने सहयोगी शम्भूनाथ शुक्ल ने बताया कि 'भड़ास' को रोज कोई 5 लाख लोग देखते हैं। यशवंत सिंह का कहना है कि प्रतिदिन नौ लाख से लेकर साढ़े बारह लाख तक हिट्स भड़ास4मीडिया के हिस्से में आती है। यह अपने आपमें एक उपलब्धि भरा आंकड़ा है। मुझे नहीं ख्याल पड़ता कि पहले मीडिया जगत की हलचल और मीडियाकर्मियों की आवाजाही को इतनी तवज्जो कहीं मिला करती होगी। इक्की-दुक्की पत्रिकाएं मीडिया को लेकर निकलती हैं, लेकिन उनमें आम मीडियाकर्मियों की गतिविधियों को कोई जगह नहीं मिल पाती। 'भड़ास' में यह जगह पर्याप्त होती है और निरंतर ये गतिविधियाँ अपडेट होती रहती हैं। मैं 5वीं सालगिरह के मौके पर यशवंतजी को मुबारकवाद देता हूं और उनकी उत्तरोतर सफलता की कामना करता हूं। यशवंत सिंह अच्छा गाते भी हैं। कितना अच्छा हो 5वीं सालगिरह के मौके पर अपनी बुलंद आवाज में कोई ओजस्वी कविता 'भड़ास' पर पोस्ट कर दें। 5वीं सालगिरह की अनुगूंज शब्दों में ही नहीं, स्वरों में भी दूर-दूर तक पहुंचनी चाहिए।(साभार भड़ास)
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

आपकी प्रतिक्रियाएँ क्रांति की पहल हैं, इसलिए अपनी प्रतिक्रियाएँ ज़रूर व्यक्त करें।

Item Reviewed: जनसत्ता के संपादक ओम थानवी ने दी भड़ास के संपादक यशवंत को मुबारकवाद Rating: 5 Reviewed By: न्यूज़ फ़ॉर ऑल